JIO 5G Launch: दिवाली में शुरू जाएगी जिओ की 5G सेवा, दिसंबर 2023 तक पूरे देश में, जानें पूरी डिटेल

आज Reliance Industries (RIL) की 45th Annual General Meeting (AGM) में 5जी को लेकर कई बड़ी घोषणाएं की गई हैं।

JIO 5G Launch: दिवाली में रिलायंस जिओ की 5G सर्विस लॉन्च होगी। ये बात खुद रिलायंस इंडस्ट्रीज (RIL) के चेयरमैन और मैनेजिंग डायरेक्टर (CMD) Mukesh Ambani ने कही है। उन्होंने ये बात आज Reliance Industries (RIL) की 45th Annual General Meeting (AGM)में कही। इसमें 5जी को लेकर बड़ी घोषणाएं की गई हैं। उन्होंने कहा है कि दिवाली तक जिओ की 5G सेवा दिल्ली, मुंबई, कोलकाता और चेन्नई जैसे शहरों में शुरू हो जाएगी। वहीं दिसंबर 2023 तक देश के दूसरे शहरों, गांव और कस्बों सहित पूरे देश में जिओ 5G की सेवा पहुंच जाएगी।

Mukesh Ambani

RIL की 45वीं वार्षिक आम सभा (AGM) के मुख्य बिंदु

रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड के चेयरमैन एवं प्रबंध निदेशक मुकेश अंबानी ने कंपनी की 45वीं वार्षिक आम सभा (AGM) में कहा कि मुझे पूरी उम्मीद है कि अगले साल हम एक हाइब्रिड मोड पर मिलेंगे, जो भौतिक और डिजिटल दोनों तरीकों का एक संयोजन होगा। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 15 अगस्त के अपने भाषण में पंच-प्रण या पांच अनिवार्यताओं की बात की थी, जिससे निश्चित तौर पर भारत को वर्ष 2047 तक एक विकसित राष्ट्र बनाया जा सकेगा। उन्होंने अगले 25 वर्षों को भारत के ‘अमृत काल’ के रूप में वर्णित किया है – एक अमृत युग।

इस दौरान उन्होंने कहा कि स्वतंत्रता के बाद की सभी पीढ़ियों ने अब तक सामूहिक रूप से जो कुछ हासिल किया है, भारतीयों की अगली पीढ़ी उससे कहीं अधिक हासिल करने को तैयार हैं और रिलायंस भारत की समृद्धि और प्रगति में पहले से कहीं अधिक योगदान देने को तैयार है। महामारी से निपटने में सरकार के कुशल प्रबंधन और आर्थिक चुनौतियों से मुकाबला करने में उसके व्यावहारिक दृष्टिकोण ने भारत को पहले से अधिक मजबूत, पहले से अधिक समझदार और पहले से अधिक लचीला बनाने में मदद की है।

इस दौरान मुकेश अंबानी ने कहा कि मैं हम सबके प्रिय प्रधानमंत्री नरेंद्न मोदी को उनके दूरदर्शी नेतृत्व के लिए और वित्तमंत्री को अभूतपूर्व आर्थिक चुनौतियों और अस्थिरता के दौर में भारतीय अर्थव्यवस्था को संभालने के लिए बधाई देना चाहता हूं।स्वयं का भला करने से पहले दूसरों का भला करना। देखभाल के हमारे लगातार बढ़ते हुए दायरे ने वैश्विक स्तर पर रिलायंस के प्रति सम्मान को बढ़ाया है और कंपनी के सतत विकास को भी सुनिश्चित किया है।


100 बिलियन डॉलर वार्षिक राजस्व वाली पहली कॉर्पोरेट

Mukesh Ambani

हमारी कंपनी 100 बिलियन डॉलर वार्षिक राजस्व को पार करने वाली भारत की पहली कॉर्पोरेट बन गई है। रिलायंस का कंसोलिडेटेड राजस्व 47 प्रतिशत से बढ़कर 104.6 बिलियन डॉलर हो गया है। रिलायंस के वार्षिक कंसोलिडेटेड EBITDA ने ₹ 1.25 लाख करोड़ का महत्वपूर्ण पड़ाव पार कर लिया है। रिलायंस ने समुदाय की सेवा करने के लिए उच्च मानक स्थापित किए हैं। साथ ही, बड़े पैमाने पर व्यापार और सामाजिक मूल्यों की भी रचना की है। रिलायंस का निर्यात 75 प्रतिशत से बढ़कर ₹2,50,000 करोड़ हो गया है। राष्ट्रीय खजाने में रिलायंस का योगदान 39 प्रतिशथ से बढ़कर ₹1,88,012 करोड़ हो गया है। रिलायंस ने वित्त वर्ष 22 में 2.32 लाख नौकरियां दी हैं।

पिछले एक साल में RelianceJio ने भारत के नंबर 1 डिजिटल सेवा प्रदाता के रूप में अपनी स्थिति को और मजबूत किया है। आज हमारे 4G नेटवर्क पर 42 करोड़ 10 लाख मोबाइल ब्रॉडबैंड ग्राहक हैं और वे हर महीने औसतन 20GB डेटा का इस्तेमाल करते हैं। हमारे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के DigitalIndia विजन से प्रेरित होकर देश ने Aadhaar, JanDhan, Rupay, UPI, AyushmanBharat, StartUpIndia जैसे कई विश्वस्तरीय नेशनल प्लेटफॉर्म्स को बनते और बड़ा होते देखा है। RelianceJio का उच्च-गुणवत्ता, मजबूत और हमेशा उपलब्ध रहने वाला फाइबर-ऑप्टिक नेटवर्क, भारत के डेटा ट्रैफिक की रीढ़ है। जिओ का अखिल भारतीय फाइबर-ऑप्टिक नेटवर्क 11 लाख km से भी अधिक लंबा है। इससे पृथ्वी के 27 बार चक्कर लगाए जा सकते हैं।

Mukesh Ambani

JioFiber अब भारत में नंबर 1 FTTX सेवा प्रदाता है, जिसमें 70 लाख से अधिक परिसर जुड़े हुए हैं। यह उपलब्धि COVID19 लॉकडाउन के बावजूद दो साल से भी कम समय में हासिल हुई है। हम फिक्स्ड ब्रॉडबैंड के मामले में भारत को टॉप-10 देशों की लीग में ले जाएंगे। Jio विशेष तौर पर फिक्स्ड ब्रॉडबैंड में डिजिटल कनेक्टिविटी बना रहा है। उन्होंने कहा कि मैं जिओ 5G की घोषणा करना चाहता हूं। हम 10 करोड़ घरों को अद्वितीय डिजिटल अनुभवों और स्मार्ट होम सॉल्यूशंस से जोड़ेंगे।