अगर आप बढ़ाना चाहते हैं अपनी CNG कार की माइलेज, तो आज ही करें ये जरूरी काम

देश में पेट्रोल और डीजल के दाम लगातार बढ़  रहे है। जिसकी वजह से जिन लोगों के पास पेट्रोल और डीजल से चलने वाली गाड़ियां हैं उनकी जेब अब ज्यादा ढीली हो रही है। ऐसे में CNG गाड़ियां ज्यादा बेहतर विकप्ल के रूप में देखे जा रहे हैं। देश काफी संख्या में लोग लोग अभी भी CNG वाहनों को खरीद रहे हैं। पेट्रोल-डीजल की तुलना में CNG अभी भी सस्ता पड़ता है और इसकी माइलेज भी काफी ज्यादा रहती है, लेकिन अक्सर लोग शिकायत करते हैं कि उनकी कार ज्यादा माइलेज नहीं देती। अब कम माइलेज के पीछे कई कारण हो सकते हैं, इस रिपोर्ट में हम आपको CNG कार की माइलेज बढ़ाने के कुछ खास टिप्स बता रहे हैं जो आपके लिए फायदेमंद साबित हो सकते हैं।

लीकेज की जांच है जरूरी

आपकी कार में लगी CNG  किट को रेगुलर चेक करते रहे, अक्सर लोग लोकल CNG किट लगवा लेते हैं जोकि सस्ती तो पड़ती है लेकिन कई बार यह काफी महंगी पड़ती है और आपकी जेब पर भी असर डालती है। इतना ही नहीं अगर आपने किसी लोकल मैकेनिक से CNG किट लगवाई है तो इससे गाड़ी पर काफी असर पड़ता है। क्योंकि जब यही CNG किट पुरानी हो जाती है और लोकल पार्ट्स होने की वजह से सिलेंडर से जुड़ने वाले पाइप में लीकेज की समस्या होने लगती है। इससे काफी गैस बर्बाद हो जाती है और कार के माइलेज पर भी असर पड़ता है। इसलिए कार के अच्छे माइलेज के लिए आपको समय-समय पर कार के लीकेज की जांच करवा लेनी चाहिए। इसे न सिर्फ कार का माइलेज बढ़ेगा बल्कि आप किसी भी तरह की दुर्घटना से भी बच जाएंगे। वैसे जहां तक हो ओरिजिनल CNG किट ही लगवानी चाइये क्योंकि ये सेफ्टी के लिहाज से बेहतर होती है। आजकल तो कार कंपनियां भी अपनी कारों को CNG में लॉन्च कर रही हैं।  

सर्विस है जरूरी

अगर आपके पास CNG कार है तो इसकी रेगुलर सर्विस बेहद जरूरी है, क्योंकि अगर आपने इसकी सर्विस को इग्नोर किया तो यह आप पर ही भारी पड़ेगा। समय से सर्विस करवाने से कार के माइलेज में भी काफी सुधार आता है। समय पर सर्विस करवाने से आप आने वाले समय में होने वाले नुकसान से भी बच सकते हैं। रेगुलर सर्विस करवाने से  कार का इंजन और CNG किट दोनों की सफाई हो जाती है। जिससे माइलेज बढ़ाने में भी मदद मिलती हैं। अक्सर लोग कुछ पैसे बचाने के चक्कर में लोकल मकेनिक से गाड़ी की सर्विस करवा लेते हैं जिससे कई कार समस्या कम होने की जगह बढ़ जाती है। इसलिए हमेशा कं Authorised service centre पर ही जायें, लोकल जगह से भले ही यहां पैसा ज्यादा लगे पर आपको कार सही रहेगी।

ओरिजिनल पार्ट्स का करें इस्तेमाल

अक्सर लोग कुछ पैसे बचाने के चक्कर में सर्टिफाइड स्टेशन के बजाय किसी लोकल वेंडर से CNG किट लगवा लेते हैं। इससे CNG  किट में वेंडर लोकल और सस्ते पार्ट्स लगा देता है। जिसका असर गाड़ी की परफॉरमेंस काफी खराब होने लगती है साथ माइलेज पर भी गंदा असर पड़ता है।अगर आप कंपनी से CNG किट लगवाते हैं तो कंपनी के ओरिजिनल पार्ट्स को एक मानक और तहत बनाया जाता है. उनकी टेस्टिंग की जाती है. जिससे कार के माइलेज पर कोई असर नहीं होता। वहीं लोकल पार्ट्स के साथ ऐसा नहीं होता है। इसलिए कोशिश करें CNG किट वाली कार ही खरीदें अगर बाहर से लगवा रहे हैं तो कंपनी से ही CNG फिट करवाएं।