बड़े काम का है Google Voice Access App, फोन को टच किए बिना ही कर पाएंगे इस्तेमाल

कई बार आप ऐसी स्थिति में होते हैं, जब फोन (Phone) को टच किए बिना उसे ऑपरेट करना चाहते हैं। कई बार ऐसा भी हो सकता है कि फोन का टचस्क्रीन (touch screen) काम करना बंद कर देता या फिर यह भी हो सकता है कि दिव्यांगता की वजह से फोन का इस्तेमाल करने में असमर्थ हों। ऐसी स्थिति में वॉयस कमांड (voice command) के जरिए बिना स्क्रीन (screen)को टच किए अपने स्मार्टफोन (Smartphone) को नियंत्रित कर सकते हैं। इसके लिए एंड्रॉयड फोन (Android Phone) पर गूगल के वॉयस एक्सेस ऐप (Voice Access App) का इस्तेमाल करना होगा।

क्या खास है Google Voice Access App में
गूगल वॉयस एक्सेस ऐप (Google Voice Access App) में फोन की स्क्रीन पर किसी भी टच किए जाने वाले बटन पर आपको नंबर्स दिखाई देंगे। इसके बाद किसी खास बटन पर दिए गए नंबर को वॉयस कमांड (voice command) देंगे, तो वॉयस एक्सेस ऐप (Voice Access App) ऑटोमैटिकली उसे टैप करेगा। वॉयस कमांड देने के लिए यहां ओके गूगल (OK Google) कमांड की जरूरत नहीं पड़ती है, क्योंकि वॉयस एक्सेस ऐप इनेबल होने के बाद यह हमेशा वॉयस कमांड को सुनता है। यह स्क्रॉल डाउन या ओपन क्विक सेटिंग्स जैसे कमांड को भी समझता है। वॉयस एक्सेस ऐप एंड्रॉयड 5.0 (Android 5.0) या फिर इसके बाद के वर्जन पर काम करता है। इस सुविधा का लाभ उठाने के लिए बेहतर होगा कि आप अपने फोन पर ओके गूगल वॉयस मैच और पिक्सल लॉन्चर को इनेबल कर लें।

कैसे करें वॉयस एक्सेस का इस्तेमाल

  • सबसे पहले अपने स्मार्टफोन में वॉयस एक्सेस ऐप (Voice Access App) को डाउनलोड कर लें।
  • डाउनलोड होने के बाद वॉयस एक्सेस सेटअप सेटिंग्स खुल जाएगी और आपसे कुछ अनुमति मांगी जाएगी।
  • सबसे पहले आपसे एक्सेसिबिलिटी की अनुमति मांगी जाएगी। आपको टॉगल को स्विच ऑन करना होगा।
  • इसके बाद दूसरे पॉप-अप में फोन कॉल परमिशन की अनुमति देनी होगी। इसके लिए अलाउ बटन पर टैप करना होगा।
  • फिर आपसे गूगल असिस्टेंट (Google Assistant) को इनेबल करने के लिए कहा जाएगा। आप गूगल ऐप से गूगल असिस्टेंट को चालू कर सकते हैं। इसके लिए मोर > सेटिंग> वॉयस> वॉयस मैच पर जाएं और ओके गूगल के लिए परमिशन को ऑन कर दें।

ऐसे करें voice command से फोन को कंट्रोल
स्क्रीन पर टैप की जाने वाली हर चीज पर वॉयस एक्सेस ऐप एक नंबर देता है। जब आप उस नंबर या बटन का नाम बोलेंगे, तो वॉयस एक्सेस उस सुविधा या ऐप को लॉन्च करेगा। उदाहरण के लिए म्यूजिक एप पर नंबर 5 लिखा है, तो आप नंबर 5 का वॉयस कमांड देंगे, तो म्यूजिक ऐप ओपन हो जाएगा। वैकल्पिक रूप से लॉन्च म्यूजिक ऐप का वॉयस कमांड भी दे सकते हैं। वॉयस एक्सेस ऐप में चार कैटेगरी मिलती हैं, जैसे- टेक्स्ट कंपोजिशन, नेविगेशन, जेस्चर कंट्रोल और कोर फंक्शन।

वॉयस कमांड के जरिए लिखें टेक्स्ट
इस ऐप के जरिए वॉयस कमांड देकर टेक्स्ट (text) लिख सकते हैं। यह किसी भी राइटिंग ऐप पर स्पीच टू टेक्स्ट ट्रांसक्रिप्शन की सुविधा का इस्तेमाल कर सकते हैं। उदाहरण के लिए वाट्सऐप पर अपनी आवाज का उपयोग करके मैसेज लिख सकते हैं। इसके लिए आपको उस ऐप के होमपेज पर वॉयस एक्सेस को एक्टिवेट करना होगा। फिर कंपोज मैसेज का कमांड दे सकते हैं या फिर कीबोर्ड पर लिखे नंबर के जरिए भी मैसेज टाइप कर सकते हैं। अब प्राप्तकर्ता का नाम बताइए और शब्दों को बोलते हुए अपने मैसेज लिख सकते हैं।

वॉयस कमांड के जरिए मैन्यू नेविगेशन
वॉयस कमांड के जरिए नेविगेट भी कर सकते हैं। वॉयस एक्सेस आपको ऐप्स ओपन करने, होम स्क्रीन पर जाने, नोटिफिकेशन दिखाने, क्विक सेटिंग्स दिखाने, रिसेंट ऐप्स या किसी अन्य ऐप्स पर जाने या वापस होने की अनुमति भी देता है।

वॉयस कमांड के जरिए जेस्चर कंट्रोल
वॉयस एक्सेस एक एक्सेसिबिलिटी टूल है, इसलिए यह वॉयस कमांड को जेस्चर में बदल सकता है। उदाहरण के लिए आप कह सकते हैं ‘ओपन द नेविगेशन ट्रे’ और यह ऐसा ही करेगा। यदि किसी एप्लिकेशन को किसी खास जेस्चर की आवश्यकता होती है, तो जेस्चर का नाम लेकर कमांड दे सकते हैं।

फोन का कोर फंक्शंस
अंत में आप अपने फोन के खास फीचर जैसे कि ब्लूटूथ, वाई-फाई, वॉल्यूम आदि को भी अपनी आवाज से नियंत्रित कर सकते हैं। इस तरह एक्सेसिबिलिटी फीचर से लेकर नेविगेशन, जेस्चर कंट्रोल, टाइपिंग और मैसेज भेजने जैसे कार्य फोन को बिना टच किए भी कर सकते हैं।