TrueCaller को टक्कर देने TRAI ला रहा नया कॉलर आईडी सिस्टम, जानें कब होगी शुरुआत

TRAI इस कॉलर आईडेंटिटी सिस्टम को आने वाले तीन हफ्तों में शुरू कर सकता है।

TrueCaller
TrueCaller

भारत में कॉलर आईडेंटिटी शो करने के लिए मशहूर ऐप TrueCaller को बड़ी टक्कर मिलने वाली है। दरअसल Telecom Regulatory Authority of India (TRAI) ने फैसला किया है कि ट्रूकॉलर की तरह एक नया Caller Identity System यानी कि फोन कॉलर आईडेंटिटी सिस्टम जल्द ही लॉन्च किया जाएगा। खास बात यह होगी कि इस कॉलर आईडेंटिटी सिस्टम में KYC की सुविधा होगी। बता दें कि Trai इस कॉलर आईडेंटिटी सिस्टम को आने वाले तीन हफ्तों में शुरू कर सकता है। Mint की रिपोर्ट के मुताबिक TRAI के चेयरपर्सन P.D. Vaghela ने 16 नवंबर को जानकारी दी थी कि संस्था आने वाले समय में एक जैसे कंटेंट को देखते हुए नए रेगुलेशन बनाने के बारे में सोच रही है।

Trai New caller ID system

जानकारी के लिए बता दें कि भारत में ट्रूकॉलर काफी ज्यादा चलाया जाता है, इससे लोग कॉल कर रहे हैं व्यक्ति की डिटेल्स जान लेते हैं। इस ऐप को लेकर यह भी बता दें कि यह एक स्वीडिश कॉलर आइडेंटिटी ऐप है। जिसे कुछ सालों पहले भारत में लॉन्च किया गया था। इसे लेकर ट्राई के प्रमुख P.D. Vaghela ने यह भी कहा कि ट्राई ने फोन कॉलर आइडेंटिटी बनाने को लेकर कुछ स्टॉकहोल्डर से बातचीत भी की है। इसके साथ ही अगर सब कुछ सही रहता है तो यह नया कॉलर ID दो से तीन हफ्तों में लॉन्च हो सकता है।

यह भी पढ़े:500 रुपये से कम में बड़े पसंद आएंगे Jio, Airtel, Vi और BSNL के ये प्रीपेड प्लान, यहां देखें लिस्ट

ट्रूकॉलर के सीईओ ने दी चुनौती 

जहां TRAI के प्रमुख ने बताया है कि संस्था एक नया कॉलर आइडेंटिटी सिस्टम लेकर आने वाली है। इसे लेकर ट्रूकॉलर के सीईओ Alan Mamedi ने भी एक बयान दिया था। उन्होंने कहा कि Trai जो कॉलर आइडेंटिटी सिस्टम लेकर आने वाला है, ट्रूकॉलर को टक्कर नहीं दे पाएगा।

सुरक्षित होगा भारत का भविष्य

नए कॉलर आईडी को लेकर Vaghela ने यह भी कहा कि ट्राई को लीगल फ्रेमवर्क और नए डेवलपमेंट के साथ चलना होगा। इससे नई तकनीक का इस्तेमाल शुरू करने में सफलता मिलेगी। वहीं, देश के यूजर्स को भी सुरक्षित ऐप मिलेगा। बताते चलें कि उन्होंने यह जानकारी सीआईआई के बिग पिक्चर समिट के दौरान कहीं हैं।

यह भी पढ़े:सिर्फ 167 रुपये में 300 mbps इंटरनेट प्लान, Airtel और Jio को लगेगा तगड़ा झटका


अंकित ने पत्रकारिता की शुरुआत स्पोर्ट्स जर्नलिस्ट के रूप में की थी लेकिन तकनीकी के प्रति विशेष रुझान इन्हें Mysmartprice हिंदी में लेकर आया है। पत्रकारिता के दौरान इन्होंने एक चीज बखूबी सीखा है और वह है आसान भाषा में लोगों को सटीक जानकारी देना। और यही खूबी इन्हें दूसरों से अलग बनाती है। यहां अंकित मोबाइल और तकनीक के साथ ऑटोमोबाइल्स सेग्मेंट को भी कवर करते हैं। पत्रकारिता में इन्हें 5 साल से ज्यादा का अनुभव है जहां इन्होंने राज एक्सप्रेस, थिंक विथ नीश, स्टेट न्यूज और बंसल न्यूज जैसे आर्गेनाइजेशन में अपना योगदान दिया है। इन्होंने माखनलाल चतुर्वेदी नेशनल यूनिवर्सिटी ऑफ जर्नलिज्म एंड कम्यूनिकेशन से मास्टर डिग्री ली है। साथ ही टाइम्स ग्रुप से बैंकिंग मैनेजमेंट में डिप्लोमा भी किया है।

No posts to display