नए साल पर छूट की जगह झटका, टीवी, फ्रिज, वॉशिंग मशीन की बढ़ गई कीमतें, आखिरी मौका

नए साल में आप भी घर के जरूरी सामान फ्रिज, टीवी, वॉशिंग मशीन, ओवन खरीद कर लाने का प्लान बना रहे हैं और अभी इस उम्मीद में हैं कि नए साल आपको भारी छूट मिलेगी तो शायद आपको बड़ा झटका लग सकता है। दरअसल आप जिस छूट या ऑफर के इंतजार में हैं उसका तो फायदा मिलेगा नहीं बल्कि आपको अभी से भी ज्यादा महंगी कीमत पर सामान खरीदना पड़ सकता है। दरअसल जनवरी महीने में फ्रिज, वॉशिंग मशीन, एलईडी टीवी की कीमत लगभग 10 परसेंट तक बढ़ सकती है।

कारण
दरअसल इन प्रॉडक्ट की कीमत बढ़ने के पीछे इनको बनाने में इस्तेमाल होने वाले मैटेरियल कॉपर, एल्युमिनियम और स्टील की कीमतों का दाम बढ़ना बताया जा रहा है। इसके साथ ही इनको जिस समुद्री और हवाई रास्ते से एक देश से दूसरे देश तक पहुंचाया जाता है उसके किराए में काफी बढोत्तरी हुई है। एलईडी टीवी के लिए इस्तेमाल होने वाले पैनल की सप्लाई कम होने के चलते इसकी कीमत लगभग दोगुनी बढ़ गई है। क्रूड ऑयल की कीमत बढ़ने से प्लास्टिक की कीमत भी काफी ज्यादा बढ़ गई है।

कितनी बढ़ी कीमत
एलजी, पैनासोनिक, थॉमसन जैसी कंपनियां जनवरी से ही अपने उत्पादों के दाम बढ़ाने की तैयारी में हैं। हालांकि सोनी अभी स्थिति का आंकलन कर रही है। पैनासोनिक इंडिया के प्रेसिडेंट और सीईओ मनीष शर्मा का कहना है कि उत्पादों की बढ़ती लागत का असर प्रॉडक्ट की कीमत पर पड़ेगा। जनवरी में कीमत में 6-7 परसेंट की बढ़त होगी और पहली तिमाही तक इनकी कीमत 10-11 परसेंट तक बढ़ सकती है। एलजी भी अपने अप्लाइंसेज कैटेगरी के प्रॉडक्ट टीवी, वॉशिंग मशीन, फ्रिज की कीमतें 1 जनवरी से 7-8 परसेंट तक बढ़ाने जा रही है। इस बात की पुष्टि एलजी इलेक्ट्रॉनिक इंडिया के वॉइस प्रेसिडेंट विजय बाबू ने की। सोनी फिलहाल स्थिति का जायजा ले रही है औऱ उसी हिसाब से कदम उठाएगी।

फ्रेंच इलेक्ट्रॉनिक्स ब्रांड थॉमसन और कोडैक का कहना है कि टीवी के पैनल (ओपनसेल) की कीमत लगभग 200 परसेंट तक बढ़ चुकी है। ऐसे में थॉमसन और कोडैक जनवरी से अपने एंड्राएड टीवी की कीमत 20 परसेंट तक बढ़ाने की तैयारी में हैं।

इन उत्पादों की कीमत बढ़ने के पीछे कंटेनर की कमी और अन्य कारणों से समुद्री और हवाई किराए में 5-6 फीसद की बढ़ोत्तरी है। ऐसे में यदि आप नए साल में इनमें से कोई प्रॉडक्ट खरीदने के बारे में सोच रहे हैं तो बेहतर होगा कि अभी खरीद लें। क्योंकि कुछ कंपनियों को साफ तौर पर कह दिया है कि जनवरी में वो अपने एप्लाइंसेज कैटेगरी के प्रॉडक्ट की कीमतें बढ़ाएंगी।