अब WhatsApp के MyGov हेल्पडेस्क से ले पाएंगे डिजिलॉकर सेवाओं का लाभ, जानें कैसे

whatsapp MyGov

अब आप वाट्सऐप (WhatsApp) के MyGov हेल्पडेस्क पर भी डिजिलॉकर सेवाओं का लाभ ले सकते हैं। MyGov ने घोषणा की है कि WhatsApp के ‘MyGov’ हेल्पडेस्क पर नागरिक अब डिजिलॉकर सेवाओं (digilocker services) का उपयोग कर सकते हैं। सभी सुविधाएं जैसे कि डिजिलॉकर खाते को बनाना और प्रमाणित करना, पैन कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस, वाहन पंजीकरण प्रमाण पत्र जैसे दस्तावेज डाउनलोड करना आदि सभी कुछ WhatsApp पर उपलब्ध होगा। सरकार डिजिटल इंडिया के माध्यम से ईज ऑफ लिविंग को बढ़ावा देने के लिए काम कर रही है और WhatsApp पर उपलब्ध ‘माई जीओवी’ हेल्पडेस्क के द्वारा यूजर्स तक सरकारी सेवाएं सुनिश्चित करने की दिशा में एक बड़ा कदम है।

MyGov हेल्पडेस्क
वाट्सऐप पर ‘माई जीओवी’ हेल्पडेस्क की मदद से आप पैन कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस, सीबीएसई दसवीं कक्षा का उत्तीर्ण प्रमाण पत्र, वाहन पंजीकरण प्रमाणपत्र (आरसी), बीमा पॉलिसी – दोपहिया, दसवीं कक्षा की मार्कशीट, बारहवीं कक्षा की मार्कशीट, बीमा पॉलिसी दस्तावेज (डिजीलॉकर पर उपलब्ध लाइफ तथा नॉन-लाइफ पॉलिसी) हासिल कर सकते हैं। WhatsApp यूजर्स +91 9013151515 पर ‘नमस्ते’ या ‘Hi’ या ‘डिजिलॉकर’ भेजकर चैटबॉट का उपयोग कर सकते हैं।
यह भी पढ़ेंः KTM RC390 से Bajaj Pulsar N160 तक, जल्द लॉन्च होने वाली हैं ये धांसू बाइक, जानें पूरी डिटेल

आपको बता दें कि WhatsApp पर ‘माई जीओवी’ हेल्पडेस्क (जिसे पहले ‘माई जीओवी’ कोरोना हेल्पडेस्क के नाम से जाना जाता था) ने यूजर्स को कोविड से संबंधित जानकारी के साथ वैक्सीन अपॉइंटमेंट जैसे कार्यों में काफी मदद की। इन सुविधाओं में वैक्सीन अपॉइंटमेंट बुकिंग और वैक्सीन प्रमाणपत्र डाउनलोड करना भी शामिल हैं। अब तक 80 मिलियन से अधिक लोग हेल्पडेस्क का इस्तेमाल कर चुके हैं, 33 मिलियन से अधिक वैक्सीन प्रमाणपत्र डाउनलोड किए जा चुके हैं और देश भर में लाखों टीकाकरण के लिए अपॉइंटमेंट बुक किए जा चुके हैं।

डिजिलॉकर जैसी नई सुविधा के साथ WhatsApp पर ‘माई जीओवी’ चैटबॉट का उद्देश्य यूजर्स के लिए आवश्यक सेवाओं तक आसान पहुंच बनाना है। इस डिजिलॉकर सेवा की शुरुआत पर ‘माई जीओवी’ से सीईओ अभिषेक सिंह ने कहा कि माई जीओवी हेल्पडेस्क पर डिजिलॉकर सेवाओं की पेशकश एक अच्छी शुरुआत है और नागरिकों को WhatsApp के माध्यम से आवश्यक सेवाओं तक पहुंच प्रदान करने की दिशा में एक बड़ा कदम है। इस समय डिजिलॉकर पर 100 मिलियन से भी ज्यादा लोग पंजीकृत हैं और अभी तक 5 बिलियन से ज्यादा दस्तावेज डाउनलोड किए जा चुके हैं। हमें विश्वास है कि अपने फोन द्वारा ही WhatsApp पर लाखों लोग प्रमाणिक दस्तावेजों और सूचनाओं का इस्तेमाल करके अपने आप को डिजिटली सशक्त बनाएंगे।
यह भी पढ़ेंः सबसे सस्ती हैं ये Electric Cars, जिन्हें अभी खरीद सकते हैं, जानें कीमत से लेकर फीचर तक