CIBIL score check : ऑनलाइन ऐसे फ्री में चेक करें अपना सिबिल स्कोर, आसान है तरीका

सिबिल स्कोर तीन अंकों में होता है और आमतौर पर 300-900 के बीच होता है। आपका CIBIL स्कोर जितना अधिक होता है, लोन लेते समय कंपनियां आपको कम ब्याज दर प्रदान करती हैं।

check cibil score

CIBIL यानी क्रेडिट इंफॉर्मेशन ब्यूरो (इंडिया) लिमिटेड, एक क्रेडिट ब्यूरो है जो आपके क्रेडिट स्कोर (credit score) का रखरखाव और गणना करता है। आपने अतीत में अपने होम लोन,पर्सनल लोन या आपके क्रेडिट कार्ड जैसे क्रेडिट को कितनी अच्छी तरह मैनेज किया है, उसे दर्शाने के लिए यह एक 3-अंकीय संख्या है। बता दें कि Cibil स्कोर क्रेडिट लोन लेने की क्षमता का माप है। Cibil स्कोर जितना अधिक होगा, आपके लिए उतना ही बेहतर होगा। अगर आप भी जानना चाहते हैं कि CIBIL स्कोर क्या है और अपने CIBIL स्कोर की जांच कैसे की जा सकती है, तो हमारी यह रिपोर्ट आपके बहुत काम आने वाली है। आइये डालते हैं एक नजर….

CIBIL score क्या है?

CIBIL को भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) द्वारा का एक क्रेडिट एजेंसी के रूप मेंअधिकृत किया है, जिसका पूरा नाम क्रेडिट इंफॉर्मेशन ब्यूरो (इंडिया) लिमिटेड (Credit Information Bureau (India) Limited) है। CIBIL भारत के प्रमुख बैंकों और अन्य वित्तीय संस्थानों से व्यक्तियों के वित्तीय डेटा जैसे लोन और क्रेडिट कार्ड की जानकारी प्राप्त करता है। यह डेटा तब CIBIL क्रेडिट रिपोर्ट के रूप में प्रस्तुत किया जाता है, जिसे क्रेडिट इंफॉर्मेशन रिपोर्ट (CIR) के रूप में भी जाना जाता है। पर्सनल CIBIL स्कोर किसी व्यक्ति को स्कोर करने से पहले उसके 6 महीने के वित्तीय डेटा को ध्यान में रखते हैं। स्कोर तीन अंकों में होता है और आमतौर पर 300-900 के बीच होता है। आपका CIBIL स्कोर जितना अधिक होता है, लोन लेते समय कंपनियां आपको कम ब्याज दर प्रदान करती हैं।

ये भी पढ़ें:MUDRA Loan: सरकार दे रही है 10 लाख रुपये तक लोन, जानें कैसे करें अप्लाई

कैसे चेक करें ऑनलाइन फ्री CIBIL स्कोर

आप नीचे दिए गए स्टेप्स को फॉलो करके अपने CIBIL स्कोर को पूरी जानकारी मुफ्त में ऑनलाइन चेक कर सकते हैं…

  • वेब ब्राउजर में एक नया टैब खोलें और https://www.cibil.com/freecibilscore पर जाएं।
  • “Get Your Free CIBIL Score” बटन क्लिक करें।
  • अपना मुफ्त वार्षिक सिबिल स्कोर प्राप्त करने के लिए Click here पर क्लिक करें।
  • अब अपना नाम, ईमेल आईडी और पासवर्ड टाइप करें। एक आईडी प्रूफ (पासपोर्ट नंबर, पैन कार्ड, आधार या वोटर आईडी) अटैच करें। फिर अपना पिन कोड, जन्म तिथि और अपना फोन नंबर भी दर्ज करें।
  • ‘Accept and continue’ पर क्लिक करें।
  • अपने मोबाइल नंबर पर प्राप्त ओटीपी को एंटर करें और ‘Continue’ पर क्लिक करें।
  • ‘Go to dashboard’ चुनें और अपना क्रेडिट स्कोर जांचें।
  • इसके बाद आपको वेबसाइट myscore.cibil.com पर फिर से निर्देशित किया जाएगा।
  • ‘Member Login’ पर क्लिक करके लॉगइन करने के बाद आप अपना सिबिल स्कोर देख सकते हैं।

आप इन अन्य ऐप/वेबसाइट के माध्यम से भी मुफ्त में अपना CIBIL स्कोर चेक सकते हैं

PayTM, CRED, INDmoney, Credit Karma, CreditWise

एक अच्छा CIBIL स्कोर क्यों है जरूरी ?

जीवन में कई बार हमे अपने उद्देश्यों की पूर्ति के लिए लोन लेने की आवश्यकता पड़ती है। जिसके लिए व्यक्ति बैंक से लोन लेता है। आपको कितना लोन मिल सकता है, आपका लोन कितना जल्दी स्वीकृत होगा और आपको किस न्यूनतम ब्याज दर पर लोन मिल सकता है, यह आपके CIBIL स्कोर पर निर्भर करता है। यदि आपका CIBIL स्कोर 700 और 900 के बीच होता है तो इसे अच्छा माना जाता है। इस प्रकार हाई CIBIL स्कोर बनाए रखने से यह सुनिश्चित होता है कि आप जोखिम वाले व्यक्ति नहीं है और समय पर सही तरीके से अपना लोन चुकाने की क्षमता रखते हैं। ऐसे में यदि आप लगातार समय पर अपनी बकाया राशि का भुगतान कर रहे हैं, तो बैंक आपकी क्रेडिट सीमा बढ़ाने की पेशकश करेंगे। साथ ही, बैंक हाई CIBIL स्कोर वाले व्यक्तियों से उच्च ऋण राशि को भी मंजूरी देते हैं।

ये भी पढ़ें:मौजूदा मोबाइल नंबर को Jio में कराना है पोर्ट, तो यह है आसान तरीका

ऐसे सुधारें अपना CIBIL स्कोर

  • समय-समय पर अपने क्रेडिट स्कोर की जांच करें।
  • अपनी लोन ईएमआई का भुगतान लगातार नियत तारीख तक या उससे पहले कर दें।
  • अपने क्रेडिट कार्ड बिलों का भुगतान नियत तारीख को या उससे पहले कर दें।
  • हर महीने अपने क्रेडिट कार्ड बिल की राशि पर न्यूनतम राशि का भुगतान न कर हर बार पूरा भुगतान करें।
  • Over-leveraging से बचें।
  • बिना किसी देरी के भुगतान या लंबित ऋणों के स्वच्छ वित्तीय रिकॉर्ड बनाए रखना जरूरी।
  • वास्तविक क्रेडिट कार्ड सीमा का कम क्रेडिट उपयोग अनुपात (20-30%) बनाए रखना जरूरी।

    ये भी पढ़ें:LIC Policy Status ऐसे करें चेक, ऑनलाइन तरीका है आसान


कहते हैं महिलाएं तकनीक के उपयोग में पीछे हैं लेकिन अनुपमा इसी सोच को बदलना चाहती हैं और इसलिए इन्होंने तकनीकी पत्रकारिता को चुना है। नई टेक्नोलॉजी के बारे में जानना और आसान शब्दों में उसे बयां करना इन्हें काफी अच्छा लगता है। Curious नेचर और लिखने का शौक इन्हें how to's, tech और auto के बारे में लिखने के लिए प्रोत्साहित करता है। ये HNB Garhwal Central University से साइंस में ग्रेजुएट और मास कम्युनिकेशन एंड जर्नलिज्म में पोस्ट ग्रेजुएट हैं। खाली समय में गार्डनिंग, ट्रेवलिंग और ड्राइविंग करना इनकी हॉबी है।