बस है या ट्रेन ? यह है दुनिया की पहली डुअल मोड व्हीकल

dual-mode vehicle

जापान (Japan) ने सार्वजनिक उपयोग के लिए दुनिया का पहला डुअल-मोड वाहन (dual-mode vehicle) या DMV तैनात किया। DMV एक मिनीबस की तरह दिखती है और नियमित रबर टायरों का उपयोग करके पारंपरिक सड़कों पर चल सकती है, लेकिन जो चीज इसे खास बनाती है वह यह है कि इसमें स्टील के पहिये लगे होते हैं, जो इंटरचेंज स्टेशनों पर सक्रिय हो जाते हैं ताकि वाहन को ट्रेन की तरह रेल पर चलने में मदद मिल सके।
यह भी पढ़ेंः Evtric Motors ने पेश किए तीन हाई-स्पीड इलेक्ट्रिक टू-व्हीलर्स, फुल चार्ज में मिलती है 120km की रेंज

दुनिया के पहले डीएमवी को जापानी शहर कायो में जनता के लिए शुरू की गई है। हालांकि सड़कों पर दौड़ते समय यह साधारण बस की तरह ही लगती है, मगर इंटरचेंज स्टेशनों पर स्टील के पहिये सामने के रबर के टायरों को जमीन से ऊपर उठाते हैं, जबकि पीछे के रबर के टायर DMV को रेल ट्रैक पर धकेलते हैं।

कायो में तैनात डीएमवी सड़क पर 100km की अधिक रफ्तार से चलती है, लेकिन पटरियों पर इसकी स्पीड 60 km प्रति घंटे की अधिकतम है। इसमें एक बार में 21 लोगों को ले जाने की क्षमता है। इसमें पावर के लिए डीजल मोटर का इस्तेमाल किया गया है और यह DMV कई कलर विकल्पों में आती है। डीएमवी स्थानीय लोगों (बस के रूप में) तक पहुंच सकता है और उन्हें रेलवे में भी ले जा सकता है।

डीएमवी में पर्यटकों के आकर्षण का केंद्र बनने की क्षमता है। ग्रामीण क्षेत्रों के लोगों के लिए इसका विशेष महत्व है और विशेष रूप से उम्रदराज लोगों की मदद करते हैं। DMV सेवा आंशिक रूप से दक्षिणी जापान में शिकोकू द्वीप के तट के साथ-साथ यात्रियों के लिए एक सुंदर दृश्य प्रदान करेगी। यह पर्यटकों की आय का जरिया भी बन सकता है। यह भी पढ़ेंः Benelli TRK 251 और KTM 250 Adventure में जानें कौन सी बाइक है ज्यादा पावरफुल