भारी बारिश कहीं बिगाड़ न दे आपकी कार की सेहत, इन बातों का रखें खास ध्यान

देश के कई हिस्सों में लगातार भारी बारिश हो रही है, बारिश के चलते यातायात बहुत ज्यादा प्रभावित हो रहा है। भारी बारिश के चलते सड़कों पर पानी भर गया है और कई सड़कें टूट गई हैं। इतना ही नहीं लोगों की गाड़ियां भी बारिश की वजह से आधी से ज्यादा डूब गई हैं। बारिश के इस मौसम में कार चलाने में काफी परेशानी होती है। बारिश के इस मौसम में कार को ज्यादा केयर की जरूरत होती है। बारिश के मौसम में कार की समय-समय पर सर्विस करवाते रहना चाहिए। अगर आप चाहते हैं कि बारिश के मौसम में आपकी कार कोई दिक्कत न करे तो आपको कई बातों का ख्याल रखना होगा।

जल्दी करवा लें कार की सर्विस

बारिश का हाल तो ऐसा है कि कभी भी शुरू होने लगती है और एक बार शुरू हुई तो समझो पूरा ध्यान गया। जिस दिन बारिश न हो तो उस दिन आप समय निकाल कर अपनी कार की सर्विस जरूर करवा लें, ताकि कोई पार्ट अगर ख़राब हो तो उसे बदला जा सके, सर्विस के समय स्पार्क प्लग्स की भी सफाई ठीक से करा लें। बारिश के इस मौसम में अक्सर कारों में कई बार दिक्कतें होती हैं। इसलिए सर्विस करना बहुत जरूरी होता है। सर्विस करवाने के बाद अगर कार में कोई गड़बड़ होगी तो वो दूर हो जाएगी। इतना ही नहीं मानसून के बाद भी एक बार गाड़ी की सर्विस करवा लेनी चाहिए।

वाइपर ब्लेड का सही होना है बेहद जरूरी  

अगर आपकी कार के वाइपर ठीक से काम कर रहे हैं तो अच्छी बात है और अगर ये ठीक नही हैं तो तुरन्त इन्हें चेंज करवा लें। बारिश में कार चलाते समय वाइपर बहुत काम आते हैं। क्योंकि ये आपकी विंड स्क्रीन को क्लियर करके आपको बेहतर व्यू देने में मदद करते हैं। इसलिए वाइपर का सही होना बेहद जरूरी है। इसलिए कार के वाइपर ब्लेड को चेक कर लें और ये देख लें कि ये सही काम कर रहे हैं या नहीं। बारिश के मौसम में इनके बिना कार चलाना बेहद मुश्किल हो जाता है । इसके साथ ही वॉशर सिस्टम की भी जांच कर लें।

ब्रेक्स भी चेक करें

बारिश के मौसम से पहले अपनी कार के ब्रेक भी चेक कर लें। ब्रेक पैड्स क्लीन करवा लें और नए ब्रेक शू लगवाएंगे तो ज्यादा बेहतर होगा। इसको लेकर लापरवाही बरतना रिस्की हो सकता है। याद रहे बारिश में सड़कें चिकनी हो जाती हैं जिसकी वजह से गाड़ी को स्लो ही चलायें ताकि ब्रेक लगाने में कोई दिक्कत न हो।

टायर्स का रखें ध्यान  

बरसात में सड़कों के भीगने के बाद उनमें फिसलन बढ़ जाती है। जिसकी वजह से ब्रेक ठीक से लगते नहीं है। अगर आपकी कार के टायर अगर घिस चुके हैं तो ये किसी दुर्घटना को आमंत्रित कर सकते हैं। इसलिए मानसून से पहले ही अपनी कार के टायर्स  बदलवा लें। ताकि बारिश में बेहतर ग्रिप मिले।

बैटरी की देखभाल है जरूरी

इस मौसम में देख लें कि क्या आपकी बैटरी ठीक से काम कर रही है या नहीं। अगर नहीं तो फौरन कार की बैटरी बदलवा लें। बारिश के मौसम में ये बहुत जरूरी है। बारिश में कई बार बैटरी में पानी लगने से उसमें दिक्कतें शुरू होने लगती है।

हेडलाइट्स, टेल लाइट्स और टर्न इंडिकेटर्स भी देख लें

बारिश के मौसम में कई बार दिन में भी अंधेरा छा जाता है और विजिबिलिटी काफी कम हो जाती है। ऐसे में गाड़ी की हेडलाइट का सही होना बेहद जरूरी हो जाता है। इसलिए गाड़ी की हैडलाइट्स को भी समय-समय पर चेक करते रहें, ताकि बारिश में कोई दिक्कत न आए, इसके अलावा गाड़ी की टेल लाइट्स और टर्न इंडिकेटर्स को भी चेक करें।