जल्द होगी 5G स्पेक्ट्रम की नीलामी, मिलेगी सबसे तेज इंटरनेट स्पीड

5G
5G

भारत में जल्द ही 5G Spectrum की नीलामी होने वाली है। इसे लेकर साल 2021 में सेक्रेटरी ऑफ टेलीकम्युनिकेशन डिपार्टमेंट और डिजिटल कम्युनिकेशन कमीशन के चेयरमैन के. राजारमन ने घोषणा की थी। बताया जा रहा है कि, 5जी सर्विस की मदद से इकॉनमी में करीब $450 बिलियन डॉलर की बढ़ोतरी होगी। यह बढ़त विकास और नौकरियों से संबंधित क्षेत्र में होगी। 5G सेवाओं की मदद से इकॉनमी के साथ-साथ स्टार्टअप इकोसिस्टम, सरकारी कामकाज, आसान जिंदगी और बिजनेस करने में भी काफी आसानी होगी। यहां तक की कई विदेशी कंपनियां भी भारत में निवेश जरूर करेंगी। 5 जी सेवाओं को लेकर अपार संभावनाएं नजर आती है, आइये, इस पोस्ट में आपको बताते हैं कि, भारतीय सरकार का इसे लेकर आगे क्या प्लान है।

यह भी पढ़ेंः iQOO Neo 6 ने मारी धांसू एंट्री, मिलेगा दमदार Snapdragon 870 5G प्रोसेसर 80W चार्जिंग और कई खूबियां

कब होगी नीलामी

यूनियन मिनिस्टर अश्विनी वैष्णव का मानना है कि, 5G सर्विसेज को लेकर अगस्त या सितंबर में नीलामी शुरू होगी। सभी टेलीकॉम कंपनियों को स्पेक्ट्रम की नीलामी के बाद 6 महीने का वक्त दिया जाएगा, ताकि वे अच्छी तरह 5जी सर्विस को शुरू कर सकें। वहीं सभी टेलीकॉम कंपनियों को मई 2022 तक का समय मिला है, ताकि वे अपनी 5G सर्विसेज की अच्छी तरह टेस्टिंग करें। सही टेस्टिंग के बाद ही 5G सेवा ग्राहकों तक पहुंच सकती है। इसके साथ ही सभी टेलीकॉम निर्माता शुरुआत में बड़े शहरों तक ही सीमित रह सकते हैं, जिसके बाद इसे सभी लोगों तक पहुंचाया जाएगा।

इस बारे में गुजरात के स्टेट ऑफ कम्युनिकेशन मिनिस्टर देवुसिंह चौहान ने कहा कि स्पेक्ट्रम ऑक्शन जल्दी किए जाएंगे और नई 5जी सर्विस इस साल के अंत तक शुरू हो जाएगी। इसके साथ ही उन्होंने बताया कि भारत की चार कंपनियों को स्पेक्ट्रम अलॉट हुआ और जल्द ही ट्रायल पूरा हो जाएगा।
जानकारी के लिए बता दें कि, इससे पहले फाइनेंस मिनिस्टर निर्मला सीतारमण ने भी बजट के दौरान कहा था कि, 5G मोबाइल सर्विसेज साल 2022-2023 में शुरू हो जाएंगी।

इसके अलावा भारत की जानी-मानी टेलीकॉम कंपनियां जैसे Airtel,Reliance Jio, Vodafone-idea ने 5G सर्विसेज की टेस्टिंग शुरू कर दी है। भारतीय सरकार भी सभी टेलीकॉम कंपनियों के साथ बातचीत कर रही है, यानी अब स्पेक्ट्रम की नीलामी भी जल्द होने वाली है। 

यह भी पढ़ेंः Honor 70 सीरीज में लॉन्च हुए तीन तगड़े डिवाइस, इनमें है Dimensity 9000 प्रोसेसर सहित कई खूबियां

कुछ दिन पहले ट्राई ने कई बैंडों में लगभग 7.5 लाख करोड़ रुपये के एयरवेव की नीलामी करने की योजना के बारे में बताया था।
 सऊदी गजट की रिपोर्ट के मुताबिक ट्राई ने जो योजना बनाई है, उसमें मौजूदा बैंड में सभी उपलब्ध स्पेक्ट्रम 700 मेगाहर्ट्ज, 800 मेगाहर्ट्ज, 900 मेगाहर्ट्ज, 1800 मेगाहर्ट्ज, 2100 मेगाहर्ट्ज, 2300 मेगाहर्ट्ज, 2500 मेगाहर्ट्ज और नए स्पेक्ट्रम बैंड जैसे 600 मेगाहर्ट्ज, 3300-3670 मेगाहर्ट्ज और 24.25-28.5 गीगाहर्ट्ज़ की नीलामी की जाएगी।

रोल-आउट के हिस्से के रूप में, भारत 2022 तक अपने फाइबर बैकबोन को 1.5 मिलियन किलोमीटर से बढ़ाकर 2.5 मिलियन किलोमीटर (1.6 मिलियन मील) करने का लक्ष्य बना चुका है।
इसके साथ ही 5G तकनीक से ग्लोबल मार्केट 83.24 बिलियन डॉलर होने की बात सामने आई है। जो साल 2025 तक 23 प्रतिशत की सीएजीआर से बढ़कर 188 अरब डॉलर का हो सकता है।


अंकित ने पत्रकारिता की शुरुआत स्पोर्ट्स जर्नलिस्ट के रूप में की थी लेकिन तकनीकी के प्रति विशेष रुझान इन्हें Mysmartprice हिंदी में लेकर आया है। पत्रकारिता के दौरान इन्होंने एक चीज बखूबी सीखा है और वह है आसान भाषा में लोगों को सटीक जानकारी देना। और यही खूबी इन्हें दूसरों से अलग बनाती है। यहां अंकित मोबाइल और तकनीक के साथ ऑटोमोबाइल्स सेग्मेंट को भी कवर करते हैं। पत्रकारिता में इन्हें 5 साल से ज्यादा का अनुभव है जहां इन्होंने राज एक्सप्रेस, थिंक विथ नीश, स्टेट न्यूज और बंसल न्यूज जैसे आर्गेनाइजेशन में अपना योगदान दिया है। इन्होंने माखनलाल चतुर्वेदी नेशनल यूनिवर्सिटी ऑफ जर्नलिज्म एंड कम्यूनिकेशन से मास्टर डिग्री ली है। साथ ही टाइम्स ग्रुप से बैंकिंग मैनेजमेंट में डिप्लोमा भी किया है।