अब फोन की फ्लैश लाइट से पता चल जाएगा हर्ट रेट, नहीं लगाना होगा डॉक्टर का चक्कर

गूगल प्ले-स्टोर पर कई सारे ऐसे एप्स हैं जो स्मार्टफोन की फ्लैश लाइट से हृदय गति (हर्ट रेट) बताने का दावा करते हैं, लेकिन आपको बता दें कि इनमें से कोई भी एप भरोसेमंद नहीं है। या फिर कह सकते हैं हर्ट रेट को लेकर एप द्वारा दी गई जानकारी कितनी सटीक है इस बात का कोई ठोस सबूत नहीं है। लेकिन अब गूगल खुद आपको स्मार्टफोन की फ्लैशलाइट से हर्ट रेट की जानकारी देने वाला है। 

गूगल ने आधिकारिक तौर पर कहा है कि वह अपने फिट (FIT) एप के साथ रेस्पिरेटरी रेट मॉनिटर का सपोर्ट देने जा रहा है। इस फीचर के बाद स्मार्टफोन की फ्लैश लाइट पर उंगली रखकर हर्ट रेट के बारे में जानकारी मिल जाएगी। हालांकि ये फीचर शुरुआती तौर पर सिर्फ पिक्सल स्मार्टफोन यूजर्स को ही मिलेगा।

सभी पिक्सल फोन यूजर्स को ये फीचर इस महीने के अंत तक मिल जाएगा। हालांकि गूगल ने भी अपने फीचर को लेकर कहा है कि इसकी हर्ट रेट रिपोर्ट मेडिकल इस्तेमाल के लिए नहीं होगी, लेकिन यूजर्स को सटीक हर्ट रेट की रिपोर्ट मिलेगी। गूगल ने अभी तक इस बात की जानकारी नहीं दी है कि यह फीचर भविष्य में गूगल पिक्सल तक सीमित रहेगा या अन्य एंड्रॉयड फोन के लिए भी इसे जारी किया जाएगा।

गूगल हेल्थ के प्रोडक्ट मैनेजर ने कहा है कि कोई डॉक्टर मरीज का रेस्पिरेटरी सिस्टम (श्वसन तंत्र) की रिपोर्ट तैयार करता है, उसी तरह गूगल का यह फीचर काम करेगा। इसके साथ मशीन लर्निंग का भी सपोर्ट मिलेगा। 

गूगल फिट का यह फीचर काफी हद तक सैमसंग गैलेक्सी स्मार्टफोन के उसी फीचर की तरह है जिसमें स्मार्टफोन की फ्लैश लाइट पर उंगली रखकर स्ट्रेस और हर्ट रेट की जानकारी को हासिल की जा सकती थी।