BGMI Unban Update : साल के अंत तक हो सकती है BGMI वापसी! जानें क्या है खबर

BGMI गेम ऐप को 28 जुलाई को Google Play Store और App Store से हटा दिया गया था। तब से गेमिंग कम्युनिटी से जुड़े लोग इस गेम की वापसी को लेकर उम्मीद बनाए हुए हैं

BGMI Unban Update

BGMI Unban Update: बैटलग्राउंड्स मोबाइल इंडिया (Battlegrounds Mobile India) गेम पर भारत में बैन लगने के बाद से ही खेल प्रेमी इस गेम की वापसी की उम्मीद लगाए बैठे हैं। हालांकि पिछले दिनों गेम की वापसी को लेकर कई रिपोर्ट सामने आ चुकी हैं। इस गेम कम्युनिटी से जुड़े लोग अभी भी इस उम्मीद में हैं कि गेम की वापसी होगी। कुछ रिपोर्ट के मुताबिक, इस साल के अंत से पहले आप गेम वापसी की उम्मीद कर सकते हैं। वॉर मेनिया के फाउंडर हृषभ भट्टाचार्जी ने दावा किया कि बीजीएमआई (BGMI) इस साल वापस आ जाएगा। उन्होंने यह भी उल्लेख किया था कि क्राफ्टन कुछ बदलाव करेगा और अगले कुछ हफ्तों में एक बयान जारी कर सकता है। बता दें कि BGMI भारतीय गेमिंग बाजार में सबसे लोकप्रिय गेम ऐप में से एक रहा है। BGMI गेम ऐप को 28 जुलाई को Google Play Store और App Store से हटा दिया गया था। तब से गेमिंग कम्युनिटी से जुड़े लोग इस गेम की वापसी को लेकर उम्मीद बनाए हुए हैं और इस संबंध में सकारात्मक बयान भी पोस्ट कर रहे हैं।

BGMI वापसी की उम्मीदें

वार मेनिया के फाउंडर और सीईओ Hrishav Bhattacharjee ने कहा कि बीजीएमआई बैन को लेकर सरकार और क्राफ्टन के बीच कई बार निजी बैठकें हुई हैं। इसमें डेटा प्राइवेसी की चिंताओं पर भी चर्चा हुई। प्लेयर अक्टूबर के मध्य या नवंबर की शुरुआत में गेम की वापसी की उम्मीद कर सकते हैं।

Starwalr Esports के को-फाउंडर Towqeer Gilkar ने कहा है कि उन्होंने गेम के डेवलपर्स के साथ कुछ बैठकों में भाग लिया है, जहां गेम बैन के संबंध में चर्चा हुई। उन्होंने कहा कि बैठक सकारात्मक नोट पर संपन्न हुई थी। बीजीएमआई के वापसी की संभावना अधिक है और वह इसके बारे में 95 प्रतिशत तक निश्चित हैं। वहीं ग्लोबल ई-स्पोर्ट्स (लोकप्रिय बीजीएमआई ई-स्पोर्ट्स टीमों में से एक) के सीईओ Rushindra Sinha ने अपने लेटेस्ट वीडियो में इनसाइड सोर्स के माध्यम से बीजीएमआई (BGMI) के संभावित अनबैन के संकेत दिए हैं।

बता दें कि सरकार ने सुरक्षा चिंताओं के कारण बीजीएमआई पर प्रतिबंध लगा दिया गया था, क्योंकि गेम चीनी सर्वर के संपर्क में रहा है और भारतीय यूजर्स डेटा के साथ संचार कर रहा है। यदि डेटा माइग्रेशन नोटिस सही है, तो क्राफ्टन का एक नया बीजीएमआई ऐप हो सकता है, जिसने PUBG मोबाइल पर प्रतिबंध लगाने के बाद एक नया ऐप जारी किया था। अगर सरकार की तरफ से इस गेम को हरी झंडी मिलती है, तो फिर हम गेमप्ले और मैकेनिक्स में कुछ बदलाव की उम्मीद कर सकते हैं।

यह भी पढ़ेंः PUBG Mobile 2.2 update : जानें पबजी 2.2 रिलीज डेट, टाइम और फीचर से जुड़ी पूरी डिटेल

BGMI 2.2 Update

Account Migration मैसेज की बातें

इंटरनेट पर कई रिपोर्ट्स सामने आ रही हैं, जहां स्पेसिफिक आईडी (specific IDs) गेम के सर्च रिजल्ट में नहीं दिखाई दे रही हैं। हालांकि ये कुछ रैंकिंग स्टेट्स पेज पर सूचीबद्ध हैं, लेकिन अपनी आईडी ओपन करने पर उन्हें एक माइग्रेशन नोटिस दिखाई देता है। माइग्रेशन नोटिस में लिखा है: ‘जिस खिलाड़ी को आप देख रहे हैं वह बैटलग्राउंड मोबाइल इंडिया में माइग्रेट हो गया है।’ क्राफ्टन खिलाड़ियों के डेटा को नए सर्वरों में ट्रांसफर कर सकता है, क्योंकि वर्तमान सर्वरों पर चीनी सर्वरों के साथ संचार करने का आरोप है।

हैरानी की बात यह है कि इस बार भी माइग्रेशन प्रॉम्प्ट PUBG Mobile-BGMI data transfer के दौरान जैसा ही दिखता है। बता दें कि वर्ष 2021 में क्राफ्टन ने भारत में ex-PUBG Mobile यूजर्स को अपने अकाउंट को वास्तविक गेम से नए में ट्रांसफर करने का मौका दिया था। इसका मतलब यह भी हो सकता है कि गेम को वर्चुअल स्टोरफ्रंट पर वापस लाने के लिए क्राफ्टन एक नया बीजीएमआई ऐप (BGMI app) पेश करेगा।

डेटा ट्रांसफर पूरा होने के बाद प्लेयर्स PUBG Mobile में शिफ्ट किए गए अकाउंट को सर्च नहीं कर पाएंगे। कुछ अकाउंट ने बीजीएमआई में समान सूचनाएं प्रदर्शित करना शुरू कर दिया है। लेकिन फिलहाल डेटा ट्रांसफर के बारे में अटकलें लगाना और इसे PUBG मोबाइल की पुरानी घटना से जोड़ना जल्दबाजी होगी। यह एक गड़बड़ी भी हो सकता है, क्योंकि हाल के प्रतिबंध के बाद इंटरनल सर्वर से जुड़े मुद्दे भी हैं और क्राफ्टन गेम को चलाने के लिए मामूली अपडेट पर जोर दे रहा हो। हालांकि UC पर्चेज के विकल्प को छोड़कर गेम ठीक काम कर रहा है।

यह भी पढ़ेंः PUBG Mobile Lite Update : जानें कैसे डाउनलोड करें लेटेस्ट पबजी मोबाइल लाइट एपीके