Adani ग्रुप को मिला टेलीकॉम लाइसेंस, Jio और Airtel को लग सकता है झटका

सामने आया है कि Adani Data Network Limited (ADNL) को दूरसंचार सेवाओं के लिए एकत्रित लाइसेंस दिया गया है।

Adani Group gets telecom license
Adani Group

भारत और एशिया में सबसे अमीर और दिग्गज उद्योगपति Gautam Adani की कंपनी को अब टेलीकॉम लाइसेंस मिल चुका है।  यानी कि अब कंपनी पूरे भारत में Airtel और Jio की तरह टेलीकॉम सर्विस को फैला सकती है। आपको बता दें कि कुछ समय पहले हुई 5G स्पेक्ट्रम की नीलामी में Adani Group ने भी हिस्सेदारी ली  थी। जिसके बाद से ही अटकलें थी कि क्या टेलीकॉम क्षेत्र में कंपनी विस्तार करने वाली है। वहीं अब सामने आया है कि Adani Data Network Limited (ADNL) को दूरसंचार सेवाओं के लिए एकत्रित लाइसेंस दिया गया है। 

बता दें कि Adani Group को टेलीकॉम लाइसेंस मिलने की बात दो खास सूत्रों से सामने आई है। जिसमें बताया गया है कि अडानी डाटा नेटवर्क को UL (AS) लाइसेंस  लाइसेंस दिया गया है। यह भी बताया गया है कि यह लाइसेंस कंपनी को सोमवार को प्राप्त हुआ है। यानी कि इसके जरिए कंपनी पूरे भारत में टेलीकॉम सर्विस का विस्तार कर सकती है और अगर ऐसा होता है तो भारत में मौजूद एयरटेल जिओ और vodafone-idea को झटका लग सकता है।

यह भी पढ़ें:केवल 5,699 रुपये में खरीदें Realme C30, शानदार डिजाइन और फीचर्स से लैस है फोन

Adani Group ने खरीदा था 5G spectrum

अडानी ग्रुप ने हाल ही में संपन्न हुई 5G स्पेक्ट्रम नीलामी में 212 करोड़ रुपये का खर्च किया था। जिसमें कंपनी ने 400 मेगाहर्ट्ज का स्पेक्ट्रम हासिल किया है। हालांकि स्पेक्ट्रम के दौरान कंपनी द्वारा बताया गया था कि कंपनी अपने ग्रुप के खास कामों के लिए यह स्पेक्ट्रम हासिल कर रही है। वहीं, अब टेलीकॉम लाइसेंस मिलने के बाद नजरिया कुछ अलग हो सकता है।

Gautam Adani

एयरटेल और जिओ को लग सकता है झटका

जिस तरह से अडानी ग्रुप को टेलीकॉम लाइसेंस मिलने की खबरें जोर पकड़ रही हैं।  माना जा रहा है कि कंपनी अपनी 5जी सेवाओं का विस्तार कर सकती है। जिसके चलते भारत में मौजूद दिग्गज टेलीकॉम कंपनी जिओ और एयरटेल को टक्कर मिल सकती है। हालांकि फिलहाल अडानी ग्रुप की ओर से टेलीकॉम लाइसेंस को लेकर कोई आधिकारिक ऐलान नहीं हुआ है।

बताते चलें कि बीएसएनएल के साथ इस समय भारत में सबसे ज्यादा जिओ, एयरटेल और वोडाफोन आइडिया कि टेलीकॉम सर्विसेज चल रही है। वहीं, अगर अडानी ग्रुप टेलीकॉम क्षेत्र में एंट्री करता है तो भारतीय यूजर्स को एक और नया विकल्प मिल जाएगा। अब देखना यह है कि कंपनी की ओर से इस लाइसेंस को लेकर कब कोई नई जानकारी सामने आती है।

यह भी पढ़ें: 12,000 रुपये से ज्यादा के डिस्काउंट के साथ Realme GT Neo 3T हुआ सबसे सस्ता, जानें प्राइस और फीचर्स


अंकित ने पत्रकारिता की शुरुआत स्पोर्ट्स जर्नलिस्ट के रूप में की थी लेकिन तकनीकी के प्रति विशेष रुझान इन्हें Mysmartprice हिंदी में लेकर आया है। पत्रकारिता के दौरान इन्होंने एक चीज बखूबी सीखा है और वह है आसान भाषा में लोगों को सटीक जानकारी देना। और यही खूबी इन्हें दूसरों से अलग बनाती है। यहां अंकित मोबाइल और तकनीक के साथ ऑटोमोबाइल्स सेग्मेंट को भी कवर करते हैं। पत्रकारिता में इन्हें 5 साल से ज्यादा का अनुभव है जहां इन्होंने राज एक्सप्रेस, थिंक विथ नीश, स्टेट न्यूज और बंसल न्यूज जैसे आर्गेनाइजेशन में अपना योगदान दिया है। इन्होंने माखनलाल चतुर्वेदी नेशनल यूनिवर्सिटी ऑफ जर्नलिज्म एंड कम्यूनिकेशन से मास्टर डिग्री ली है। साथ ही टाइम्स ग्रुप से बैंकिंग मैनेजमेंट में डिप्लोमा भी किया है।

No posts to display