5G की सुपरफास्ट इंटरनेट अब दूर नहीं, जानें क्या-क्या जाएगा बदल

इस समय दुनिया के करीब 60 देशों में 5G की सेवाएं मौजूद हैं। अब भारत में भी इसकी शुरुआत होने वाली है।

5G superfast internet

आखिरकार पांचवीं पीढ़ी (5G) टेलीकॉम सर्विस का इंतजार खत्म हो गया है। इस साल अक्टूबर तक भारत में 5G शुरू होने की संभावना है। इसके बाद आप भी सुपरफास्ट इंटरनेट का आनंद ले पाएंगे। बता दें कि 5G Spectrum (5जी स्पेक्ट्रम) की नीलामी खत्म हो चुकी है। इसमें 1.5 लाख करोड़ रुपये से अधिक मूल्य के 5G टेलीकॉम स्पेक्ट्रम की बिक्री हुई है। अरबपति मुकेश अंबानी की कंपनी Jio ने सबसे अधिक बोली लगाई है। इसमें 1,50,173 करोड़ रुपये का स्पेक्ट्रम बेचा गया यानी सरकार ने 1.5 लाख करोड़ रुपये से अधिक की कमाई की है। केंद्रीय संचार, इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री अश्विनी वैष्णव ने कहा कि कुल 72,098 मेगाहर्ट्ज स्पेक्ट्रम में से 51,236 मेगाहर्ट्ज यानी लगभग 71 प्रतिशत स्पेक्ट्रम बेचा गया है। अब आप भी सोच रहे हैं कि 5जी के आने बाद आप पर क्या प्रभाव होगा, तो आइए जानते हैं 5G के बाद आपका यूजर एक्सपीरियंस किस तरह से बदल जाएगा…

4G की तुलना में 10 गुना तेज इंटरनेट

इस समय दुनिया के करीब 60 देशों में 5G की सेवाएं मौजूद हैं। अब भारत में भी इसकी शुरुआत होने वाली है। रिलायंस जिओ इन्फोकॉम के चेयरमैन आकाश एम अंबानी (Akash M Ambani) ने कहा कि हमने हमेशा माना है कि भारत सफल टेक्नोलॉजी को अपनाने से दुनिया में एक प्रमुख आर्थिक ताकत बन जाएगा। यही दृष्टि और दृढ़ विश्वास था, जिसने जिओ को जन्म दिया। अब हम बड़ी महत्वाकांक्षा और मजबूत संकल्प के साथ Jio 5G युग में भारत का नेतृत्व करने के लिए तैयार हैं। हम पूरे भारत में 5G रोलआउट के साथ ‘आजादी का अमृत महोत्सव’ मनाएंगे। Jio विश्व स्तरीय, सस्ती 5G और 5G-इनेबल सेवाओं की पेशकश करने के लिए प्रतिबद्ध है। हम ऐसी सेवाएं, प्लेटफॉर्म और समाधान प्रदान करेंगे, जो भारत की डिजिटल क्रांति को गति देंगे। खासकर एजुकेशन, हेल्थकेयर, एग्रीकल्चर, मैन्युफैक्चरिंग और ई-गवर्नेंस जैसे महत्वपूर्ण क्षेत्रों में। अगर 5G की स्पीड की बात करें, तो अब तक टेस्ट किए गए नतीजों के आधार पर कहा जा सकता है कि इसकी गति 4G की तुलना में करीब 10 गुना ज्यादा होगी। 4G ने पहले ही कनेक्टिविटी और संचार के तरीकों को बदल दिया है। मगर 5G के आने के बाद हर सेक्टर में बड़े बदलाव की उम्मीद की जा सकती है।

यह भी पढ़ेंः 5G Spectrum Auction : 5G पर कंपनियों ने बहाया पानी की तरह पैसा, बोली में JIO ने मारी बाजी

5G
5G

कुछ सेकंड में डाउनलोड होंगी गेम और मूवीज

इंटरनेट 1980 के दशक की शुरुआत से ही हमारे जीवन का एक हिस्सा रहा है। इसने कनेक्टिविटी के आयामों को बदल दिया है। अब 5G के आने के साथ यूजर्स प्रौद्योगिकी की दुनिया से बहुत कुछ नए की उम्मीद कर सकते हैं। 5G मुख्य रूप से तीन चीजों पर केंद्रित है-हाई स्पीड डेटा, डेटा एक्सेस में होने वाली देरी को कम करना और डेटा एक्सेस की समरूपता में वृद्धि। इसके साथ यूजर्स 1Gbps तक की हाई स्पीड का आनंद लेने में सक्षम होंगे। इसका मतलब है कि यूजर्स कुछ सेकंड्स में ही फिल्में और गेम डाउनलोड कर पाएंगे। यह इंटरनेट आफ थिंग्स (IOT), आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस (AI) व अन्य व्यावसायिक मॉडल के लिए नए रास्ते खोलेगा। 5G की इंटरनेट स्पीड के साथ कहीं से भी कार्य और बिजनेस करना आसान हो जाएगा। रिसर्च फर्म IDC के अनुसार, दुनियाभर में 55.7 अरब कनेक्टेड डिवाइस में से लगभग 75 प्रतिशत को 2025 तक IOT प्लेटफार्म से कनेक्ट कर दिए जाएंगे।

स्ट्रीमिंग का रोमांच अगले लेवल पर

5G के बाद स्ट्रीमिंग का रोमांच पूरी तरह से बदल जाएगा। यह स्पोर्ट्स देखने के एक्सपीरियंस को पूरी तरह से बदल देगा। इसकी वजह से लिविंग रूम में स्टेडियम का रोमांच अनुभव किया जा सकेगा। इससे स्क्रीन पर 8K क्वालिटी की स्ट्रीमिंग डिलीवर की जा सकेगी, जो टीवी देखने के अनुभव को बदल देगा। इतना ही नहीं, लाइव मैच के अनुभव को बढ़ाने के लिए कोई भी अपना कैमरा एंगल चुन सकता है या मैच देखते समय एक साथ कई एंगल डिस्प्ले कर सकता है। यह सब इसलिए संभव होगा, क्योंकि 5G अल्ट्रा-हाई स्पीड के साथ बड़ी मात्रा में डाटा डिलीवर कर सकता है। इसके अलावा, 5Gनेटवर्क के माध्यम से मोबाइल डिवाइस पर बेहतर क्वालिटी वाले वीडियो बहुत तेज गति और अधिक विश्वसनीय कनेक्शन के साथ मिलेंगे। यह यूजर्स के लिए कंटेंट स्ट्रीमिंग अनुभव को रोमांचक बना देगा।

यह भी पढ़ेंः इंतजार खत्म, टेलीकॉम मिनिस्टर अश्विनी वैष्णव ने बताया कब आएगा 5G

नए इनोवेशन का होगा बोलबाला

5G आने के डिजिटल ईकोसिस्टम बनाना बहुत आसान हो जाएगा। इससे स्मार्टफोन, स्मार्टवाच, टैबलेट, लैपटाप, स्मार्ट टीवी, होम अप्लायंसेज आदि को बड़ी आसानी से कनेक्ट किया जा सकेगा। इतना ही नहीं, जल्द ही 5G इनेबल लैपटाप की उम्मीद कर सकते हैं, जो इलेक्ट्रॉनिक डेटा सिम पर पूरी तरह से कार्य कर सकता है। इससे यूजर्स के लिए कहीं भी इसका इस्तेमाल करना आसान हो जाएगा। 5G की पहुंच दूरदराज तक होने से शिक्षा, स्वास्थ्य, रोजगार आदि जैसी सुविधाओं में इजाफा होगा।

5G से बदल जाएंगी ये चीजें

  • 5G रिमोट एजुकेशन को काफी हद तक बदल देगा। 5G के साथ हाई क्वालिटी वाले इंटरैक्टिव वर्चुअल क्लास रूम और कंटेंट को पूरे देश में कहीं से भी स्ट्रीम किया जा सकता है।
  • 5G की वजह से हेल्थ सेवाएं आसान हो जाएगी। रिमोट डायग्नोस्टिक्स और टेली-कंसल्टेंसी जैसी सेवाएं बेहतर हो जाएंगी। इसकी वजह से मरीज-चिकित्सकों के बीच कम्युनिकेशन में तेजी आएगी। कनेक्टेड डिवाइस, आईओटी, आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस की वजह से हेल्थ सेवाएं और बेहतर हो जाएगी।
  • देश में भी स्मार्ट कृषि की शुरुआत हो चुकी है। कृषि का डिजिटलीकरण और 5G द्वारा इनेबल एआई और आईओटी जैसी तकनीक प्रोडक्शन में सुधार लाने में मदद कर सकती है। स्मार्ट सेंसर किसानों को बताएंगे कि फसलों को स्वस्थ रखने के लिए क्या करने की जरूरत है।
  • 5G एंटरटेनमेंट और गेमिंग को नए स्तर पर लेकर जाएगा। वर्चुअल दुनिया में लैग-फ्री स्ट्रीमिंग के साथ इंटरैक्टिव क्लाउड गेम खेलना आसान हो जाएगा। सिर्फ तेज डाउनलोड और स्ट्रीमिंग ही नहीं, बल्कि बड़ा बदलाव सुपर लो लेटेंसी में होगा।

    यह भी पढ़ें: 5G स्पीड में सबसे आगे निकली Vodafone Idea, 1.2Gbps स्पीड के साथ बनाया रिकॉर्ड