अब गाड़ियों में मिलेंगे 6 एयरबैग्स, इन वाहनों पर लागू होगा नियम

गाड़ियों की सेफ्टी को लेकर सरकार अब काफी सख्त नज़र आ रही है। गाड़ियों की सेफ्टी को लेकर अब एक नया नियम आ रहा है। दरअसल गाड़ी में बैठे लोगों की सुरक्षा को बढ़ाने के लिए सरकार कम से कम 6  एयरबैग्स (Airbags) अनिवार्य करने जा रही है। सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी (Nitin Gadkari) ने अपने ट्वीट में कहा कि जिन गाड़ियों में 8 सवारियों तक की क्षमता होगी उनमे एयरबैग की संख्या बढ़ानी होगी। दरअसल ऐसा करने से वाहन में बैठे लोगों को एक्सीडेंट के दौरान सेफ्टी मिलेगी और उनकी जान बचाई जा सकेगी।  रिपोर्ट में मुताबिक 6 एयरबैग्स इस साल अक्टूबर से लागू होंगे।

जानकारी के लिए बता दें कि अब गाड़ियों में कम से कम दो फ्रंट एयरबैग्स को अनिवार्य किया जा चुका हैं । लेकिन अब एयरबैग्स की संख्या को बढ़ा दिया जाएगा ।नितिन गडकरी ने कहा कि गाड़ियों की आमने-सामने की टक्कर और बगल से होने वाली टक्कर के असर को कम कर सवारियों को सुरक्षित रखने के लिए यह तय किया गया है कि वाहनों में 4 अन्य एयरबैग भी दिए जाएं। यह भी पढ़ें: अब ज्यादा सेफ्टी फीचर्स के साथ आ रही है मारुति सुजुकी की नई बलेनो, जानें कीमत

उन्होंने कहा, “पीछे की सीट पर अगल-बगल दो एयरबैग देने और दो ट्यूब एयरबैग देने से सभी सवारियों को सेफ्टी मिलेगी। वाहनों को ज्यादा सेफ बनाने के लिए यह एक बड़ा और उचित कदम होगा। गडकरी ने कहा कि एयरबैग की संख्या बढ़ाने का कदम सभी तरह के और सभी प्राइस सेगमेंट के वाहनों पर लागू होगा। सरकारी आंकड़ों की माने तो साल 2020 में राष्ट्रीय राजमार्गों पर कुल 1.16 लाख सड़क हादसे हुए जिनमें 47,984 लोगों की जान गई थी।

यहां हम एक बात ध्यान में यह भी लाना चाहते हैं कि भारत में जितनी भी कारें बनें वो बॉडी में ज्यादा मजबूत होनी चाहिए,लेकिन ज्यादा माइलेज देने के चक्कर में काफी कारें उतनी मजबूत नहीं बन पर रही हैं, इसके अलावा सभी कंपनियों को अपने हर मॉडल का क्रेश टेस्ट करवाना होगा, ताकि ग्राहकों को यह पता चल सके कि वो जो कार खरीद रहे हैं वो कितनी सेफ है।