1 जनवरी से बदल जाएगा Online Payment का तरीका, होने जा रहे हैं ये बदलाव

यह खबर उन सभी के लिए है जो ऑनलाइन पेमेंट करते हैं, क्योंकि Google, रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया RBI की गाइडलाइंस पर नियमों में कुछ बड़ा बदलाव हो रहा है और इसका असर ऑनलाइन पेमेंट का इस्तेमाल करने वालों पर पड़ेगा। इस नए नियम का प्रभाव Google की Google Ads, YouTube, Google Play Store और पेमेंट सर्विस जैसी सभी सर्विस लागू किया जाएगा। आइये जानते हैं Google द्वारा गूगल सर्विस इस्तेमाल करने वाले यूजर्स पर होने वाले इन नियमों के प्रभावों के बारे में जानकारी दे रहे हैं। इसे भी पढ़े: अब बिना इंटरनेट भी UPI से भेज सकते हैं पैसे, जानें यह बेहद सिंपल तरीका

सेव नहीं जाएगी ये जानकारी

गूगल 1 जनवरी 2022 से कस्टमर्स की कार्ड डिटेल जैसे कि कार्ड नंबर और एक्सपायरी डेट आदि को नहीं सेव करेगा जो कि अभी तक गूगल अपने सारे यूजर्स की कार्ड डिटेल को सेव किया करता है। कोई भी ग्राहक जब भुगतान करता था तो उसे सिर्फ अपना CVV नंबर ही दर्ज करना पड़ता था। मगर अब 1 जनवरी से ग्राहकों को मैनुअल ऑनलाइन पेमेंट करने के समय कार्ड नंबर, एक्सपायरी डेट और अन्य जानकारी ध्यान से एंटर करनी होगी। आपको बता दें कि RBI द्वारा संवेदनशील जानकारियों को सेफ रखने की पहले से कार्ड की जानकारी सेव नहीं करने की गाइडलाइन जारी की गई हैं।

क्या होगा बदलाव

Visa या Master card का आप अगर इस्तेमाल करते हैं और आप चाहतें हैं कि आपको बार-बार जानकारी एंटर ना करनी पड़े तो आपको नए फॉर्मेट में कार्ड की जानकारी को सेव करने के लिए अथोराइज्ड करना पड़ेगा। ग्राहक अपनी मौजूदा कार्ड की जानकारी के साथ एक ही मैनुअल पेमेंट कर पाएंगे। वहीं अपनी कार्ड की जानकारी दोबारा दर्ज करने से बचने के लिए 31 दिसंबर, 2021 से पहले ही पेमेंट करनी होगी। वहीं अगर आप RuPay, American Express, Discover या Diners कार्ड का यूज़ करते हैं तो Google द्वारा आपके कार्ड की जानकारी को 31 दिसंबर 2021 के बाद नहीं सेव किया जाएगा। नया फॉर्मेट इन कार्ड को सपोर्ट नहीं करता है। इसलिए आपको 1 जनवरी 2022 सभी मैनुअल पेमेंट के लिए कार्ड की जानकारी दर्ज करनी पड़ेगी।