अगर आप भी खरीदने जा रहे हैं पुरानी कार तो जान लीजिये फायदे और नुकसान

आमतौर पर लोगों को नई कार खरीदने के लिए काफी मोटी रकम चुकानी पड़ती है और कभी-कभी लोन भी लेना पड़ता है,जिसकी आपको हर महीने EMI चुकानी पड़ती है। ऐसे में आपके पास एक बेहद अच्छा ऑप्शन है सेकंड हैंड कार लेने का

भारत में लोग पुरानी कारें खरीदना काफी पसंद करते हैं जिसके कई कारण हैं और अगर आप भी एक पुरानी कार खरीदने का मन बना रहे हैं, तो हम आपको कुछ जरूरी बातें बता रहे हैं, जो आपको कोई भी पुरानी कार खरीदते समय ध्यान रखनी चाहिए। किसी भी पुरानी कार को खरीदने के कुछ फायदे और नुकसान दोनों हैं। आइए डिटेल में आपको जानकरी देते हैं। 

पुरानी कार खरीदने के फायदे

घर और कार दो ऐसी चीजे हैं, जिसे खरीदने का सपना हर किसी का होता है। ऐसे में अगर वह सपना आपका कम पैसे खर्च करके पूरा हो जाए, तो खुशी दुगनी हो जाती है। आमतौर पर लोगों को नई कार खरीदने के लिए काफी मोटी रकम चुकानी पड़ती है और कभी-कभी लोन भी लेना पड़ता है,जिसकी आपको हर महीने EMI चुकानी पड़ती है। ऐसे में आपके पास एक बेहद अच्छा ऑप्शन है सेकंड हैंड कार लेने का, जिसमें आप पर EMI का बोझ भी नहीं पड़ता। आइए आपको समझाते हैं कैसे, मान लीजिए कि आपको जो कार खरीदनी है उसकी कीमत 12 लाख रुपये है और आपके पास केवल 6 लाख रुपये हैं, तो ऐसे में आपको बाकि बचे हुए अमाउंट का लोन लेना पड़ेगा। अब अगर आप 6 लाख रुपये में कोई सेकंड हैंड या पुरानी कार खरीदते हैं, तो आपको आपकी कार भी मिल जाएगी और आप लोन के बोझ से भी बच जाएंगे। हालांकि शायद आपको फीचर्स और लुक वैसा न मिले, जैसा 12 लाख रुपये वाली कार का है, लेकिन आप EMI से तो बच जाएंगे और साथ ही आपकी कार का सपना भी पूरा हो जाएगा।

यह भी पढ़ें: Maruti Brezza vs Tata Nexon: डिजाइन, फीचर्स और कीमत के हिसाब से कौन है बेहतर   

पुरानी कार खरीदने के नुकसान

पुरानी कार खरीदने के फायदे तो हमने आपको बता दिए, चलिए अब आपको इसके नुकसान भी बता देते हैं। पुरानी कार खरीदने का सबसे बड़ा नुकसान है कि ये कार मेंटेनेंस ज्यादा मांगती है, जिसका सीधा असर आपकी जेब पर पड़ता है। किसी भी पुरानी कार के पार्ट्स जैसे-जैसे पुराने होते जाते हैं वैसे-वैसे इनकी मेंटेनेंस का खर्च भी बढ़ता जाता है और अगर पार्ट्स बदलने की जरूरत पड़े, तो आपको अपनी जेब ज्यादा ढीली करनी पड़ सकती है। अगर कार के पहले ओनर ने इसे ठीक से मैंटेन या समय पर सर्विस नहीं कराई है, तो कार में आपको माइलेज की दिक्कत भी मिल सकती है जिससे आपकी कार पेट्रोल/डीजल का इस्तेमाल ज्दाया करेगी और इसको चलाने का खर्च भी बढ़ जाएगा। यह इस बात पर भी निर्भर करता है कि कार मालिक अपनी कार का रखरखाव की प्रकार करता है।

आखिरी में पुरानी कार खरीदने के नाम पर होने ठगी से आपको बचना है। अधिकतर देखने में आता है कि लोग अपनी पहली और सेकंड हैंड कार खरीदते समय जल्दबाजी दिखाते हुए पेपर्स और अन्य जरूरी डाक्यूमेंट्स चेक नहीं करते जिससे उन्हें कोई भी ठग सकता है। इसके लिए जरूरी है कि आप सारे पेपर्स चेक करने के बाद ही अपनी डील फाइनल करें।

यह भी पढ़ें: इन 7 बड़े बदलावों के साथ आ रही है All New Alto, लंबे लोग भी बैठ सकेंगे आराम से!

तो ये थे पुरानी कार खरीदने के फायदे और नुकसान, अब यह आपको तय करना है कि आपको क्या पसंद है और किसे आपको खरीदना है। उम्मीद है इस रिपोर्ट में आपके सवालों के जवाब आपको मिल गये होंगे।