दिसंबर के महीने में कार खरीदते समय इन बातों का रखने ध्यान, वरना लग सकता है चूना

Car Buying Tips

दिसंबर का महीना वैसे तो एक नई कार खरीदने के लिए काफी अच्छा मन जाता है क्योंकि कार कंपनियां साल के आखिरी महीने में स्टॉक क्लियर करती है, जिसके चलते गाड़ियों पर अच्छा खासा डिस्काउंट दिया जाता है और कई ऑफर्स भी दिए जाते हैं। अगर आप इस महीने एक नई कार खरीदने की सोच रहे हैं तो कुछ जरूरी बातों का ध्यान रखा जाए तो आप न सिर्फ अच्छा डिस्काउंट पा सकते हैं बल्कि ठगी से भी बचा जा सकता है।  जी हां कार डीलर एक नई कार बेचते समय किस तरह आपको चूना लगाते हैं? इन्हीं बातों के बारे में आज हम आपको बता रहे हैं।

जल्दबाजी करने से बचें

नई कार खरीदते समय कभी भी किसी मॉडल को लेकर ज्यादा जल्दबाज़ी भी करना सही नहीं है, क्योंकि ऐसा देखकर सेल्समैन आपसे ज्यादा पैसे वसूल करने की कोशिश करेगा। आपको बता दें कि सेल्समैन को फाइनेंस और इंश्योरेंस में भी कमीशन मिलता है। इसमें भी ज्यादा से ज्यादा मोलभाव करें। इसलिए नॉर्मल शो-रूम में जायें और सब कुछ पता करने के बाद ही कार खरीदें। यह भी पढ़ें: Volkswagen ने पेश किया Polo का नया ऑटोमेटिक वेरिएंट, इन खास फीचर्स को किया शामिल

जानें डिस्काउंट का असली सच

हम सभी जानते हैं कि कार कंपनियां उन्हीं मॉडल्स पर ज्यादा डिस्काउंट और ऑफर्स देती हैं जिनकी बिक्री कम होती है। ताकि वो पुराना स्टॉक क्लियर कर सकें, इतना ही नहीं जिन कारों पर वेटिंग चल रही हैं या जो एक दम नया मॉडल होता है उस पर जल्दी से कोई डिस्काउंट नहीं मिलता। ऐसे में अच्छी डील के लिए आप  शोरूम में उपलब्ध मॉडल को ही सिलेक्ट करते हैं तो आप ज्यादा से ज्यादा पैसे बचा पाएंगे। 

एक्सेसरिज का खेल

एक बात याद रखें कार खरीदते समय सेल्समैन आपको कार एक्सेसरिज के बारे में भी जरूर बताएगा । सेल्समैन आपको इंटीरियर कारपेट, सीट कवर्स, स्टीरियो सिस्टम, पार्किंग सेंसर और ना जाने कितने ही चीजें लगवाने को बोलेगा, और इनकी कीमत भी काफी ज्यादा बताएगा, लेकिन ये सब सामान आप लोकल मार्केट में कम कीमत आसानी से लगवा सकते हैं और आपके पास ऑप्शन भी काफी ज्यादा होंगे।  इतना ही  अगर कोई सेल्समैन आपको बोलता है कि इस कार के साथ आपको 15000 रुपये की एक्सेसरिज फ्री दी जा रही है तो एक्सेसरिज की जगह  उतनी ही कीमत का डिस्काउंट मांग लीजिये और वही एक्सेसरिज बाहर से लगवा लें, आपको सस्ती पड़ेगी और कई ऑप्शन भी आपको मिल जायेंगे। अगर आप ओपन मार्केट से कोई भी एक्सेसरिज लगवा रहे हैं तो इस बात पर भी ध्यान दें कि सामान लोकल तो नहीं है ? साथ ही बिल जरूर लें। यह भी पढ़ें: आ रही है 480km की रेंज देने वाली नई इलेक्ट्रिक SUV, भारत में होगी जल्द लॉन्च

एक्सचेंज करते समय ध्यान दें

अगर आप नई कार खरीदते समय अपनी पुरानी कार एक्सचेंज करने जा रहे हैं तो इसमें आपको ज्यादा फायदा नहीं होने वाला क्योंकि शो-रूम वाले आपकी पुरानी कार की सही वैल्यू नहीं लगाते, आपको यह कहा जाता है कि “ इस मॉडल की कोई वैल्यू नहीं है, ये मॉडल अच्छा नहीं है, इससे ज्यादा आपको दाम नहीं मिलेंगे” और वो आसानी से आपकी कार को कम दाम में एक्सचेंज करवा लेते हैं । इसलिए कभी भी कार को डीलर से एक्सचेंज ना करें, हमेशा ओपन मार्केट में ही बेचें। यहां आपको ज्यादा कीमत मिलेगी। 

बिक्री का टारगेट

हर कार सेल्समैन और डीलर के पास कार बिक्री का टारगेट होता है जो महीना पूरा होने तक पूरा करना होता है। इसलिए कार खरीदने के लिए अगर आप महीने के आखिरी दिनों में जायेंगे तो आपको फायदा होगा, आप खुलकर मोल-भाव करें। बिलकुल न हिचकिचाएं और जितना हो सके पैसे कम करा लें।