शॉपीफाई ने की फेसबुक के साथ साझेदारी, इंस्टाग्राम पर लाएगा शॉप पे

जमाना डिजिटल होने का है. लोग अब शॉपिंग भी डिजिटल मोड में ही कर रहे हैं. पेमेंट ऑप्शन भी डिजिटल होते जा रहे हैं. ऐसे में एक और नया लेकिन यूनिक पेमेंट ऑप्शन आया है, जो न सिर्फ इंस्टाग्राम बल्कि फेसबुक पर भी आपको देगा एक शानदार और झंझटमुक्त खरीदारी अनुभव.

सैन फ्रांसिस्को स्थित ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म Shopify ने फेसबुक और इंस्टाग्राम पर अपने चेकआउट और पेमेंट प्रोसेसिंग सिस्टम, शॉप पे लाने के लिए फेसबुक के साथ साझेदारी की है.

शॉप पे का विकल्प सबसे पहले इंस्टाग्राम यूजर्स के लिए उपलब्ध होगा और अगले कुछ हफ्तों में छोटे व्यवसायों के लिए सोशल मीडिया कंपनी के प्लेटफॉर्म फेसबुक शॉप पर उपलब्ध होगा.

उपभोक्ता खरीदारी करने के लिए शॉप पे का उपयोग कर सकेंगे. यह मौजूदा विकल्पों जैसे पेपाल या मैन्युअली क्रेडिट या डेबिट कार्ड यूज का विस्तार होगा. इन सभी तरीकों को फेसबुक पे पेमेंट सिस्टम के माध्यम से पेश किया गया है.

कंपनी ने बताया है कि शॉप पे यूजर्स को शॉप ऐप के माध्यम से पैकेज को ट्रैक करने में मदद करता है, किस्तों में भुगतान करने का विकल्प प्रदान करता है और प्रत्येक डिलिवरी से जुड़े कार्बन उत्सर्जन को ऑफसेट करने का वादा करता है.

ऑनलाइन चेकआउट को तेज गति देने के लिए क्रेडिट कार्ड और शिपिंग इंफॉर्मेशन की जानकारी स्टोर करने वाला शॉप पे पहले शॉपीफाई क्लाइंट के ई-कॉमर्स स्टोर के बाहर उपलब्ध नहीं था.

शॉप पे को शॉपिंग अनुभव को शानदार और पूरी प्रक्रिया को आसान बनाने के लिए डिजाइन किया गया है. अभी एक बायर को हर ऑर्डर के लिए क्रेडिट कार्ड और शिपिंग इंफॉर्मेशन दर्ज करना होता है. लेकिन शॉप पे अब इस समस्या से मुक्ति दिलाएगा और बायर हर बार ऐसी जानकारी दर्ज किए बिना अपनी शॉपिंग आसानी से कर सकते है. यानी, आपका शॉपिंग एक्सपिरिएंस अब और भी स्मूद होने जा रहा है.


Shopify ने अपनी नवीनतम तिमाही आय रिपोर्ट में कहा है कि इसके 60 मिलियन ग्लोबल यूजर्स हैं. जाहिर है, फेसबुक और इंस्ट्राग्राम के भी मिलियंस यूजर्स का साथ पा कर शॉपीफाई नए जमाने के शॉपिंग एक्सपिरिएंस को मॉडीफाई करने की कोशिश करेगा.


सत्यव्रत का मानना है कि टेक्नॉलजी का जितना इस्तेमाल करेंगे, उतना जानेंगे. इसी के चलते उन्होंने टेक जर्नलिस्ट बनने का फैसला लिया. सत्यव्रत ने अपने करियर की शुरुआत दैनिक जागरण से की थी, साल 2015 में वह ज़ी न्यूज़ से जुड़े. वह न केवल टेक को अच्छी तरह से समझते हैं बल्कि यह भी जानते हैं कि कौन सी स्टोरी पाठकों को ज्यादा पसंद आती हैं. अब सत्यव्रत Mysmartprice से जुड़े हैं. और यहां भी उनका मकसद हर रोज बदल रही टेक्नॉलजी की दुनिया की हर बारीकी को आसान शब्दों में पाठकों तक पहुंचाना है.