पुराना फोन खरीद रहे हैं तो IMEI नंबर से ऐसे पता करें, फोन ब्लैक लिस्टेड है या नहीं

old phone

आजकल लोग विभिन्न ऑनलाइन प्लेटफॉर्म (online platform) से पुराने फोन (Old Phone) खरीद लेते हैं। हालांकि इस तरह के फोन को खरीदने में कोई बुराई नहीं है, लेकिन सुरक्षा की दृष्टि से यह पता कर लेना जरूरी होता है कि जो फोन आप खरीद रहे हैं, वह कहीं ब्लैक लिस्टेड (blacklisted) या फिर डुप्लिकेट (duplicate) तो नहीं है। आपको बता दें कि यह पता लगना बहुत आसान हो गया है।

सरकार ने सेंट्रल इक्विपमेंट आइडेंटिटी रजिस्टर (https://ceir.gov.in/Home/index.jsp) प्लेटफॉर्म पर ‘नो योर मोबाइल’ (know your mobile) नाम से एक सेवा की शुरुआत की है। इसकी मदद से आप पुराने डिवाइस की जांच कर सकते हैं। वैसे, आप *#06# को दर्ज करने के बाद डिवाइस की आईएमईआई (IMEI) नंबर का पता लगा सकते हैं। यह स्क्रीन पर मोबाइल का स्टेट्स शो करेगा, जैसे कि मोबाइल का आईएमईआई नंबर ब्लैक लिस्टेड, डुप्लिकेट या फिर पहले से उपयोग में है या नहीं। यहां पर मोबाइल के स्टेटस को जानने के लिए तीन तरीके मौजूद हैं…

SMS के जरिए वेरिफिकेशन
पुराना फोन खरीदने से पहले यह जांचना चाहते हैं कि फोन आपको लेना चाहिए या फिर नहीं, तो एसएमएस (SMS) की जरिए भी पता लगा सकते हैं। केवाइएम (KYM) -15 डिजिट वाला आईएमईआई नंबर (जिस फोन को खरीदना चाहते हैं उसका आईएमईआई नंबर) लिखकर 14422 पर अपने मोबाइल से भेज दें। इसके बाद आपको पता चल जाएगा कि उस फोन का आईएमईआई नंबर ब्लैक लिस्टेड (blacklisted), डुप्लिकेट (duplicate) है या नहीं। अगर कोई फोन बिना आईएमईआई नंबर के बेचा जा रहा है कि तो वह अवैध है। इसलिए पुराना फोन खरीदने से पहले एक बार IMEI नंबर से जरूर चेक कर लें।

Web portal के जरिए
आप वेब पोर्टल (Web portal) के माध्यम से भी पुराने फोन की जानकारी हासिल कर सकते हैं। इससे लिए सीईआईआर (Ceir) के बेव पोर्टल पर जाने के बाद ‘नो योर मोबाइल’ (know your mobile) सेक्शन में Web portal का ऑप्शन दिखाई देगा। इस पर क्लिक करने के बाद https://ceir.gov.in/Device/CeirIMEIVerification.jsp पेज पर पहुंच जाएंगे। यहां पर आपको मोबाइल नंबर (Mobile Number) दर्ज करना होगा और फिर ओटीपी (OTP) डालने के लिए कहा जाएगा, जो आपके मोबाइल पर भेजा जाएगा।

इसके बाद जो डिवाइस खरीद रहे हैं, उसका आईएमईआई (IMEI) नंबर डालने के लिए कहा जाएगा। इसके बाद आप आईएमईआई (IMEI) नंबर से पुराने फोन की वैधता को जांच पाएंगे। अगर कोई फोन बिना आईएमईआई नंबर या ब्लॉक्ड आईएमईआई नंबर के हैं, तो इन फोन्स को खरीदने से बचना चाहिए। अगर आईएमईआई नंबर का स्टेट्स ब्लैक लिस्टेड, डुप्लिकेट या ऑलरेडी ऑन यूज आता है, तो ऐसे फोन को कभी भी नहीं खरीदना चाहिए। अगर आईएमईआई नंबर का स्टेटस सही होगा, तो फिर ‘आईएमईआई इज वैलिड’ (imei is valid) लिखा आएगा।

KYM-नो योर मोबाइल ऐप
kym-know your mobile app को सेंटर फॉर डेवलपमेंट ऑफ टेलीमैटिक्स (C-DOT) ने तैयार किया है। इसकी मदद से पता लगा सकते हैं कि फोन का आईएमईआई नंबर सही है या नहीं। केवाईएम ऐप के जरिए आप आसानी से जान पाएंगे कि पुराना मोबाइल ब्लैक लिस्टेड, डुप्लिकेट है या नहीं। साथ ही, यहां पर आपको डिवाइस से जुड़े मैन्युकैक्चरर के नाम, ब्रांड नाम और आईएमईआई नंबर वाले फोन के मॉडल आदि की जानकारी मिल जाएगी। इस ऐप को आप Google play store से डाउनलोड कर सकते हैं।