जानें Reverse Camera पर क्या है लाइंस का मतलब और कैसे करें यूज

Lines on Reverse Camera

यदि आपने हाल ही में एक नई कार (New Car) खरीदी है, तो संभावना है कि आपकी कार में पहले से ही एक बैक यानी रिवर्स कैमरा (Reverse Camera) इंस्टॉल होगा। अधिकांश लोग रिवर्स कैमरा का उपयोग केवल यह देखने के लिए करते हैं कि गाड़ी को बैक करते समय पीछे कुछ है तो नहीं। मगर आपको बता दें कि इसके और भी बहुत से कार्य हैं। आपने देखा होगा कि रिवर्स कैमरे पर लाइनें मौजूद होती हैं। इन लाइनों से आपको दूरी, समानांतर पार्क और बहुत कुछ नापने में मदद मिल सकती है। यदि आप इस तकनीक के लिए नए हैं, तो जानें कैसे कर सकते हैं रिवर्स कैमरे का सही तरीके से इस्तेमाल…

Reverse Camera पर लाइन
रिवर्स कैमरे की लाइंस (Lines on Reverse Camera) को समझना कोई मुश्किल कार्य नहीं है। अधिकांश कैमरा निर्माता क्लासिक स्टापलाइट पद्धति का उपयोग करते हैं, जिसमें हरा का अर्थ है जाना, लाल का अर्थ है रुकना और पीले का अर्थ सावधानी होता है। जब आप तंग जगहों या मुश्किल पार्किंग स्थल में नेविगेट करने के लिए इस तरह के कैमरों का उपयोग करते हैं, तो यह आपको अपनी कार और कर्ब के बीच की दूरी को समझने में मदद मिलेगी। इसे बेहतर ढंग से जानने के लिए कार के साथ दिए गए मैनुअल को देख सकते हैं।
यह भी पढ़ेंः एंड्रॉयड स्मार्टफोन में हो रही है बूट की समस्या, जानें 7 आसान समाधान

Backup Camera Lines का उपयोग
बैकअप कैमरा लाइनों (Backup Camera Lines) का उपयोग करना काफी आसान है। हालांकि इसके लिए बेसिक बातों की जानकारी भी बहुत जरूरी है।

वाहन की चौड़ाई
बैकअप कैमरा लाइनों को समझने की कोशिश करते समय वाहन की चौड़ाई का ध्यान में रखना जरूरी है। जब कार को तंग जगहों में घुमाने या मोड़ने की बात आती है, तो वाहन की चौड़ाई को समझना महत्वपूर्ण होता है। कैमरा स्क्रीन के किनारे की दो रेखाएं आपको दिखाती हैं कि आपकी कार कितनी चौड़ी है।

सेफ जोन
बैकअप कैमरा में सेफ जोन फीचर इस बात पर निर्भर करता है कि आप किस कंपनी के कैमरे का इस्तेमाल कर रहे हैं। यह फीचर खास कैमरा माडल के साथ आता है। इसमें हरे और पीले लाइंस सामान्य क्षेत्र के संकेत हैं। अधिकांश कारों के पीछे कम से कम छह फीट जगह होती है, जहां हरी रेखाएं दिखाई देती हैं। इससे नीचे की एरिया पीली रेखाएं हैं, जो कार और कर्ब के बीच की सुरक्षित दूरी होती है, जिसमें आपको अपनी कार रखनी होती है।
यह भी पढ़ेंः Digital voter ID card को आसानी से कर सकते हैं डाउनलोड, जानें सबसे आसान तरीका

डेंजर जोन
कैमरा डिस्प्ले में लाल रेखाएं डेंजर जोन को दर्शाती हैं। सेफ जोन की तरह यह भी निर्माता पर निर्भर करता है कि वे इसके लिए कितनी दूर सेट करते हैं। आमतौर पर यह 15 से 18 इंच की दूरी पर होती है। हालांकि रेड जोन से हर कीमत पर बचना चाहिए। इसका मतलब है कि आपकी कार टकरा सकती है। इसलिए अगर आपकी कार लाल रेखा के पास है, तो आपको सावधान हो जाना चाहिए। आप चाहें, तो किसी बाहरी व्यक्ति से भी पूछ सकते हैं कि कितनी दूरी बची है। इससे आपको स्पेस के बारे में समझने में मदद मिलेगी।

अगर कार में बैकअप रिवर्स कैमरा नहीं है, तो हो सकता है तंज जगहों पर कार को मोड़ने या पार्क करने में आपको परेशानी हो, लेकिन बैकअप कैमरे के लाइव फीड के साथ पूरी प्रक्रिया बहुत आसान हो जाती है। यहां तक कि आप एक शौकिया ड्राइवर हैं, तब भी यह कई तरह की परेशानियों से बचा सकता है। कैमरा आपको बता सकता है कि आपकी कार अप्रत्याशित ब्लाकेज से टकराएगी या नहीं।
यह भी पढ़ेंः Driving Licence में ऑनलाइन पता बदलना है आसान, जानें तरीके