Paytm से मोबाइल रिचार्ज कराना हुआ महंगा, जानें कैसे एक्स्ट्रा चार्ज ले रही कंपनी

भारत की जानी-मानी डिजिटल पेमेंट सर्विस Paytm पर सवाल खड़े हो रहे हैं। बताया जा रहा है कि पेटीएम पर अब अतिरिक्त सुविधा शुल्क व प्रोसेसिंग फीस वसूली जा रही है। आपको बता दें कि, इससे पहले साल 2019 में पेटीएम ने किसी भी तरह की प्रोसेसिंग फीस और कन्वेन्स फीस ना लेने की बात कही थी, लेकिन फिलहाल डिजिटल पेमेंट सर्विस पेटीएम पर अलग-अलग ग्राहकों से मोबाइल रिचार्ज कराने पर सुविधा शुल्क और प्रोसेसिंग फीस वसूली जा रही है। 91 मोबाइल्स की एक रिपोर्ट के मुताबिक जब पेटीएम माध्यम से एयरटेल का रिचार्ज किया गया तो उस पर कन्वेन्स फीस के नाम पर 1 रुपये से लेकर 6 रुपये तक की राशि वसूली जा रही है। कंपनी ने फिलहाल इसे लेकर कोई बयान जारी नहीं किया है, लेकिन यह मामला जब से सामने आया है ग्राहकों का गुस्सा सोशल मीडिया पर नजर आ रहा है। आइए, आपको इस पोस्ट में बताते हैं कि, पेटीएम पर यूजर्स को क्या परेशानी आ रही है। यह खबर सबसे पहले 91मोबाइल्स हिंदी ने कवर की है।

क्या है मामला

पेटीएम पर सुविधा शुल्क और प्रोसेसिंग फीस का यह मामला तब सामने आया, जब किसी यूज़र को रिचार्ज के दौरान कन्वेंस फीस के चलते अतिरिक्त पैसा देना पड़ा। जब यूजर पेटीएम पर एयरटेल का 148 रुपये का रिचार्ज कर रहा था, वहां कन्वेन्स फीस के नाम पर 1 रुपये और उससे ज्यादा कन्वेन्स फीस के साथ जानकारी दर्शायी जा रही थी। इससे साफ है की अब paytm पर अतिरिक्त फीस ली जा रही है।

इसके साथ ही जब 91mobiles की टीम ने एयरटेल का सबसे महंगा रिचार्ज करने की कोशिश की तो इसमें कन्वेन्स फीस के नाम पर अतिरिक्त 6 रुपये वसूले जाने की पुष्टि हुई है।

इसके अलावा जब अन्य मोबाइल पर किसी अन्य यूजर ने एयरटेल रिचार्ज किया तो देखा गया कि पेटीएम पर किसी भी तरह का कोई चार्ज नहीं लिया गया है। रिचार्ज करने के दौरान किसी भी तरह का अतिरिक्त शुल्क यूजर की आईडी पर शो नहीं हो रहा था। इससे अंदाजा लगाया जा रहा है कि, पेटीएम पर सभी लोगों से यह अतिरिक्त फीस नहीं ली जा रही है, बल्कि कुछ चुनिंदा यूजर से ही इसकी शुरुआत हुई है।

यह भी पढ़ेंः सस्ते और दमदार Poco C40 स्मार्टफोन की 16 जून को होगी एंट्री, कंपनी ने किया कन्फर्म

इस मसले को लेकर सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म ट्विटर पर ग्राहकों को गुस्सा फूट रहा है। ग्राहकों का कहना है कि पेटीएम इस तरह ग्राहकों से जबरन पैसा वसूल नहीं कर सकता।अब देखना यह है कि, आने वाले समय में पेटीएम कंपनी इस मुद्दे पर क्या प्रतिक्रिया देती है।


अंकित ने पत्रकारिता की शुरुआत स्पोर्ट्स जर्नलिस्ट के रूप में की थी लेकिन तकनीकी के प्रति विशेष रुझान इन्हें Mysmartprice हिंदी में लेकर आया है। पत्रकारिता के दौरान इन्होंने एक चीज बखूबी सीखा है और वह है आसान भाषा में लोगों को सटीक जानकारी देना। और यही खूबी इन्हें दूसरों से अलग बनाती है। यहां अंकित मोबाइल और तकनीक के साथ ऑटोमोबाइल्स सेग्मेंट को भी कवर करते हैं। पत्रकारिता में इन्हें 5 साल से ज्यादा का अनुभव है जहां इन्होंने राज एक्सप्रेस, थिंक विथ नीश, स्टेट न्यूज और बंसल न्यूज जैसे आर्गेनाइजेशन में अपना योगदान दिया है। इन्होंने माखनलाल चतुर्वेदी नेशनल यूनिवर्सिटी ऑफ जर्नलिज्म एंड कम्यूनिकेशन से मास्टर डिग्री ली है। साथ ही टाइम्स ग्रुप से बैंकिंग मैनेजमेंट में डिप्लोमा भी किया है।