साल 2032 तक 4.7 लाख के हो जाएंगे Apple iPhone, देखें ये हैरान करने वाले आंकड़े

फ्लैगशिप स्मार्टफोंस मौजूदा समय में 1 लाख से 2 लाख की कीमत तक पहुंच गए है। भारतीय बाजार में मोबाइल फोंस की इस तरह की कीमतें होना एक बड़ा मसला है।

Apple iphone
Apple iPhone

पिछले कुछ वर्षों में स्मार्टफोन बाजार (smartphone market) तेजी से आगे बढ़ा है। इसके साथ स्मार्टफोन की कीमतों में भी बड़े बदलाव देखने को मिले हैं। जहां पहले स्मार्टफोंस कम कीमतों में मिलते थे, अब नए फ्लैगशिप डिवाइस भारी कीमत पर पेश किया जा रहा है। दमदार स्मार्टफोंस की कीमतों को कम करने के लिए कंपनियां बैंक ऑफर का सहारा लेती है। लेकिन इसके बावजूद ग्राहकों को ज्यादा फायदा नहीं होता। अगर पिछले 7 या 8 सालों का इतिहास देखें, तो स्मार्टफोंस की कीमतों में काफी बदलाव देखने को मिला है।  

स्मार्टफोंस मौजूदा समय में 1 लाख से 2 लाख रुपये की कीमत तक पहुंच गए हैं। दुनिया की प्रमुख कंपनियां जैसे Apple और Samsung अपने फ्लैगशिप डिवाइस को इसी कीमत में सेल कर रहीं हैं। इसके साथ ही कुछ फोल्डेबल डिवाइस भी भारत में पेश होने को तैयार है, जिनकी कीमत दो लाख के करीब बताई गई है। बताया जा रहा है कि इस कीमत में आने वाले समय में और भी बढ़ोतरी हो सकती है। Mozillion की रिपोर्ट के मुताबिक, साल 2032 तक ग्राहकों को नए आईफोन डिवाइस के लिए 4.7 लाख तक खर्च करना पड़ सकता है। आइये, आपको आगे इस पोस्ट में कुछ ऐसे आंकड़ों के बारे में बताते हैं, जो आपको हैरान कर सकते हैं।

यह भी पढ़ेंः iQOO के तगड़े स्मार्टफोंस Iqoo 9, Iqoo Z6 और Iqoo Neo 6 पर है बड़ा ऑफर, आप भी उठाए फायदा

4.7 लाख के हो जाएंगे Apple डिवाइस

जानकारी के लिए बता दें कि मोजिलियन का ताजा एनालिसिस पिछले 10 सालों में  स्मार्टफोन की बढ़ती कीमत और आने वाले 10 सालों में स्मार्टफोन्स की कीमत पर हुआ है। जहां पता चला है कि स्मार्टफोन्स की कीमत आने वाले समय में ग्राहकों को डरा सकती है। Mozillion के मुताबिक, iPhone की कीमत 2012 में 199 डॉलर यानी करीब 45,500 रुपये हुआ करती थी, जो साल 2021 में 1,099 डॉलर यानी iPhone 13 Pro Max के मुताबिक, 1,29,900 रुपये तक हो गई है। यह आंकड़े बताते हैं कि इसमें 452 प्रतिशत की भारी बढ़ोतरी हुई है।

रिपोर्ट में बताया गया है कि अगर यह ऐसे ही चलता रहा, तो अगले 10 सालों में यानी साल 2032 तक फ्लैगशिप आईफोन की कीमत 6,069 डॉलर यानी 4.7 लाख रुपये तक हो जाएगी। ऐपल के साथ ही मोटोरोला और हुआवेई फ्लैगशिप फोन भी कीमत के मामले में बड़े प्लेयर हैं, आने वाले 10 सालों में इनके डिवाइस की कीमत भी आसमान छू सकती है। हुआवेई के हाई-एंड फोन की कीमत साल 2032 में 3,300 डॉलर यानी 2.57 लाख रुपये हो सकती है।

यह भी पढ़ेंः Lava का ये नया स्मार्टफोन फोन जीत लेगा दिल, केवल 10,000 रुपये में मिलेगा ग्लास बैक पैनल डिवाइस

इसी तरह हाई-एंड मोटोरोला फोन की कीमत 2012 में 299.99 डॉलर यानी लगभग 16,000 रुपये थी, जो साल 2022 में बढ़कर 999.99 डॉलर यानी लगभग 78,000 रुपये हो गई है। इसमें 233 प्रतिशत की बढ़ोतरी देखी गई है। अगर ऐसा ही आगे भी चलता रहा, तो मोटोरोला फोन की कीमत साल 2032 तक 3,333 डॉलर यानी लगभग 2.8 लाख रुपये होने की उम्मीद है।

अगर सैमसंग की बात करें, तो कंपनी अपने हाई-एंड फ्लैगशिप में लगभग 184 प्रतिशत की बढ़ोतरी के साथ चौथे स्थान पर है। वहीं, पिछले 10 सालों में प्रीमियम नोकिया फोन की कीमतों में सबसे कम बढ़ोतरी देखने को मिली है। जो कि केवल 55 प्रतिशत सामने आई है। जबकि साल 2032 तक 142 प्रतिशत की बढ़ोतरी के साथ वनप्लस फोन की कीमत 2,342 डॉलर यानी लगभग 1.8 लाख रुपये होने का अनुमान है। अब देखना यह है कि आने वाले 10 सालों में ये हैरान करने वाले आंकड़े किस हद तक सही साबित होते हैं। 

यह भी पढ़ेंः OnePlus 10T की खास तस्वीरें हुई वायरल, जानें कब लॉन्च होगा डिवाइस


अंकित ने पत्रकारिता की शुरुआत स्पोर्ट्स जर्नलिस्ट के रूप में की थी लेकिन तकनीकी के प्रति विशेष रुझान इन्हें Mysmartprice हिंदी में लेकर आया है। पत्रकारिता के दौरान इन्होंने एक चीज बखूबी सीखा है और वह है आसान भाषा में लोगों को सटीक जानकारी देना। और यही खूबी इन्हें दूसरों से अलग बनाती है। यहां अंकित मोबाइल और तकनीक के साथ ऑटोमोबाइल्स सेग्मेंट को भी कवर करते हैं। पत्रकारिता में इन्हें 5 साल से ज्यादा का अनुभव है जहां इन्होंने राज एक्सप्रेस, थिंक विथ नीश, स्टेट न्यूज और बंसल न्यूज जैसे आर्गेनाइजेशन में अपना योगदान दिया है। इन्होंने माखनलाल चतुर्वेदी नेशनल यूनिवर्सिटी ऑफ जर्नलिज्म एंड कम्यूनिकेशन से मास्टर डिग्री ली है। साथ ही टाइम्स ग्रुप से बैंकिंग मैनेजमेंट में डिप्लोमा भी किया है।