भारत में इस इलेक्ट्रिक कार की डिमांड हुई काफी तेज, पिछले महीने हुईं सबसे ज्यादा बुकिंग

भारत में इलेक्ट्रिक गाडियां बस कुछ ही हैं और ऐसे में किसी गाड़ी की डिमांड में इज़ाफ़ा हो तो यह एक बड़ी बात है। ऐसे में कम्पनी के अनुसार एमजी मोटर्स की ZS EV की अगस्त महीने में अब तक की सबसे ज्यादा बुकिंग मिली है। एमजी मोटर इंडिया के प्रेसिडेंट और मैनेजिंग डायरेक्टर राजीव छावा ने बताया कि अगस्त में कार ने 700 बुकिंग का आंकड़ा पार कर लिया। उन्होंने इस बात की घोषणा सोशल मीडिया पोस्ट के जरिए की।

भारत में अभी इलेक्ट्रिक वाहनों के लिए वो क्रेज देखने को नहीं मिलता जो पेट्रोल और डीज़ल के वाहनों के लिए है। पर यह कहना भी गलत नहीं होगा कि पिछले कुछ टाइम से पेट्रोल और  डीज़ल की लगातार बढ़ती कीमतों की वजह से अब शायद इलेक्ट्रिक वाहनों की डिमांड बढ़ रही है। इस साल  2020-21 में इलेक्ट्रिक चार-पहिया वाहनों की बिक्री में पिछले साल की तुलना में 53 प्रतिशत की ग्रोथ दर्ज की गई है। अभी देखें तो Tata Nexon EV देश में सबसे ज्यादा बिकने वाली इलेक्ट्रिक पैसेंजर कार बनी हुई है। नेक्सॉन ईवी की एक महीने में लगभग 500 यूनिट्स बिक रही है, जबकि MG ZS EV की लगभग 250 से 300 यूनिट्स ही बिक पाती है। 

कीमत और इंजन

भारत में MG ZS EV का अपडेटेड वर्शन फरवरी 2021 में लॉन्च किया गया था। यह इलेक्ट्रिक SUV दो ट्रिम्स- एक्साइट और एक्सक्लूसिव में आती है। बात इसकी कीमत की करें तो यह 20.99 लाख रुपये से शुरू होती है, और टॉप वेरिएंट आपको 24.18 लाख रुपये (एक्स-शोरूम दिल्ली) में मिलता है। इसमें आपको 44.5 kWh का बैटरी पैक मिलता है, जो 141 बीएचपी और 353 एनएम का पीक टॉर्क जेनरेट करता है। फुल चार्ज होने पर इस इलेक्ट्रिक एसयूवी में अधिकतम 419 किमी तक की आपको रेंज मिल जाएगी।

फीचर्स

फीचर्स की बात करें तो इसमें एंड्रॉइड ऑटो और ऐप्पल कारप्ले के साथ 8-इंच इंफोटेनमेंट सिस्टम दिया गया है। इसके अलावा एक पैनोरमिक सनरूफ, क्रूज़ कंट्रोल,इनबिल्ट एयर प्यूरीफायर,ऑटो एसी, प्रोजेक्टर हेडलैंप और कनेक्टेड कार टेक्नोलॉजी मिलती है। सेफ्टी के लिहाज़ से आपको ZS EV में 6 एयरबैग, ABS के साथ EBD, ब्रेक असिस्ट, इलेक्ट्रॉनिक स्टेबिलिटी कंट्रोल (ESC) और हिल डिसेंट कंट्रोल दिया गया है।

बढ़ रहा है इलेक्ट्रिक गाड़ियों का क्रेज़

जब से देश में पेट्रोल और डीजल की कीमतों में इजाफा हुआ है ठीक उसी समस इलेक्ट्रिक गाड़ियों का भी क्रेज़ तेजी बढ़ रहा है, आये दिन ऑटो बाजार में नए-नए मॉडल्स देखने को मिल रहे हैं, लेकिन फिलहाल जरूरत ऐसे EV वाहनों की है जोकि कीमत में कम हो, ताकि ज्यादा से ज्यादा लोगों तक ये पहुंच सकें, क्योंकि ही ज्यादा होगी तो ग्राहकों को EV वाहनों को अपनाने में दिक्कत हो सकती है। सरकार को चाहिए तो देश में ज्यादा से ज्यादा EV चार्जिंग स्टेशन पर फोकस करें तो ताकि इसी बहाने लोग EV वाहनों को खरीने में दिलचस्पी दिखाए, साथ ही कीमत भी करें हो।