अब आकाश अंबानी को मिली रिलायंस जिओ इनफोकॉम लिमिटेड की कमान

जिओ के 4G इको सिस्टम को खड़ा करने का श्रेय काफी हद तक आकाश अंबानी को ही जाता है। 2020 में दुनिया भर की बड़ी टेक कंपनियों ने जिओ में निवेश किया था

Akash Ambani and Mukesh Ambani

जाने-माने उद्योगपति मुकेश अंबानी के बड़े बेटे आकाश अंबानी अब रिलायंस जिओ इनफोकॉम लिमिटेड (reliance jio infocomm limited) के चेयरमैन होंगे। 27 जून को हुई बोर्ड ऑफ डायरेक्टर्स की मीटिंग में उनके नाम पर मोहर लगी। इससे पहले आकाश अंबानी (Akash Ambani) बोर्ड में नॉन एग्जिक्यूटिव डायरेक्टर के पद पर कार्यरत थे। मंगलवार को स्टॉक एक्सचेंज में कंपनी की तरफ से की गई फाइलिंग में यह बात सामने आई है।

मुकेश अंबानी ने चेयरमैन पद से दिया इस्तीफा

ब्राउन यूनिवर्सिटी से अर्थशास्त्र में स्नातक आकाश अंबानी से पहले उनके पिता मुकेश अंबानी (Mukesh Ambani) कंपनी के चेयरमैन के नाते काम देख रहे थे। मुकेश अंबानी का चेयरमैन पद से इस्तीफा भी बोर्ड ने स्वीकार कर लिया है। आपको बता दें कि इस नियुक्ति को नई पीढ़ी को नेतृत्व सौंपने के तौर पर देखा जा रहा है। मुकेश अंबानी जिओ प्लेटफॉर्म्स लिमिटेड के चेयरमैन बने रहेंगे।

जिओ के 4G इको सिस्टम को खड़ा करने का श्रेय काफी हद तक आकाश अंबानी को ही जाता है। 2020 में दुनिया भर की बड़ी टेक कंपनियों ने जिओ में निवेश किया था, वैश्विक निवेश को भारत लाने में भी आकाश ने खूब मेहनत की थी।

पंकज पवार होंगे मैनेजिंग डायरेक्टर

एक और बड़ा बदलाव करते हुए रिलायंस जिओ इनफोकॉम लिमिटेड ने पंकज पवार को अगले 5 वर्षों के लिए कंपनी का मैनेजिंग डायरेक्टर नियुक्त किया है। एडिशनल डायरेक्टर रामिंदर सिंह गुजराल और केवी चौधरी अब स्वतंत्र निदेशकों को तौर पर काम देखेंगे। उनकी नियुक्ति भी 5 वर्षों के लिए प्रभावी होगी। शेयरधारकों के अनुमोदन के बाद ही यह नियुक्तियां मान्य होंगी।

आज Jio भारतीय दूरसंचार के क्षेत्र में लीडर की स्थिति में है। कंपनी तीसरी तिमाही में 3,615 करोड़ रुपये की तुलना में Q4FY22 में 4,173 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ दर्ज किया था। परिचालन से स्टैंडअलोन राजस्व 20,901 करोड़ रुपये रहा, जो एक साल पहले की अवधि में 17,358 करोड़ रुपये की तुलना में 20.4 प्रतिशत अधिक है।