Google Assistant के ये फीचर्स हैं कमाल, एक आवाज पर सेट कर देता है अलार्म

google Assistant
गूगल असिस्टेंट का इस्तेमाल

सर्च इंजन गूगल (Google) का आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस से लैस असिस्टेंट यानी कि गूगल असिस्टेंट (Google Assistant) बहुत ही काम का है। ये आपके स्मार्टफोन में किए जा सकने वाले कामों को बहुत ही कम समय में पूरा कर देता है। गूगल असिस्टेंट एक प्रकार का सहायक होता है जो आपकी एक आवाज पर आपके सारे काम देता है। फिर वो स्कोर पूछना हो, किसी को कॉल लगाना हो या फिर कोई मनपसंद गाना सुनना हो। गूगल असिस्टेंट की मदद से आप चुटकियों में कई काम कर सकते हैं। ये असिस्टेंट इतनी तेज से और आसानी से काम करता है कि आप पलक झपकाएंगे और आपका काम हो जाएगा। अपनी इस खास रिपोर्ट में हम आपको गूगल असिस्टेंट के सबसे काम के 5 फीचर्स बता रहे हैं।

कैसे शुरू करें गूगल असिस्टेंट
अगर आपके पास एंड्रॉइड स्मार्टफोन है तो आपके फोन में ये असिस्टेंट पहले से ही इंस्टॉल होता है। आपको बस फोन के होम बटन को कुछ देर के लिए दबाए रखना है। आपके सामने असिस्टेंट खुल जाएगा। अब आपको ओके गूगल या हे गूगल कहना है। इसके बाद आपके सामने गूगल असिस्टेंट की ओर से जवाब आना शुरू हो जाता है। अब आप असिस्टेंट से जो भी काम करवाना चाहें, बोलकर करवा सकते हैं। मनचाहा गाना सुनने से लेकर किसी को फोन लगाने तक। अब जानिए गूगल असिस्टेंट के टॉप 5 फीचर्स…

ट्रांसलेशन
अब हर किसी को तो सभी भाषाओं की जानकारी होती नहीं है लेकिन गूगल को है। आप गूगल असिस्टेंट के जरिए किसी भी भाषा का ट्रांसलेशन कर सकते हैं। आपको बस हैलो गूगल बोलकर अपना वाक्य बोलना है और फिर उस भाषा का नाम लेना है जिसमें आपको ट्रांसलेशन चाहिए। जैसे- हाउ आर यू को तमिल में कैसे बोलेंगे? इसके बाद असिस्टेंट फटाक से आपके सामने जवाब रख देगा।

ट्रैफिक अपडेट
ये एक सबसे अच्छा फीचर है। इसके जरिए आप कहीं भी निकलने से पहले वहां के आसपास का करेंट ट्रैफिक चेक कर सकते हैं। आपको बस हैलो गूगल बोलकर कहना है कि इंडिया गेट के आसपास कैसा ट्रैफिक है अभी? आपके सामने पूरा मैप खुलकर आ जाएगा और असिस्टेंट आपको बोलकर भी ट्रैफिक का हाल बता देगा। वैसे ये काम मैप्स के जरिए भी किया जा सकता है लेकिन उसमें गूगल असिस्टेंट की तुलना में अधिक समय लगता है।

google voice Assistant
बहुत काम के हैं गूगल असिस्टेंट के ये फीचर्स

कैलकुलेशन करने में
आप गूगल असिस्टेंट की मदद से बड़ी से बड़ी कैलकुलेशन फटाक से कर सकते हैं। जैसे आपको पता करना है कि 500 डॉलर्स में कितने रुपये होते हैं। इसके लिए या तो आप ब्राउजर में जाकर टाइप करें और फिर सर्च रिजल्ट में कैलकुलेट करें। या फिर सीधे गूगल असिस्टेंट चालू कर कह दें कि 500 डॉलर्स में कितने रुपये होते हैं। मात्र 2 सेकेंड में गूगल असिस्टेंट आपके सामने जवाब बोलकर बता देगा। ना कैलकुलेशन करनी है और ना ही कोई बटन दबाना है।

आस पास की बेस्ट जगहों के बारे में पता करना
इसकी मदद से आप पल भर में अपने आस पास की बेस्ट और मशहूर खाने पीने, घूमने और ऐतिहासिक जगहों के बारे में पता कर सकते हैं। आपको बस एक बार गूगल असिस्टेंट से कहना है। ये फीचर तब और अधिक काम आता है जब आप कहीं बाहर घूमने गए हुए हों। आप बस कहिए कि नोएडा के आसपास घूमने की जगह कौनसी हैं? आपके सामने गूगल असिस्टेंट कई सारे विकल्प पेश कर देगा।

फोन करने से लेकर रिमाइंडर लगाने तक के लिए
गूगल असिस्टेंट के जरिए आप स्मार्टफोन के डेली रूटीन का काम कर सकते हैं। जैसे किसी को फोन लगाना हो, अलार्म सेट करना हो, रिमाइंडर लगाना हो, स्कोर पता करना हो या फिर गाना सुनना हो। आपको बस ओके गूगल बोलकर अपनी इच्छा बतानी है। काम करने के लिए गूगल असिस्टेंट है ना! जैसे आपको एक तय समय पर दवाई लेनी है तो आप गूगल असिस्टेंट को बोल सकते हैं कि इतने बजे मुझे दवाई लेनी है। मुझे याद दिला देना। असिस्टेंट फटाक से आपके फोन में तय समय का रिमांइडर सेट कर देता है।