Reliance लॉन्च करेगा एंड्रॉयड पर चलने वाला JioPhone Next, 4G से होगा लैस

JioPhone Next

मुकेश अंबानी ने गुरुवार को रिलायंस इंडस्ट्रीज की 44वीं वार्षिक आम बैठक (AGM)में जियोफोन नेक्स्ट (JioPhone Next) की घोषणा की। यह नया एंड्रॉयड स्मार्टफोन रिलायंस जियो और गूगल के बीच साझेदारी के तहत डेवलप किया गया है। इसकी घोषणा पिछले साल की गई थी। आपको बता दें कि इसका खुलासा मुकेश अंबानी और गूगल के प्रमुख सुंदर पिचाई दोनों ने किया था। नया जियो फोन नेक्स्ट (JioPhone Next) एंट्री-लेवल हार्डवेयर के साथ आएगा, जो यूजर को एंड्रॉयड का अनुभव प्रदान करेगा।

जियोफोन नेक्स्ट (JioPhone Next) में गूगल प्ले स्टोर एक्सेस के साथ वॉयस असिस्टेंट, स्क्रीन टेक्स्ट को ऑटोमैटिक रीड-अलाउड और लैंग्वेज ट्रांसलेशन सहित अन्य सुविधाएं मिलेंगी। रिलायंस एजीएम में बोलते हुए, अंबानी ने कहा, ‘भारत में अभी भी लगभग 300 मिलियन मोबाइल यूजर्स हैं, जो 2G सेवाओं का इस्तेमाल कर रहे हैं, क्योंकि अभी भी एक बुनियादी 4G स्मार्टफोन इन यूजर्स के लिए उपलब्ध नहीं है। पिछले साल सुंदर और मैंने बात की थी कि Google और Jio मिलकर अगली पीढ़ी, फीचर रीच, लेकिन बेहद किफायती स्मार्टफोन के सह-विकास पर।’

हालांकि आगामी फोन से जुड़े कई फीचर्स का खुलासा किया गया था। अब गणेश चतुर्थी यानी 10 सितंबर को फोन लॉन्च की घोषणा की गई है, लेकिन कीमत की घोषणा अभी तक नहीं की गई है। यह न केवल भारत में, बल्कि विश्व स्तर पर सबसे किफायती स्मार्टफोन होगा। नए Jio फोन की लॉन्चिंग से Xiaomi, Samsung और Realme सहित उन कंपनियों को कड़ी टक्कर मिल सकती है, जो किफायती सेगमेंट में फोन लॉन्च कर रही हैं।

JioPhone Next के स्पेसिफिकेशंस

JioPhone Next को उन लोगों के लिए डिजाइन किया गया है, जो एक किफायती स्मार्टफोन के साथ 2G से 4G कनेक्टिविटी में अपग्रेड करना चाहते हैं। नई पेशकश एक कस्टम एंड्रॉयड ऑपरेटिंग सिस्टम पर आधारित है, जिसे विशेष रूप से Google द्वारा Jio के लिए डिजाइन किया गया है। स्मार्टफोन वॉयस असिस्टेंट के साथ प्रीलोडेड आता है और इसमें स्क्रीन टेक्स्ट को ऑटोमैटिक रीड-अलाउड, लैंग्वेज ट्रांसलेशन और ऑगमेंटेड रियलिटी फिल्टर वाला कैमरा शामिल है। यह नियमित Android अपडेट सपोर्ट के साथ आता है।

वर्चुअल एजीएम में रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी ने कहा, “जियोफोन नेक्स्ट एंड्रॉयड ऑपरेटिंग सिस्टम के एक अत्यंत अनुकूलित वर्जन पर चलता है, जिसे जियो और गूगल द्वारा संयुक्त रूप से भारतीय बाजार के लिए विकसित किया गया है।

पिछले साल जुलाई में Jio Platforms को गूगल से 33,737 करोड़ रुपये का निवेश मिला है। यह Google इंडिया डिजिटाइजेशन फंड का एक हिस्सा था। जिसमें किफायती एंड्रॉयड फोन बनाने की योजना भी शामिल थी।

यह पहली बार नहीं है जब Jio उपभोक्ताओं के लिए अपना इन-हाउस हैंडसेट लाया है। जुलाई 2017 में टेल्को ने Jio Phone को 4G कनेक्टिविटी के साथ स्मार्ट फीचर फोन के रूप में पेश किया।