Delhi Night Curfew में बाहर जाने के लिए चाहिए ई-पास, ये रहा अप्लाई करने का तरीका

delhi government e-pass
दिल्ली सरकार से ऐसे बनवाएं ई-पास

देश मे कोरोना की दूसरी लहर बहुत तेजी से पैर पसार रही है। आलम ऐसा है कि फिर से एक दिन में लाख से अधिक केस आ रहे हैं और सैकड़ों लोगों की मौत हो रही है। ऐसे में मामलों की रफ्तार ने फिर से सरकारों के कान खड़े कर दिए हैं। कोरोना से लड़ने के लिए सरकारों ने कमर कस ली है और अब फिर से सख्ती बरती जा रही है। महाराष्ट्र सरकार ने तो पूरे राज्य में वीकेंड लॉकडाउन लगा दिया है। वहीं अब धीरे-धीरे के राज्य सरकारों ने भी कई जगहों पर नाइट कर्फ्यू लगाने का ऐलान कर दिया है। देश की राजधानी दिल्ली में भी केजरीवाल सरकार ने 6 अप्रैल से 30 अप्रैल तक नाइट कर्फ्यू (Delhi Night Curfew) लगा दिया है।

ऐसे में कोई भी रात 10 बजे से 5 बजे तक घर से बाहर नहीं निकल पाएगा। हालांकि यह कर्फ्यू उन लोगों और सेवाओं पर लागू नहीं है जो अतिआवश्यक कैटिगरी में आते हैं। फिर भी ऐसे लोगों को (जिनके पास सरकारी आईडी नहीं है) नाइट कर्फ्यू के दौरान दिल्ली में बाहर निकलने के लिए दिल्ली सरकार से ई-पास (Delhi Night Curfew E-Pass) बनवाना पड़ेगा। इससे होगा ये कि वो बिना किसी रोक-टोक के अपना काम कर पाएंगे। चलिए हम आपको दिल्ली सरकार से ई-पास बनाने का पूरा प्रोसेस बता देते हैं…

किन-किन लोगों ई-पास की जरूरत है?
फिलहाल दिल्ली सरकार आवश्यक वस्तुओं के उत्पादन, ट्रांसपोर्ट, भंडारण और दुकानों में कार्यरत लोगों (जिनके पास सरकारी ID नहीं है) को ही ई-पास जारी कर रही है। यानी कि फल, सब्जी बेचने वाले, ग्रॉसरी, दूध और दवाइयों को एक-दूसरी जगह पर ले जाने वाले लोगों को ई-पास की आवश्यकता होगी। साथ ही मीडिया में काम करने वाले लोग, प्राइवेट डॉक्टर्स, नर्स या फिर मेडिकल स्टाफ को ई-पास जारी किए जा रहे हैं। याद रखिए नाइट कर्फ्यू में सफर करने के लिए ई-पास के साथ-साथ एक वैलिड आईडी कार्ड भी दिखाना होगा। पूरी लिस्ट आप यहां क्लिक कर चेक कर सकते हैं। दिल्ली सरकार के मुताबिक, नीचे बताए गए लोगों को ई-पास की जरूरत है…

दुकान चलाने वालों जैसे- राशन, फलों एवं सब्जू, डेरी एवं दूध के बूथ, मीट एवं मछली, पशु-चारा, औषधीय, दवाइयां एवं चिकित्सा सामग्री
बैंक, बीमा कार्यालय,एटीएम
दूरसंचार सेवाएं, इंटरनेट सेवाएं, प्रसारण और केबल सेवाएं
आईटी और आईटी सक्षम सेवाएं
कोरोना का टीका लगवाने जाने वाले व्यक्ति
निजी सुरक्षा सेवाएं
ई-कॉमर्स के माध्यम से खाद्य, फार्मास्यूटिकल्स, चिकित्सा उपकरणों सहित सभी जरूरी वस्तुओं की डिलीवरी
पेट्रोल पंप, रसोई गैस, सीएनजी, पेट्रोलियम और गौस खुदरा या भंडारण आउटलेट
बिजली उत्पादन और वितरण इकाइयां
कोल्ड स्टोरेज और वेयरहाउसिंग सेवाएं
उत्पादन संस्थान एवं सेवाएं जिन्हें निरंतर प्रक्रिया की जरूरत है।

delhi govt e-pass
ऐसे करें दिल्ली नाइट कर्फ्यू के ई-पास के लिए अप्लाइ

ऐसे करें ई-पास के लिए अप्लाई
सबसे पहले आप दिल्ली सरकार की आधिकारिक साइट (https://delhi.gov.in/) पर जाएं। या फिर आप यहां भी क्लिक कर सकते हैं। अब यहां होम पेज पर आपको क्लिक हियर टू अप्लाई फॉर ई-पास फॉर नाइट कर्फ्यू फ्रॉम 10 पीएम टू 5 एएम (Click Here to Apply for ePass for Night Curfew from 10:00 PM to 05:00 AM) का विकल्प नजर आएगा। आपको इस पर क्लिक करना है।

यहां क्लिक करने के बाद आपके सामने न्यू एप्लिकेशन वाली एक नई विंडो खुलेगी। यहां आपको अपनी पसंदीदा भाषा का चुनाव करना है। इसके बाद एक नई विंडो ओपन होगी। यहां आपको अपना फोन नंबर, नाम, ऑफिस या बिजनेस का पता, सेवा, अवधि (तारीख से तारीख तक), जिला भरना है। इसके बाद अपने वैलिड पहचान पत्र को स्कैन कर अपलोड करना है। साथ ही दुकान का विजिटिंग कार्ड या फिर बिजनेस लाइसेंस की फोटो अपलोड करनी है। फिर उसे सबमिट करना है।

इतना करने के बाद आपको एक रेफरेंस नंबर दिया जाएगा। इसकी मदद से आप चेक कर पाएंगे कि आपको ई-पास जारी किया गया है या नहीं? स्टेटस चेक करने के लिए आप यहां भी क्लिक कर सकते हैं। अगर आपको ई-पास जारी कर दिया गया है तो आप इसका प्रिंट अपने साथ रखकर यात्रा कर सकते हैं। याद रखें ई-पास बनवाने के लिए आप जो भी जानकारी दें, वो एकदम सच हों। वरना अगर जानकारी गलत पाई गई तो आपके खिलाफ भारतीय दंड संहिता धारा 177 और 191 के अंतर्गत कड़ी कार्रवाई की जाएगी।