अक्टूबर में Reliance Jio ने जोड़े 17.6 लाख ग्राहक जबकि Airtel और Vodaphone को हुआ भारी नुकसान

Reliance Jio prepaid recharge plan

भारत की प्रमुख मोबाइल सेवा प्रदाता कंपनी Reliance Jio के लिए अक्टूबर का महीना बेहद ही खास रहा। वहीं एयरटेल और वोडाफोन के​ को यह काफी नुकसान दे गया। टेलिकॉम रेगुलेटरी अथॉरिटी ऑफ़ इंडिया यानी TRAI की लेटेस्ट रिपोर्ट्स के अनुसार अक्टूबर माह में 17.6 lakh से भी ज्यादा users Reliance Jio से जुड़े। वहीं दूसरी ओर भारत की दूसरी सबसे बड़ी टेलिकॉम ऑपरेटर Bharti Airtel ने अक्टूबर माह में 4.89 लाख से ज्या यूजर्स गवाए हैं। इतने users कम होने के बावजूद भी Airtel आज भी भारत की दूसरी बड़ी टेलिकॉम कंपनी है।

वर्तमान में Airtel के पास 35.39 करोड़ का यूजर बेस है। इस तीसरे स्थान पर है Vodaphone Idea है और इस टेलिकॉम ऑपरेटर ने अक्टूबर माह में 9.64 लाख यूजर्स गंवाए। वर्तमान में 35.39 करोड़ यूजर्स के साथ वे भारत की तीसरी सबसे बड़ी मोबाइल सेवा प्रदाता कंपनी है। इसे भी पढ़ें : BSNL जैसा लॉन्ग टर्म वैलिडिटी रिचार्ज प्लान किसी और के पास नहीं, मिलती है 425 दिनों तक की वैलिडिटी

अक्टूबर माह के मुकाबले सितम्बर माह Reliance Jio के लिए अच्छा नहीं रहा था। TRAI की रिपोर्ट्स के अनुसार सितम्बर माह 2021 में Reliance Jio के यूजर बेस में 1.9 करोड़ की गिरावट हुई। हालांकि इस तेज गिरावट के बावजूद भी वो टेलीकॉम इंडस्ट्री में नंबर वन की पोजिशन पर काबिज रहा। इसे भी पढ़ें : Disney+ Hotstar ला सकती है 49 रु और 199 रु. का सस्ते मोबाइल प्लान, जानें डिटेल्स

सितम्बर महीने में Bharti Airtel इकलौता ऐसा टेलिकॉम ऑपरेटर था जिसके users में बढोतरी हुई थी। सितम्बर माह में उनके साथ 2.74 लाख users जुड़े थे। सितम्बर में भी Vodaphone Idea के यूजर बेस में गिरावट देखी गई थी। उन्होंने 10.77 लाख यूजर्स गंवाए। अक्टूबर में, टेलिकॉम रेट्स में काफी उथल पुथल देखी गई। इसे भी पढ़ें : 5G स्मार्टफोन IQOO U5, 50 MP रियल कैमरा के साथ हुआ लॉन्च

अक्टूबर माह के अंत तक भारतीय दूरसंचार उद्योग के कुल118.69 करोड़ सब्सक्राइबर बढ़ गए थे। फिलहाल टेलीकॉम इंडस्ट्री हर महीने 0.04 प्रतिशत की दर से बढ़ रही है। वहीं इस महीने की शुरवात में टेलिकॉम ऑपरेटरस ने टैरिफ में 25 फीसदी बढोतरी की घोषणा की। इसके बाद से यूजर्स का काफी अलग रियेक्शन था। ऐसे में ये जानना काफी इंटरेस्टिंग होगा कि इस बढ़ोतरी से यूसर्ज की संख्या में कितना बदलाव आया और कौन सी टेलीकॉम ऑपरेटर मार्केट में लीड करेगा। हालांकि ये सब आने वाली TRAI रिपोर्ट्स में ही पता चलेगा।