Ola S1 Pro में फिर आई रिवर्स मोड की शिकायत, क्या कंपनी करेगी कोई बदलाव?

Ola electric MoveOS 2 software update
Ola electric MoveOS 2 software update

Ola S1 Pro से जुड़ी रिवर्स मोड की शिकायतें कम होने के नाम नहीं लें रही हैं। इस बड़ी दिक्कत की वजह से भारत में अब तक कई लोग परेशान हो चुके हैं। कुछ दिन पहले Ola S1 Pro को 90km प्रति घंटे की स्पीड पर रिवर्स मोड पर जाने की घटना सामने आई थी। यह खबर सोशल मीडिया पर थमी भी नहीं थी की एक और ग्राहक ने रिवर्स मोड को लेकर शिकायत कर दी है। यह घटना बेंगलुरु के एक ग्राहक के साथ हुई है, उन्होंने सोशल मीडिया प्लेटफार्म ट्विटर पर Ola S1 Pro स्कूटर के अपने आप रिवर्स मोड में जाने की बात बताई है। आगे इस पोस्ट में जानें क्या है पूरा मामला।

ओला के रिवर्स मोड पर जाने के मामले बढ़े

अब तक इस तरह के मामले बढ़ते जा रहे हैं। इस बार के मामले पर सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर एजेंट पीन्या नाम से एक यूजर ने बताया कि, वह एक हफ्ते से ओला इलेक्ट्रिक स्कूटर का उपयोग कर रहा था। एक दिन, अचानक जब उसने स्कूटर पीछे की तरफ खींचा, तो स्कूटर रिवर्स मोड पर चला गया। स्कूटर को पीछे लेने के समय रोड पर एक कार पार्क थी। जिसके चलते यूजर को ऐसा करना पड़ा था। उसे नहीं पता था, इलेक्ट्रिक स्कूटर इस तरह रिवर्स हो जाएगा।

यूजर ने बताया है कि, इस घटना में उनके शरीर पर हल्की खरोंचें आई है। साथ ही इलेक्ट्रिक स्कूटर पर भी कुछ खरोंचें देखने को मिली हैं। यह घटना ऐसी सड़क पर हुई थी, जहां रोड पर काफी ट्रैफिक होता है। गनीमत यह रही की घटना में किसी को कुछ नहीं हुआ है।  

Ola कस्टमर केयर ने नहीं दिया कोई जवाब

ग्राहक ने दावा किया है कि, उनकी दिक्कत जब उन्होंने कस्टमर केयर पर बताई तो उसका भी कोई जवाब नहीं दिया गया। बल्कि उन्होंने उसे दो घंटे तक इंतज़ार करवाया। उसके बात भी उन्हें कोई जवाब नहीं मिला। कंपनी ने दो दिन बाद ग्राहक से गाड़ी को देखने के लिए उनकी स्कूटर तो वापस ले ली, लेकिन बाद में उसे लौटा दिया गया। ग्राहक की शिकायत पर Ola ने उन्हें नई स्कूटर देने का वादा किया था, लेकिन अब ग्राहक को पुरानी स्कूटर से ही काम चलना पड़ रहा है।

कंपनी के हेड ने निकला हल  

यूजर ने घटना को लेकर एक और अपडेट किया है, जहां उन्होंने बताया है कि, ओला इलेक्ट्रिक के सर्विस प्रमुख ने उनसे बात की है और भरोसा दिलाया है कि, वे अपनी गलती मानते हैं और आगे से किसी भी यूजर को ये परेशानी नहीं होने देंगे।

कंपनी के प्रमुख ने इस यूजर को तो शांत कर दिया है, लेकिन भारत में मौजूद लाखों इलेक्ट्रिक स्कूटर में अगर यह परेशानी है, तो इसका हल कैसे निकाला जाएगा। अब देखना यह है कि, ओला कंपनी इस मसले पर क्या ठोस कदम उठाती है। 


अंकित ने पत्रकारिता की शुरुआत स्पोर्ट्स जर्नलिस्ट के रूप में की थी लेकिन तकनीकी के प्रति विशेष रुझान इन्हें Mysmartprice हिंदी में लेकर आया है। पत्रकारिता के दौरान इन्होंने एक चीज बखूबी सीखा है और वह है आसान भाषा में लोगों को सटीक जानकारी देना। और यही खूबी इन्हें दूसरों से अलग बनाती है। यहां अंकित मोबाइल और तकनीक के साथ ऑटोमोबाइल्स सेग्मेंट को भी कवर करते हैं। पत्रकारिता में इन्हें 5 साल से ज्यादा का अनुभव है जहां इन्होंने राज एक्सप्रेस, थिंक विथ नीश, स्टेट न्यूज और बंसल न्यूज जैसे आर्गेनाइजेशन में अपना योगदान दिया है। इन्होंने माखनलाल चतुर्वेदी नेशनल यूनिवर्सिटी ऑफ जर्नलिज्म एंड कम्यूनिकेशन से मास्टर डिग्री ली है। साथ ही टाइम्स ग्रुप से बैंकिंग मैनेजमेंट में डिप्लोमा भी किया है।