बाइक या स्कूटर चलाते समय हो सकता है कोरोना वायरस का खतरा, बचने के लिए करें ये काम

सांकेतिक तस्वीर

इस समय पूरी दुनिया कोरोना वायरस से परेशान है। इस वायरस से बचने के लिए सरकार काफी उचित कदम उठा रही है। लोग घरों से ही काम कर रहे हैं हांलाकि ऐसा नहीं है कि घर से बाहर लोग नहीं निकला रहे हैं या काम पर नहीं जा रहे हैं लेकिन खतरा अभी खत्म नहीं हुआ है। जो कार से ऑफिस या किसी काम से जा रहे हैं वो फिर भी कार में बैठे है और अपने आप सुरक्षित महसूस भी कर सकते हैं क्योंकि कार की विंडो बंद होती हैं लेकिन उनका क्या जो लोग बाइक/स्कूटर पर निकलते हैं। कोरोना वायरस का खतरा टू-व्हीलर पर चलने वालों के लिए भी काफी ज्यादा रहता है, क्योंकि रोड्स पर भीड़ रहती है, और अक्सर रेड लाइट पर आपको खड़ा भी रहन पड़ता है जोकि फिलहाल सुरक्षित नहीं है, क्या पता आपके बगल वाला कोरोना से संक्रमित हो । अब ऐसे में अगर कुछ जरूरी बातों का ध्यान रखा जाए तो आप अपने आप सुरक्षित रख सकते हैं। संक्रमण के इस दौर में बाइक या स्कूटर पर चलने वाले लोग अपने आप को कैसे सुरक्षित रख सकते हैं इस रिपोर्ट में हम आपको बता रहे हैं।

मास्क पहने

चाहे कुछ भी हो जाए बिना मास्क के घर से बाहर न निकलें। बाइक-स्कूटर चलाते समय मास्क जरूर पहने और याद रहे मास्क किसी अच्छी कंपनी का ही होना चाहिए,अगर हो सके दो डबल मास्क का इस्तेमाल करसकते हैं। देखने में आता है कि अक्सर लोग मास्क की जगह किसी कपड़े या हेन्की का इस्तेमाल करते हैं जोकि सही नहीं है। मास्क लगाने के बाद उसे बार-बार टच न करें, ऐसा करना खतरनाक साबित हो सकता है। यह भी पढ़ें: Tata की कारों के पीछे दीवाने हुए लोग हुए, पिछले महीने बना दिया बिक्री का नया रिकॉर्ड

हेलमेट पहने

टू-व्हीलर चलाते समय वैसे तो हमेशा ही हेलमेट पहनना जरूर है लेकिन  संक्रमण के इस दौर में बाइक और स्कूटर चलाते समय हेलमेट जरूर पहने। ध्यान रहे हेलमेट फुलफेस होना जरूरी है। हाफ फेस हेलमेट सेफ्टी के लिहाज से भी सही नहीं होता। मास्क एंड हेलमेट जरूर पहने तभी टू-व्हीलर पर निकलें।

ग्लव्स और से​नेटाइजर का इस्तेमाल

टू-व्हीलर चलाने से पहले उसे ठीक से सेनेटाइज करें क्योंकि यह बेहद जरूरी है। इतना ही नहीं जब वापस घर आ जाए तब भी वाहन को  से​नेटाइज करें, और अपने हाथों को भी से​नेटाइज करें। एक बात का ध्यान रखें, टू-व्हीलर चलाते समय ग्लव्स का इस्तेमाल जरूर करें क्योंकि यह सेफ्टी के लिहाज से यह जरूरी है। ग्लव्स को भी सेनेटाइज करें।

भीड़-भाड़ वाली जगहों पर जानें से बचें

जहां तक संभव हो ऐसे रास्तों पर जाने से बचें जहां ज्यादा ट्रैफिक हो या भीड़ हो क्योंकि संक्रमण का खतरा सबसे ज्यादा ऐसी ही जगहों पर होता है, क्योंकि कई लोग वहां पर ऐसे ही मौजूद हो सकते हैं जो संक्रमित हो और उनके आपको भी खतरा हो सकता है। इसलिए जहां तक संभव हो ऐसी जगहों पर जाने से बचें और आप चाहें तो गूगल मैप का इस्तेमाल कर सकते हैं जिससे आपको ट्रैफिक का भी आइडिया लग जाएगा। अगर आप भी इन जरूरी बातों का ध्यान रखेंगे तो आप अपने आप सुरक्षित रख सकते हैं।