Twitter पर ऐसे हासिल कर सकते हैं Blue Verified Badge, जानें कैसे करें अप्लाई

ट्विटर (Twitter)जैसे सोशल मीडिया (social media) प्लेटफॉर्म पर अगर प्रोफाइल के साथ ब्लू (Blue tick)है, तो यह आपके अकाउंट की विश्वसनीयता को प्रदर्शित करता है। फॉलो करने वाले यूजर्स को भी लगता है कि अकाउंट फेक नहीं है। लेकिन सोशल मीडिया पर अकाउंट को सत्यापित करना भी कम चुनौती नहीं है। ट्विटर भी ब्लू वैरिफाइड बैज (Blue Verified Badge)के लिए वैरिफिकेशन की प्रक्रिया को फिर से शुरू कर रहा है।

ट्विटर ने 22 जनवरी से इनएक्टिव अकाउंट को डी-बैज करना शुरू कर दिया है। इसके बाद जल्द ही नए अकाउंट्स के लिए वैरिफिकेशन की प्रक्रिया शुरू होने की उम्मीद है। आपको बता दें कि ब्लू वैरिफाइड बैज की प्रक्रिया को नंवबर 2017 के बाद होल्ड कर दिया गया था, जिसे फिर से शुरू किया गया है। इस संबंध में ट्विटर ने कहा कि वह वैरिफिकेशन प्रोसेस के लिए वह सेल्फ-सर्व पोर्टल को फिर से लॉन्च करेगा। Twitter पर Blue Badge के लिए कैसे अप्लाई किया जा सकता है, आइए जानते हैं इसके बारे में…

हर किसी को नहीं मिलता है Blue Verified Badge
आपको बता दें कि ब्लू वैरिफाइड बैज हर किसी को नहीं मिलता है। इसके लिए अकाउंट का सक्रिय और खास होना जरूरी है। खास का मतलब है कि आप किसी फील्ड में प्रसिद्ध और जाने-माने हैं, तभी आपको ब्लू टिक मिल सकता है। ट्विटर पर फिलहाल छह प्रकार के खास अकाउंट्स हैं:

  • सरकार
  • कंपनियां, ब्रांड्स और नन प्रॉफिट ऑर्गेनाइजेशन
  • न्यूज ऑर्गेनाइजेशन और जर्नलिस्ट
  • मनोरंजन
  • स्पोर्ट्स और ईस्पोर्ट्स
  • एक्टिविस्ट, ऑर्गेनाइजर और अन्य प्रभावशाली व्यक्ति

ट्विटर (Twitter) का कहना है कि उन्हें दूसरी अन्य कैटेगरी के लोगों को जोड़ने से संबंधित सुझाव भी मिले हैं। इसमें एजुकेशनिस्ट, साइंटिस्ट, स्प्रिचुअल लीडर आदि शामिल हैं। ट्विटर इन कैटेगरी को जोड़ने की योजना पर भी कार्य कर रहा है, लेकिन तब तक, यदि आप इनमें से किसी भी श्रेणी में आते हैं, तो आप एक्टिविस्ट, ऑर्गेनाइजर और अन्य प्रभावशाली व्यक्तियों के तहत खुद को जोड़ने के लिए आवेदन कर सकते हैं।

ऐसे में छिन सकता है Blue Badge
आपको बता दें कि एक बार यदि आपको ब्लू टिक मिल जाता है, तो वह छिन नहीं सकता है। यदि कोई यूजर इस प्लेटफॉर्म पर अपना अकाउंट नेम बदल लेता है या उनका अकाउंट इनएक्टिव और अधूरा रहता है या फिर यदि कोई यूजर बैज हासिल करने के दौरान किसी पद पर थे अब नहीं हैं, तो वे भी अपना ब्लू बैज बैज (Blue Badge) खो सकते हैं।

इसके अलावा, अकाउंट वैरिफिकेशन (account verification) के लिए कोई ट्विटर के मानदंडों को पूरा नहीं करता है, तो वे भी अपना ब्लू बैज खो सकते हैं। ट्विटर का कहना है कि वह अपनी सेवा की शर्तों के अनुसार किसी भी समय और बिना नोटिस के ब्लू वैरिफाइड बैज (Blue Verified Badge) को अकाउंट से हटा सकता है। इसके अतिरिक्त, ट्विटर के नियमों को गंभीर या बार-बार उल्लंघन करने पर भी ब्लू बैज को हटाया जा सकता है। हालांकि यह ऑटोमैटिकली नहीं होता है, बल्कि बार-बार उल्लंघन के आधार पर मूल्यांकन भी किया जाता है। गंभीर और बार-बार उल्लंघन तब होता है जब कोई जानबूझकर अपना डिस्प्ले नेम या फिर बायो को बदल कर ट्विटर पर लोगों को भ्रमित करते हैं।

ऐसे हासिल कर पाएंगे Blue Verified Badge

  • वैरिफिकेशन की प्रक्रिया शुरू होन के बाद ट्विटर के पास एक नई सेल्फ-सर्विस एप्लीकेशन प्रक्रिया वेब और ऐप पर उपलब्ध होगी। यूजर यहां पर ब्लू बैज के लिए अप्लाई कर सकते हैं।
  • वैरिफिकेशन स्टेटस के लिए किसी एक कैटेगरी का सलेक्शन करना होगा। साथ ही, ब्लू टिक पाने के लिए यूजर को कुछ लिंक्स के साथ सपोर्टिंग मैटीरियल जरूरत पड़ेगी कि क्यों उन्हें ब्लू टिक या बैज क्यों दिया जाए।
  • अकाउंट को वैरिफाई करने के लिए एप्लीकेशन का ऑटोमेटेड और ह्यूमन रिव्यू किया जाएगा। साथ ही, ट्विटर का यह भी कहना है कि यूजर वैरिफिकेशन की प्रक्रिया को पूरा करने के बाद डेमोग्राफिक (जनसांख्यिकीय) जानकारी साझा करने का विकल्प देगा, ताकि वैरिफिकेशन की प्रक्रिया में सुधार किया जा सके।
  • नई पॉलिसी के अनुसार, ट्विटर निष्क्रिय और अधूरे अकाउंट से बैज को ऑटोमैटिकली हटना शुरू कर देगा। ट्विटर का कहना है कि वैरिफाइड होने के लिए अकाउंट का उल्लेखनीय यानी खास होना जरूरी है। यदि आप एक सामान्य नागरिक हैं, तो यहां पर आपके लिए ब्लू बैज हासिल करना मुश्किल होगा। अगर आपके पास फॉलोअर की बड़ी संख्या है, तो फिर हो सकता है कि आपको ब्लू बैज मिल भी जाए। अपने क्षेत्र में एक प्रसिद्ध विशेषज्ञ हैं, तो यहां भी कुछ मानदंड हैं, जिन्हें आपको पूरा करना होगा। इसके बाद ही ब्लू टिक मिल पाएगा।