1 मई से 18+ उम्र के लोगों को लगेगी कोरोना वैक्सीन, यहां जानें रजिस्ट्रेशन करने का तरीका

Registration for Vaccination
18 साल से अधिक की उम्र के लोग ऐसे करें रजिस्ट्रेशन

देश में बढ़ती कोरोना महामारी को देखते हुए पीएम मोदी ने 20 अप्रैल (मंगलवार) को देश के नाम संबोधन दिया। इसमें पीएम मोदी ने लोगों से अनावश्यक घर से बाहर ना निकलने की अपील की और साथ ही इस परिस्थिति में देशवासियों की हिम्मत बढ़ाई। इसके साथ ही पीएम मोदी ने एक बड़ा ऐलान किया। इस ऐलान में पीएम मोदी ने बताया कि 1 मई से पूरे देश में 18 साल से अधिक उम्र के लोगों को भी कोरोना वैक्सीन लगाई जाएगी। ये इस वैक्सीनेशन का तीसरा चरण होगा और इसमें 18 साल से अधिक की उम्र के युवाओं को वैक्सीनेशन प्रक्रिया में भाग लेने का अवसर मिलेगा।

अब से पहले केवल 45 साल से अधिक के लोगों को ही कोरोना वैक्सीन लगाई जाती थी। अब 18 साल से अधिक के युवा भी इस वैक्सीनेशन प्रोग्राम का हिस्सा बन सकते हैं। इसके लिए सबसे पहले खुद को रजिस्टर करना होगा। वैक्सीनेशन प्रक्रिया में भाग लेने के लिए पहले खुद को रजिस्टर (Register for Vaccination) करना होता है। इसके लिए कोई अलग से एप नहीं आता। कोई भी शख्स आरोग्य सेतु एप (Aarogya Setu) या फिर कोविन (CoWIN) प्लैटफॉर्म के जरिए खुद को रजिस्टर कर सकता है। यह प्रोसेस बुधवार (28 अप्रैल) से शुरू हो रही है। आइए हम आपको सारा प्रोसेस स्टेप बाय स्टेप बता रहे हैं…

कोरोना वैक्सीनेशन में खुद को रजिस्टर करने के तीन तरीके हैं। एक तो आप एडवांस में ही सेल्फ रजिस्ट्रेशन करवा सकते हैं। दूसरा ये कि जब देश में तीसरा चरण शुरू हो जाए तो आप नजदीकी टीकाकरण केंद्र पर जाकर भी खुद को रजिस्टर करवा सकते हैं। तीसरा ये कि सरकार खुद आपसे वैक्सीन लगवाने के लिए संपर्क करेगी। चलिए आपको तीनो तरीकों के बारे में विस्तार से बताते हैं।

ऐसे करें एडवांस रजिस्ट्रेशन (Advance Register for Vaccination)
इसके लिए आप तीन तरीके अपना सकते हैं। पहला CoWIN एप के जरिए। दूसरा CoWIN साइट के जरिए और तीसरा आरोग्य सेतु एप के जरिए। सबसे पहले आपको CoWIN एप या आरोग्य सेतु एप खोलना है या फिर CoWIN की सेल्फ रजिस्ट्रेशन पोर्टल (https://selfregistration.cowin.gov.in/) पर जाना है। आप इस लिंक पर भी क्लिक कर सकते हैं। इसके बाद अपना मोबाइल नंबर दर्ज करें। आपके मोबाइल नंबर पर एक ओटीपी आएगा। उसे दर्ज कर एक अकाउंट बनाएं। अपना नाम, सेक्स, उम्र दर्ज करें। अब टीकाकरण की तारीख और केंद्र चुनें। बस हो गया काम। आपके पास एक रेफरेंस नंबर मिल जाएगा। इस रेफरेंस नंबर से वैक्सीनेशन सर्टिफिकेट मिल सकेगा। सीनियर सिटीजंस (60+) को फीचर फोन से भी रजिस्टर करने का विकल्प मिलेगा। इसके लिए उन्हें 1507 नंबर पर कॉल करने है।

Register for Vaccination
वैक्सीनेशन के लिए ऐसे करें खुद को रजिस्टर

ऑन साइट रजिस्ट्रेशन (On Site Register for Vaccination)
अगर आप एडवांस रजिस्ट्रेशन नहीं करना चाहते तो आप सीधे ही टीकाकरण केंद्र पर जाकर रजिस्ट्रेशन करवा सकते हैं। इसके लिए आपको वैक्सीनेशन सेंटर पर एक वैध पहचान पत्र ले जाना होगा। इनमें आधार कार्ड, लाइसेंस, वोटर आईडी कार्ड या फिर केंद्र या राज्य सरकार का जारी किया हुआ पहचान पत्र। याद रखें अगर आपको पहले से ही कोई बीमारी है तो उसका सर्टिफिकेट (को-मोबिर्डिटी) भी ले जाना है। फिलहाल सरकार ने ऑन साइट रजिस्ट्रेशन के लिए स्पष्ट दिशा-निर्देश जारी नहीं किए हैं।

सरकार ऐसे करेगी वैक्सीनेशन के लिए संपर्क
कई लोग होते हैं जो न वैक्सीन लगवाते हैं और न ही अपने परिवार वालों को लगवाने देते हैं। ऐसे में चंद लोगों के चक्कर में संक्रमण के फिर से फैलने का खतरा काफी बढ़ जाता है। इसके लिए राज्य सरकारें टारगेट ग्रुप्स के लिए टीकाकरण की तारीख तय करती है और फिर स्वास्थ्य अधिकारी की जिम्मेदारी है कि वो ऐसे लोगों को टीकाकरण केंद्र तक लाएं। इसके लिए आंगनवाड़ी और बाकी आशा वर्कर्स को कम में लिया जाता है। ये वर्कर्स घर-घर जाकर लोगों को वैक्सीनेशन के फायदे बताकर लोगों को वैक्सीन लगवाने के लिए प्रोत्साहित करते हैं।