Bike care Tips: आपकी बाइक चलेगी सालों-साल बस इन जरूरी बातों का रखें ध्यान

बाइक (मोटरसाइकिल ) से राइड करना काफी मजेदार रहता है। ज्यादा माइलेज के चलते यह किफायती भी रहती है।अक्सर हम बाइक से डेली ऑफिस जाते हैं या फिर दूसरे कामों के लिए बाइक का इस्तेमाल करते हैं। लेकिन अक्सर समय पर बाइक पर ठीक प्रकार से ध्यान न दे पाने की वजह से ये जल्दी जल्दी खराब होने लगती है। ऐसे में हम आपको कुछ खास और आसान टिप्स बता रहे हैं जिनकी मदद से आप खुद ही अपनी बाइक को मेंटेन कर सकते हैं और सर्विस का खर्चा बचा सकते हैं। यहां हम आपको टायर्स प्रेशर से लेकर इंजन ऑयल तक के बारे में जानकारी दे रहे हैं।

टायर्स में एयर प्रेशर सही रखें

बाइक के टायर्स में हवा का प्रेशर सही रखना चाहिए, हफ्ते में एक बार अपनी बाइक के दोनों टायर्स में एयर प्रेशर चेक करें। अक्सर लोग अपनी मर्जी से टायर्स में एयर डलवा लेते हैं लेकिन टायर्स में उतनी ही हवा डलवायें जितना कंपनी ने बताया है।आप चाहें तो टायर्स में नाइट्रोजन का इस्तेमाल कर सकते हैं जोकि काफी बेहतर मानी जाती है। याद रहे अगर आप हाइवे पर ज्यादा चलते हैं तो आपके टायर्स में हवा 2 या 3 पॉइंट कम ही होनी चाहिए, ऐसा करने से टायर्स के ब्लास्ट होने की संभावना काफी कम हो जाती है।

अच्छी क्वालिटी का इंजन ऑयल करें इस्तेमाल

वैसे तो सर्विस के समय इंजन ऑयल चेंज कर दिया जाता है, लेकिन फिर भी हर 2000 से 5000 किलोमीटर के बाद इंजन ऑयल को चैक करते रहें और अगर इंजन ऑयल कम हो गया हो या काला पड़ गया हो तो आप इसे चेंज करवा सकते हैं। वैसे तो मार्किट में आपको कई ब्रांड्स के इंजन ऑयल आसानी से मिल जायेंगे जोकि अच्छे हैं लेकिन हाल ही में ऑटोमोटिव कंपोनेंट्स कंपनी  स्टीलबर्ड इंटरनेशनल ने हाल ही में बाइक (मोटरसाइकिल) के लिए इंजन ऑयल की नई रेंज को मार्केट में उतारा है। ये लुब्रिकेंट्स इंटरनेशनल स्टैण्डर्ड को फॉलो करते हैं। स्टीलबर्ड 4T इंजन ऑयल SAE 15W50 API सेमी सिंथेटिक को टेस्ट किया। यह ऑयल काफी बेहतर है इससे न सिर्फ पिकअप  अच्छा हुआ बल्कि इंजन भी काफी स्मूथ परफॉरमेंस देने लगा। इस ऑयल की क्वालिटी काफी प्रीमियम है। यहऑयल इंजन को सुरक्षा कवच देता है और लंबे समय तक साथ देता है। इंजन ऑयल को आप सर्विस सेंटर पर जाकर चेंज करवा सकते हैं, या फिर आप अपने घर भी यह काम कर सकते हैं लेकिन घर सावधानी के साथ यह काम करें।

एयर फिल्टर बदलें

बेहतर परफॉरमेंस के लिए बाइक का एयर फिल्टर साफ़ रखें और हर 1500km से 2000km पर एयर फिल्टर बदल लेना चाहिए। एयर फिल्टर बाइक की सीट के नीचे लगा होता है, जिसे आसानी से बदला जा सकता है। एयरफ़िल्टर भी ओरिजिनल होना चाहिए।

चेन को साफ करें

बाइक की चेन को रेगुलर साफ करें। गंदी चेन से बाइक की परफॉरमेंस ख़राब होती है। चेन पर ग्रीस का इस्तेमाल बिलकुल न करें, क्योंकि ऐसा करने से रोटेशन में दिक्कत होती है और पकड़ कमजोर पड़ती है  साथ ग्रीस की वजह से गंदी भी जल्दी होती है। चेन की सेटिंग भी बेहद जरूरी है।