बारिश में बाइक और स्कूटर चलाते समय इन जरूरी बातों का रखें ध्यान, दुर्घटना से होगा बचाव!

हैवी बारिश में तेज हवाओं की भी वजह राइडर्स को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। ऐसे में यह जरूरी हो जाता है कि बाइक या स्कूटर चलाते समय सावधानी बरतें। लेकिन अक्सर लोग बारिश में वाहन चलाते समय कई ऐसी गलतियां करते हैं, जिनकी वजह से उन्हें भारी नुकसान उठाना पड़ता है।

देश में बारिश ने दस्तक दे दी है। बारिश लगातार हो रही है जिसकी जल भराव की समस्या देखने को मिल रही है। बारिश में टू-व्हीलर चलाते समय काफी मुश्किलों का भी सामना करना पड़ता है और कई बार तो एक्सीडेंट का भी चांस बढ़ जाता है। हैवी बारिश में तेज हवाओं की भी वजह राइडर्स को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। ऐसे में यह जरूरी हो जाता है कि बाइक या स्कूटर चलाते समय सावधानी बरतें। लेकिन अक्सर लोग बारिश में वाहन चलाते समय कई ऐसी गलतियां करते हैं, जिनकी वजह से उन्हें भारी नुकसान उठाना पड़ता है। यहां हम आपको कुछ जरूरी टिप्स बात रहे हैं जिससे बारिश में बाइक/स्कूटर चलाते समय आप सुरक्षित रहेंगे।

हेलमेट हमेशा पहनें

टू-व्हीलर चलाते समय हेलमेट जरूर पहनें, क्योंकि हेलमेट हमारे सिर को सुरक्षित रखता है। इसलिए जब भी टू-व्हीलर चलाये तो हेलमेट जरूर पहनें। बिना हेलमेट के टू-व्हीलर चलाना खतरनाक साबित हो सकता है। बारिश में हेलमेट के वाइजर की वजह से आंख पर बारिश का पानी नहीं जाता, जिसकी वजह से गाड़ी चलाना आसान रहता है।

टायर्स को भी चेक करें

अगर आपकी गाड़ी के टायर्स घिस गये हैं, तो तुरंत बदलवा लें। क्योंकि पुराने टायर्स की ग्रिप खत्म हो जाती है, जिसकी वजह से बारिश में बाइक के फिसलने का खतरा ज्यादा रहता है। आपको सेफ राइड नहीं मिल पाती। बारिश ही नहीं नॉर्मल सड़क पर भी आपको बेहतर ग्रिप नहीं मिलती। इसलिए टायर्स का ध्यान जरूर रखें।   
यह भी पढ़ेंः PM Kisan scheme : जल्दी कर लें eKYC, वरना खाते में नहीं आएगी अगली किस्त, जानें तरीका

फिंगर वाइपर का करें इस्तेमाल

आजकल फिंगर वाइपर काफी तेजी से पॉपुलर हो रहे हैं, आपमें से काफी लोगों ने इनके बारे में सुना ही होगा। जैसे गाड़ियों में विंडस्क्रीन पर वाइपर लगा होता है, यह ठीक उसी तरीके से काम करता है। हेलमेट के शीशे को फिंगर वाइपर की मदद से बारिश के दौरान साफ कर सकते हैं और आपको बार-बार बाइक रोकने की भी जरूरत नहीं पड़ती।

वाहन की रफ्तार कम रखें

बारिश के मौसम में बाइक/स्कूटर की स्पीड कम ही रखें, क्योंकि बारिश में सड़क पर ट्रैक्शन कम हो जाता है जिसकी वजह से आपका कंट्रोल भी बाइक पर रहता है। तेज बारिश में विजिबिलिटी भी कम होती है। ऐसे में आपकी गाड़ी की रफ़्तार 40 kmph से कम ही रखें।

अचानक ब्रेक का इस्तेमाल न करें

बारिश के दौरान अचानक ब्रेक लगाने से बचें. अगर ब्रेक लगाना भी पड़े तो एक साथ आगे और पीछे के ब्रेक लीवर्स को दबाएं। ऐसा करने से बाइक स्लिप नहीं होगी. यह भी ध्यान रखें कि मोड़ पर ब्रेक न लगाएं। इसके अलावा बाइक के दोनों ब्रेक को समय पर चेक कर लें ताकि जरूरत पड़ने पर आपको असरदार ब्रेकिंग मिल सके।

यह भी पढ़ें: Maruti ने शुरू की All-New Brezza की booking, सिर्फ 11000 रुपये में करें बुक

पानी भरा हो वहां न जायें

बारिश के दिनों में सड़कों पर पानी जमा हो जाता है, जिसकी वजह से गड्डों में पानी भर जाता है  और बरिश के इनका पता नहीं चल पाता और एक्सीडेंट की संभावना  बढ़ जाती है। इतना ही नहीं कई बार बड़े बड़े होल पानी से भर जाते हैं जिसकी वजह से एक्सीडेंट होते हैं। इतना ही नहीं जहां पानी भरा होता है उन रास्तों पर से बाइक या स्कूटर निकलते समय एक्जॉस्ट के अंदर पानी जाने से गाड़ी बंद हो सकती है। इसलिए कोशिश कीजिये की ध्यान से बाइक राइड करें। ध्यान रहे सड़क पर ही चलें किसी कच्चे रास्तों पर जानें से बचें।