यहां 85000 में Maruti Alto और 75000 में Hyundai Santro मिल रही है, जानें

दोस्तों अगर टू-व्हीलर के दम पर अगर एक अच्छी कार मिल जाए तो बात ही बन जाए,  कम से कम बारिश और चिलचिलाती गर्मी से तो बचा जा सकेगा। अगर आप भी अपने लिए एक कम बजट में एक ऐसी ही कार खरीदने की सोच रहे हैं तो आपके लिए सेकंड हैण्ड कार आपके लिए बेस्ट ऑप्शन साबित हो सकता है। हांलाकि मार्केट में कई ऐसी जगह हैं जहां पर आपको पुरानी कारें आसानी से मिल जायेंगी लेकिन  सवाल यह आता है कि एक अच्छी सेकंड हैण्ड कार कैसे और कहां से खरीदें। इस रिपोर्ट में हम आपको Droom पर मिलने वाली कारों के बारे में जानकारी दे रहे हैं।

85,000 में मारुति Alto खरीदने का मौका

Droom वेबसाइट पर इस समय एक मारुति सुजुकी की Alto मिल रही है। यह कार 42000 किलोमीटर चली है। फिलहाल यह फर्स्ट ओनर बेस्ड कार है।  Droom  पर मिली जानकारी के मुताबिक यह कार फिलहाल मुम्बई में उपलब्ध है। कार की अन्य जानकारी की बात करें तो यह साल 2014 का मॉडल है जोकि BS4 इंजन से लैस है इस कार में 800cc का इंजन लगा है। यह इंजन 47 bhp की पावर देता है। इस कार में 12 इंच के टायर्स लगे हैं यह कार सफ़ेद (White) कलर में उपलब्ध है।

Hyundai Santro Xing GL 2007

Droom वेबसाइट पर इस समय एक हुंडई सेंट्रो (Hyundai Santro) मिल रही है। यह कार 70000 किलोमीटर चली है। फिलहाल यह फर्स्ट ओनर बेस्ड कार है।  Droom  पर मिली जानकारी के मुताबिक यह कार फिलहाल दिल्ली में उपलब्ध है।कार की अन्य जानकारी की बात करें तो यह साल 2007 का मॉडल है जोकि BS4 इंजन से लैस है इस कार में 1086cc का इंजन लगा है। यह इंजन 63PS की पावर देता है। इस कार में 13 इंच के टायर्स लगे हैं यह कार सफ़ेद (White) कलर में उपलब्ध है। यह मैन्युअल गियरबॉक्स के साथ आती है।

सेकंड हैंड कार खरीदने समय इन बातों का भी रखें ध्यान

पुरानी कार खरीदते समय RC भी ठीक से चेक करें, RC में लिखी तारीख बोनट के नीचे गाड़ी की मैन्युफैक्चर तारीख से मिलती है । या नहीं यह भी चेक कर लें ।  जो भी पुरानी कार कार आपने पसंद की है, उसकी फाइनल डील करने से पहले कार की सर्विस हिस्ट्री देखें, इससे आपको इस बात का पता चल जायेगा कि कार की सर्विस कब और कितनी बार हुई है।  

पुरानी कार खरीदते समय उसका इंश्योरेंस देख लें कि जो कार आपको बेची जा रही है, उसका इंश्योरेंस कराया गया है या नहीं । इंश्योरेंस के पेपर्स आपके नाम से ट्रांसफर हो जाए, यह भी सुनिश्चित करा लें । एक बार किसी जानकार मैकेनिक को भी जरूर साथ लेकर जाएं, क्योंकि मैकेनिक कार को देखकर और उसे स्टार्ट करके आपको बता देगा कि यह खरीदने लायक है या नहीं । जिस कार को आप खरीदने जा रहे हैं, उसकी ठीक से टेस्ट ड्राइव करके देखें, बिना ड्राइव किये सौदा फाइनल न करें। कार चलाकर उसका पिकअप, गियर शिफ्टिंग, एक्सिलेरेटर का पता लगाया जा सकता है कि इनमें कोई खराबी तो नहीं है।  कार को खरीदते वक्त कार मालिक से उसकी एनओसी जरूर ले लें ।