खरीदने जा रहे हैं नई डीजल कार? रुकिए, भारत में बंद हो सकती हैं ये 4 डीजल कारें, देखिये लिस्ट

अगर आप इन दिनों एक नई डीजल कार खरीदने की सोच रहे हैं, तो इस रिपोर्ट पर जरूर गौर करें...

अगर आप इस समय नई डीजल कार खरीदने की सोच रहे हैं, तो रुकिए। देश में अगले साल अप्रैल (1 April 2023) से Real Driving Emission norms यानी एमिशन रेगुलेशन लागू होने जा रहे हैं। इसके लागू होने के बाद देश में नई डीजल कारों को बंद कर दिया जाएगा। ऐसे में हुंडई और होंडा की डीजल कारें भी देश में बंद हो सकती हैं। जानकारी के लिए बता दें कि मारुति सुजुकी, रेनो-निसान और VW Group ने पहले ही भारतीय बाजार के लिए ग्रीन पेट्रोल फ्यूल ऑप्शन को अपनाया है। आइये जानते हैं कौन-कौन-सी डीजल कारें बंद होने जा रही हैं। अगर आप इन दिनों एक नई डीजल कार खरीदने की सोच रहे हैं, तो इस रिपोर्ट पर जरूर गौर करें…

Hyundai i20 Diesel

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, हुंडई मोटर इंडिया भारत में अपनी पॉपुलर हैचबैक कार i20 डीजल को बंद कर देगी। इस साल i20 की कुल सेल में डीजल वैरियंट की हिस्सेदारी 10 प्रतिशत रही है। लगातार इसकी बिक्री गिर रही है। वहीं कंपनी Grand i10 Nios और Aura कॉम्पैक्ट सेडान के डीजल वर्जन को पहले ही बंद कर चुकी है। रिपोर्ट्स के मुताबिक, हुंडई ने हर महीने i20 Diesel लगभग 700 यूनिट्स ही बेची हैं। इस कार में 1.5-लीटर टर्बो डीजल इंजन मिलता है। अब इंजन काफी तगड़ा है और यही इंजन Venue, Creta और Alcazar को भी पावर देता है। खबर यह भी है कि नए RDE नॉर्म्स को पूरा करने के लिए 1.5-लीटर CRDi डीजल इंजन को अपग्रेड किया जा सकता है।

यह भी पढ़ेंः अब बढ़ेगी गाड़ियों में सेफ्टी, ADAS फीचर के साथ जल्द लॉन्च होने जा रही हैं ये पॉपुलर SUV

Honda City

Honda City, Honda WR-V और Honda Amaze Diesel भी होंगी बंद

रिपोर्ट्स के मुताबिक, होंडा कार्स इंडिया अपनी सभी डीजल कारों को बंद करने वाली है। 2023 में नए एमिशन रेगुलेशन लागू होने पर कंपनी 1.5-लीटर डीजल इंजन को बंद कर देगी। कंपनी के मुताबिक, नए रियल ड्राइविंग एमिशन नॉर्म्स को मौजूदा डीजल इंजन के साथ फॉलो करना मुश्किल होगा। ऐसे में इनके बंद होने की उम्मीद काफी ज्यादा है।इस समय होंडा के पास 1.5 लीटर डीजल इंजन है, जोकि City, WR-V और अमेज को पावर देता है। रिपोर्ट्स की मानें, तो कंपनी जल्द ही भारतीय बाजार से WR-V और Jazz नेमप्लेट को बंद कर देगी। लेकिन कंपनी बाजार के लिए हाइब्रिड टेक्नोलॉजी से लैस गाड़ियों पर फोकस कर रही हैं।

यह भी पढ़ें: इन कारों के लिए लग गई है लंबी लाइन, खरीदने के लिए अभी करना होगा महीनों का इंतजार


No posts to display