बिना ड्राइवर चलते हैं ये Electric Tractor, फीचर जान किसान हो जाएंगे खुश

Monarch ऐसा इलेक्ट्रिक ट्रैक्टर है, जिसे बिना किसी ड्राइवर की मदद से चलाया जा सकता है। अब खबर यह है कि कंपनी ने हैदराबाद में अपना पहला ऑफिस खोला है।

Monarch Tractor

Monarch Tractor (मोनार्क ट्रैक्टर) वही कंपनी है जिसे दुनिया का पहला फुली इलेक्ट्रिक स्मार्ट ट्रैक्टर (first fully-electric smart tractor) बनाने का श्रेय जाता है। यह ऐसा इलेक्ट्रिक ट्रैक्टर है, जिसे बिना किसी ड्राइवर की मदद से चलाया जा सकता है। अब खबर यह है कि कंपनी ने हैदराबाद में अपना पहला ऑफिस खोला है। मोनार्क ने एज एप्लिकेशन, स्वायत्तता मॉडल (autonomy models) और एल्गोरिदम के डेवलपमेंट के लिए भारत स्थित एआई (artificial intelligence) स्टार्ट-अप इनसाइट (Einsite) के साथ साझेदारी की है।

इन दिनों दुनियाभर में इलेक्ट्रिक मोबिलिटी और ऑटोनॉमस ड्राइव टेक्नोलॉजी की तरफ कंपनियों का रुझान तेजी से बढ़ रहा है। इस मामले में अब एग्रीकल्चर इक्विपमेंट भी बहुत पीछे नहीं हैं। यूएस-बेस्ड कंपनी मोनार्क इलेक्ट्रिफिकेशन, ऑटोमेशन और डेटा विश्लेषण जैसी सुविधाएं प्रदान कर रही है। कंपनी का दावा है कि इससे खेती में काफी सुधार लाया जा सकता है।

भारत का कृषि क्षेत्र काफी विशाल है। श्रम प्रधान होने के बावजूद मोनार्क यहां पैर जमाने की कोशिश कर रहा है। मोनार्क ट्रैक्टर के को-फाउंडर और सीईओ प्रवीण पेनमेत्सा ने कहा कि हमने अपने मिशन और कार्यक्षेत्र दोनों में इनसाइट के साथ मजबूत तालमेल पाया है। मोनार्क ट्रैक्टर नए जमाने के किसानों के साथ खेती के मॉडल के लिए अत्याधुनिक समाधान प्रदान करना चाहता है। इनसाइट के साथ साझेदारी संभवतः मोनार्क को आगे बढ़ने में मदद कर सकती है।

यह भी पढ़ेंः TVS Ronin Vs Bajaj Pulsar 250 : कौन सी बाइक आपके लिए रहेगी बेस्ट, जानिये

Monarch tractor features

मोनार्क ट्रैक्टर 100 प्रतिशत इलेक्ट्रिक है और इसमें शून्य टेलपाइप उत्सर्जन है। यह एक प्रकार से थ्री-इन-वन टूल की तरह कार्य करता है। यह न केवल ट्रैक्टर के रूप में काम करता है, बल्कि अतिरिक्त स्टोरेज के साथ यह एटीवी के रूप में भी कार्य करता है।

ट्रैक्टर बिना ड्राइवर के प्री-प्रोग्राम किए गए कार्य कर सकता है या एक ऑपरेटर मोनार्क की इंटरेक्टिव ऑटोमेशन सुविधाओं का उपयोग कर सकता है, जिसमें जेस्चर और शैडो मोड शामिल हैं। दिन हो या रात इस ट्रैक्टर को किसी भी परिस्थिति में कार्य करने के लिए डिजाइन किया गया है। इसमें आपको collision-prevention capabilities, vision-based PTO safety और 360-डिग्री कैमरा जैसी सुविधाएं हैं।

मोनार्क ट्रैक्टर हर दिन 240 गीगाबाइट से अधिक फसल डेटा एकत्र करता है और उसका विश्लेषण करता है। यह किसानों के वर्तमान उपकरणों के साथ-साथ अगली पीढ़ी के स्मार्ट डिवाइस के साथ काम कर सकता है। मशीन लर्निंग का उपयोग करते हुए मोनार्क बेहतर विश्लेषण प्रदान कर सकता है। यूजर स्मार्टफोन या पर्सनल डिवाइस के माध्यम से ट्रैक्टर अलर्ट, मौसम की स्थिति पर अपडेट, डेटा स्टोरेज और विश्लेषण प्राप्त कर सकते हैं।

कैलिफोर्निया के लिवरमोर में मोनार्क ट्रैक्टर को असेंबल किया जाता है। इसका बेस प्राइस 50,000 डॉलर है। स्वैपेबल बैटरी पैक 15,000 डॉलर का है। कंपनी ने अब भारत में ऑफिस खोला है, तो उम्मीद की जानी चाहिए कि इस इलेक्ट्रिक ट्रैक्टर को कंपनी यहां भी जरूर पेश करेगी।

यह भी पढ़ेंः Maruti Grand Vitara की बुकिंग लॉन्च से पहले शुरू, जानें इससे जुड़ी खास बातें…