कार खरीदने के बाद जल्दी से कर लें ये 5 काम, वरना घाटे में पड़ जाएंगे आप

अगर आप नई कार लेने या अपनी मौजूदा कार को अपग्रेड करने के बारे में सोच रहे हैं तो आपको सबसे पहले यह सुनिश्चित करना होगा कि आप इससे जुड़ी सभी औपचारिकताएं पूरी करें। तो चलिए यहां एक एक नज़र डालते हैं 5 ऐसे कामों पर जो आपको कार खरीदने के बाद करने होंगे:

  1. कागजी कार्रवाई: सबसे पहले अपनी नई कार से संबंधित सभी दस्तावेजों की अच्छी तरह से जांच करें। इस बात को सुनिश्चित करें कि आपने डीलर के साथ कार खरीदने की हर कागजी कार्रवाई पूरी की है। इसमें खरीदारी के लिए किए गए भुगतान की मूल रसीद, पंजीकरण विवरण, टैक्स रसीद, बीमा प्रमाण पत्र, डिलीवरी चालान और किसी भी लोन या वित्तीय किश्तों से संबंधित मूल कागजातों की पूरी डॉकेट (संक्षेप-सूची) शामिल हैं, जो आपने कार के लिए लिया है।
  1. बीमा: कार बीमा आपको किसी भी छोटी बड़ी दुर्घटना में होने वाले नुकसान और जुर्माने से बचाता है। लेकिन सबसे ज़रूरी बात ये है कि आपको बीमा पॉलिसी के सभी नियमों और शर्तों को समझाने के लिए अपने डीलर से पूछना चाहिए। बिंदीदार रेखा (डॉटेड लाइन) पर दस्तखत करने से पहले हमेशा ठीक से पढ़ें ताकि आपको पता चले कि आप किसके लिए पेमेंट कर रहे हैं। इस बात का भी ख्याल रखें कि पॉलिसी समय के साथ बदल भी सकती है, इसलिए यह भी ज़रूरी है कि आप इसके बारे में पूरी पूछताछ करें।
  1. रजिस्ट्रेशन: आपको ये पता होना चाहिए कि बिना रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट के कार चलाना गैर-कानूनी है। तो शुरुआत में आपका डीलर आपको एक अस्थायी रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट दिलाने में मदद कर सकता है जिससे आप उस रजिस्टर्ड शहर के भीतर 30 दिनों तक अपनी कार की सवारी का लुत्फ उठा सकेंगे। इसके बाद आप परमानेंट रजिस्ट्रेशन अपने शहर के क्षेत्रीय परिवहन कार्यालय (रिजनल ट्रांसपोर्ट ऑफिस) से करवा सकते हैं। आपको बता दें कि यह कार खरीदने के बाद किए जाने वाले सभी कामों में से सबसे ज़रूरी काम है।
  1. पोल्यूशन सर्टिफिकेट: जी हां, कार खरीदने के बाद आपको एक पोल्यूशन सर्टिफिकेट भी बनवाना होगा। इसके बिना, ट्रैफिक पुलिस द्वारा आपको कानून का पालन न करने के लिए सजा भी दी जा सकती है। शुरुआत में, चूंकि कार बिल्कुल नई है और अभी तक सड़क पर नहीं उतरी नहीं है, डीलर आपको यह सर्टिफिकेट देगा। हालाँकि, आपको हर छह महीने में अपने नजदीकी पेट्रोल स्टेशन पर लगने वाले “पोल्यूशन जांच” शिविर में इसे रीन्यू करवाना होगा।

  1. ब्रेकडाउन सर्विस: तो आप एकदम तैयार हैं अपनी नई कार का लुत्फ उठाने के लिए! बस आखिरी चीज जो आपको चाहिए वो है- ब्रेकडाउन सर्विस। जी हां, आपकी कार नई है इस बात से इंकार नहीं किया जा सकता लेकिन, नई कार में पड़ा कोई भी छोटा-मोटा फॉल्ट आपको परेशानी में डाल सकता है। तो ऐसे में, ब्रेकडाउन सर्विस के कांटैक्ट नंबर को अपने पास संभाल कर रखने से आप इस परेशानी से बच सकते हैं।

कार खरीदते समय आप थोड़े से पैसे देकर इस सर्विस का फायदा उठा सकते हैं। लेकिन अगर आप थोड़े से पैसे बचाने के चक्कर में इस सर्विस को अनदेखा करते हैं तो इसके बाद शायद आपको अपनी गाड़ी में आए किसी अनचाहे फॉल्ट को ठीक करने के लिए दोगुने पैसे खर्च करने पड़ें।


सत्यव्रत का मानना है कि टेक्नॉलजी का जितना इस्तेमाल करेंगे, उतना जानेंगे. इसी के चलते उन्होंने टेक जर्नलिस्ट बनने का फैसला लिया. सत्यव्रत ने अपने करियर की शुरुआत दैनिक जागरण से की थी, साल 2015 में वह ज़ी न्यूज़ से जुड़े. वह न केवल टेक को अच्छी तरह से समझते हैं बल्कि यह भी जानते हैं कि कौन सी स्टोरी पाठकों को ज्यादा पसंद आती हैं. अब सत्यव्रत Mysmartprice से जुड़े हैं. और यहां भी उनका मकसद हर रोज बदल रही टेक्नॉलजी की दुनिया की हर बारीकी को आसान शब्दों में पाठकों तक पहुंचाना है.