अगर इन 5 बातों का नहीं रखा ध्यान तो आपकी डीजल कार पड़ सकती है भारी! होगा तगड़ा नुकसान

डीजल इंजन पेट्रोल इंजन की तुलना में काफी महंगे साबित होते हैं। इतना ही नहीं, अगर आप सर्विस के मामले में चूक गए हैं, तो मामला और खराब हो जाते हैं और खर्चा ज्यादा हो जाता है।

50244

भारत में कुछ ब्रांड्स ने डीजल इंजन बनाना बंद कर दिया है, जिनमें मारुति सुजुकी (maruti suzuki) टॉप पर है, लेकिन अभी भी दूसरे ब्रांड्स की डीजल कारें काफी बिक रही हैं और काफी लोगों के पास पहले से ही डीजल कारें मौजूद हैं। एक समय था, जब लोग पेट्रोल की तुलना में डीजल कारें खरीदना पसंद करते थे, क्योंकि उस समय पेट्रोल और डीजल की कीमत में काफी अंतर था। माइलेज के मामले में डीजल कारें काफी आगे रहती हैं, लेकिन बात रखरखाव की आती है तब डीजल इंजन पेट्रोल इंजन की तुलना में काफी महंगे साबित होते हैं। इतना ही नहीं, अगर आप सर्विस के मामले में चूक गए हैं, तो मामला और खराब हो जाते हैं और खर्चा ज्यादा हो जाता है।

इसलिए ऑटो एक्सपर्ट भी यही सलाह देते हैं कि डीजल कारों की सर्विस समय पर होना बेहद जरूरी है। अक्सर यह देखने में आता है कि लोग डीजल की कारों की मेंटिनेंस करवाने में लापरवाही बरतते हैं, जिस वजह से गाड़ी के इंजन में काफी दिक्कत हो सकती है। आइए आपको बताते हैं कि डीजल कारों की मेंटिनेंस कैसे की जा सकती है।  

ऑयल चेंज

डीजल इंजन को सही रखने के लिए लुब्रिकैंट का इस्तेमाल किया जाता है और आपको समय-समय पर इंजन ऑयल और ऑयल फिल्टर बदलना चाहिए। जब आपकी कार का ऑयल काला पड़ जाए, तो उसे तुरंत बदल देना चाहिए। इसके साथ ही इंजन ऑयल को जरूरत पड़ने पर टॉप-अप भी करवाते रहना चाहिए। अगर आपकी कार का इंजन ऑयल बार-बार काला पड़ रहा है, तो उसे बिल्कुल नज़रअंदाज नहीं करें।   

फ्यूल फिल्टर

कार में फ्यूल फिल्टर एक बेहद अहम भूमिका निभाता है। यह पूरे फ्यूल को साफ रखने में मदद करता है और अगर आप इसे समय-समय पर चेक नहीं करते हैं, तो आपकी कार को भारी नुकसान उठाना पड़ सकता है। फ्यूल फिल्टर ज्यादा महंगा भी नहीं आता है, लेकिन यह आपके कार इंजन को सुरक्षित रखने में मदद करता है।  

रेगुलर कूलैंट चेक करें

डीजल इंजन पेट्रोल इंजन के मुकाबले जल्दी गर्म होता है, इसलिए कूलैंट का काम बढ़ जाता है। आपको कूलैंट को समय-समय पर चेक करते रहना चाहिए और अगर कूलैंट कम लगे तो उसे टॉप-अप करवा लेना चाहिए। कूलैंट के कम होने पर आपके कार के इंजन को नुकसान पहुंच सकता है। आपको यह भी ध्यान रखना चाहिए कि कहीं कूलैंट लीक तो नहीं हो रहा और अगर ऐसा है, तो उसे तुरंत ठीक करवाना चाहिए।  

इंजन की साफ-सफाई

गाड़ी के इंजन पर जमी धूल-मिट्टी को समय-समय साफ करते रहना चाहिए। इंजन पर जमी हुई धूल-मिट्टी काफी हद तक आपके इंजन को नुकसान पहुंचा सकती है। इसलिए इंजन को ब्रश या कपड़े से क्लीन करते रहना चाहिए। 
यह भी पढ़ें: सिर्फ 50 हजार देकर ले आएं सबसे सस्ती Maruti की ये कार, 34Km की माइलेज, EMI बनेगी महज इतनी

एयर फिल्टर

एयर फिल्टर आपके इंजन के पार्ट्स को अच्छे से फंक्शन करने में मदद करता है, इसलिए इनकी क्लीनिंग भी बहुत जरूरी होती है। इसके लिए आपको इसे समय-समय पर चेक करते रहना चाहिए और जरूरत पड़ने पर चेंज भी करवा लेना चाहिए। 

अगर आप इन सभी जरूरी बातों का ध्यान रखेंगे तो आपकी डीजल कार भी बिना किसी टेंशन के बढ़िया परफॉरमेंस देगी और ब्रेक डाउन का शिकार नहीं होगी। अगर आपने इन सब बातों को इग्नोर किया तो फिर आपको तगड़ा नुकसान हो सकता है।

Web Stories