BGMI 2.2 No Grass APK: क्या फेक है बीजीएमआई 2.2 नो ग्रास एपीके डाउनलोड लिंक, जानें डिटेल

अगर आप गूगल पर No grass APK सर्च करें, तो आपको इससे जुड़े बहुत सारे रिजल्ट दिखाई देंगे, लेकिन बीजीएमआई 2.2 डाउनलोड लिंक के बार में 100 प्रतिशत संभावना है कि ये काम नहीं करेंगे।

BGMI

BGMI 2.2 No Grass APK: भारत में बैन लगने से पहले तक BGMI (बैटलग्राउंड मोबाइल इंडिया) लोगों का पसंदीदा बैटल रॉयल गेम रहा है। इस गेम को गूगल प्ले स्टोर (Google Play Store) पर 50 मिलियन से अधिक बार डाउनलोड किया गया था। हालांकि गेम पर बैन लगने के बाद भी प्लेयर पुराने वर्जन को खेल पा रहे हैं, लेकिन उन्हें अभी नया अपडेट नहीं मिल पा रहा है। मगर अभी भी गेमिंग इंडस्ट्री से जुड़े लोगों को इसकी वापसी की उम्मीद है। हैरानी की बात यह है कि बीजीएमआई को बैन हुए तीन महीने से अधिक का समय हो गया है, लेकिन अब भी इससे जुड़े लोगों को लगता है कि इस साल के अंत तक गेम की वापसी हो सकती है। बैटलग्राउंड मोबाइल इंडिया में ऑटोमैटिक हेडशॉट्स, अनलिमेटेड यूसी, नो रीकॉइल आदि को इंस्टॉल करने के लिए हैक और स्क्रिप्ट मौजूद हैं। ‘No grass’ एक ऐसा ही पॉपुलर हैक है। कई धोखेबाज (cheaters) इसे बैटलग्राउंड मोबाइल इंडिया में भी आजमाते हैं। इसका मकसद अपने अकाउंट के लिए अनलिमिटेड सस्पेंशन प्राप्त करना होता है

BGMI

No grass APK download links फेक हैं या रियल

अगर आप गूगल पर No grass APK सर्च करें, तो आपको इससे जुड़े बहुत सारे रिजल्ट दिखाई देंगे, लेकिन बीजीएमआई 2.2 डाउनलोड लिंक के बार में 100 प्रतिशत संभावना है कि ये काम नहीं करेंगे। इसकी वजह यह है कि भारत में बीजीएमआई 2.2 पैच उपलब्ध नहीं है। क्राफ्टन ने जुलाई 2022 से बैटलग्राउंड मोबाइल इंडिया के लिए कोई भी पैच अपडेट की घोषणा या रोल आउट नहीं किया है। इसलिए बैटलग्राउंड मोबाइल इंडिया 2.2 से संबंधित कुछ भी अभी रियल नहीं है। इसका मतलब है कि गेम के लेटेस्ट वर्जन से संबंधित कोई भी ‘नो ग्रास डाउनलोड लिंक’ फेक ही है। इसलिए आपको इसका उपयोग करने से बचना चाहिए। यह डिवाइस के लिए भी खतरनाक हो सकता है। क्राफ्टन ने भी उल्लेख किया है कि बैटलग्राउंड मोबाइल इंडिया के अनऑफिशियल/क्रैक्ड गेम क्लाइंट्स को इंस्टॉल करने से अकाउंट सस्पेंड हो जाएगा।

यह भी पढ़ेंः BGMI 2.3 Update Download apk : जानें बीजीएमआई रिलीज डेट, एपीके डाउनलोड लिंक से जुड़ी लेटेस्ट जानकारी

क्यों किया गया था बैन

एक ट्विटर यूजर GodYamrajOP ने इस महीने की शुरुआत में एक RTI दायर कर इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय (MeitY) से बैटलग्राउंड मोबाइल इंडिया (BGMI) प्रतिबंध के बारे में जानकारी मांगी थी। इस आवेदन में दो सवाल थे, एक तो आधिकारिक स्टोर से बीजीएमआई को हटाने का कारण और दूसरा क्या क्राफ्टन के अधिकारियों की सरकार के साथ बैठक हुई थी? MeitY की ओर से आई प्रतिक्रिया अब आधिकारिक तौर पर समुदाय के लिए उपलब्ध है। अधिकारी ने पुष्टि कि बीजीएमआई को धारा 69A के तहत बैन किया गया है। भारत सरकार ने यह भी पुष्टि की कि उन्होंने क्राफ्टन अधिकारी के साथ बैठकें की हैं। हालांकि इसे प्रकट नहीं किया जा सकता है, क्योंकि सूचना प्रौद्योगिकी नियम 2019 के नियम 16 ​​में ऐसे मामलों के बारे में सख्त गोपनीयता की आवश्यकता होती है। इस बीच गेमिंग से जुड़े लोगों को लगता है कि बीजीएमआई (BGMI) निश्चित रूप से वापसी करेगा, लेकिन तारीख अभी तक ज्ञात नहीं है। …तो देखते हैं आने वाले दिनों में क्या होता है।

यह भी पढ़ेंः Free Fire OB37 Update Features: गेमर्स की होगी मौज, अपडेट में मेगा इवेंट्स, नया पेट सहित मिलने वाला है बहुत कुछ


अमित कुमार निधि का नाम आपने दैनिक जागरण न्यूज पेपर में अक्सर पढ़ा होगा। जागरण में कई सालों तक इन्होंने कंज्यूमर और टेक्नोलॉजी पन्ना को संभाला और अब माय स्मार्ट प्राइस में एसोसिएट एडिटर के रूप में कार्यरत हैं। अमित को डिजिटल टेक्नोलॉजी के साथ रिसर्च काफी पसंद है। यही वजह है कि इनके फीचर आर्टिकल लगभग सभी बड़े मीडिया हाउस में पब्लिश होते रहे हैं। अपने 16 सालों के लंबे अनुभव में अमित ने लगभग हर तरह के आर्टिकल लिखे हैं जिनमें टेक्नोलॉजी के अलावा ट्रैवलॉग, एजुकेशन और बिजनेस लेख आदि शामिल हैं।

No posts to display