स्मार्टफोन की बैटरी बहुत जल्दी खत्म हो जाती है, तो अपनाएं ये टिप्स

जैसे आप अपनी एनर्जी का ख्याल रखते हैं, बेवजह खुद को थकने से बचाते हैं। वैसे ही फोन की बैटरी को भी बचा कर रखना चाहिए, क्योंकि तभी आपका ये साथी आपका पूरे दिन ख़्याल रख सकता है। तो चलिए जानते हैं उन असरदार टिप्स के बारे में जो आपके फोन के बैटरी बैकअप को मजबूत बनाते हैं और आपके फोन को फुली डेड होने से बचाते हैं।

  1. फोन की ब्राइटनेस को बंद कर दें- फोन की बैटरी का सबसे बड़ा दुश्मन होता है फोन ब्राइटनेस का ऑप्शन, स्क्रीन ब्राइटनेस सबसे ज्यादा बैटरी यूज़ करती है, वैसे भी ज्यादा ब्राइटनेस से आपकी आंखें भी खराब होती है। कई बार हम जल्दीबाज़ी में अपने फोन की ब्राइटनेस को चेक करना भूल जाते हैं और उससे हमारी बैटरी जल्दी खत्म हो जाती है। तो हमेशा इस ऑप्शन को बंद करके रखें, सिर्फ अंधेरी जगहों पर इसका इस्तेमाल करें।
  2. जरूरी एप्स का इस्तेमाल- आपको पता नहीं होगा लेकिन कई एप्स बैटरी खाते हैं, इसके अलावा वीडियो गेम्स भी आपकी बैटरी पर बुरा असर डालते हैं, इस तरह के गेम्स में विज्ञापन भी आते हैं जो आपकी बेटरी को यूज़ करते हैं।
  3. बैटरी सेविंग एप डाउनलोड करें- अपने फोन में वो एप डाउनलोड करें जो आपकी बैटरी को सेव करते हैं, इस तरह की एप अपके फोन को हमेशा ट्रैक करती रहती हैं और आपको बार-बार एक रिमांइडर की मदद से बताती रहती हैं कि बैटरी का इस्तेमाल कितना हो रहा है। और साथ ही उन एप्स की भी पूरी जानकारी देती हैं जो सबसे ज्यादा बैटरी यूज़ करती हैं।
  4. वाई-फाई कनेक्शन बंद करके रखें- अगर आपके फोन में वाई-फाई का ऑप्शन ऑन रहता है तो आपका फोन हमेशा हॉटस्पॉट का कनेक्शन ढूंढता रहता और इस पूरे प्रोसेस में आपकी काफी बैटरी खर्च होती है।
  5. बेस्ट है एरोप्लेन मोड- जब कभी भी आप ऐसी जगह पर हों जहां आप ना किसी को फोन कर सकते हैं, ना उठा सकते हैं या फिर वो जगह नेटवर्क ज़ोन से बाहर आती हो, तो बेहतर होगा कि आप उस वक्त के लिए अपने फोन को एरोप्लेन मोड में डाल दें, एरोप्लेन मोड बैटरी का सबसे बेहतर साथी है।
  6. फोन का जीपीएस बंद कर दें- जीपीएस स्मार्टफोन के सबसे बेहतरीन फ़ीचर में से एक ऑप्शन है लेकिन हमेशा इसे ऑन करके रखना आपके फोन की बैटरी के लिए बिल्कुल भी अच्छा नहीं होता। क्योंकि जब भी आपका जीपीएस अपनी लोकेशन को बदलता है वो खुद को अपडेट करता है और इसी अपडेशन में बैटरी का काफी इस्तेमाल होता है।
  7. ईमेल बंद करके रखें- दिनभर आपको ना जाने कितने ईमेल आते हैं जो हमेशा अपके डाटा के साथ-साथ आपकी बैटरी के लिए सही नहीं होता, तो आप अपने ईमेल चेक करने का एक टाइम फिक्स करें, और ईमेल बंद करके रखें।
  8. नोटिफिकेशन बंद कर दें- फोन में जितने कम नोटिफिकेशन ऑन रहेंगे उतना ही कम आपका फोन एक्टिवेट रहेगा और उतना ही कम आपकी बैटरी खर्च होगी। तो फोन की ज्यादातर नोटिफिकेशन को बंद करके ही रखें सिर्फ कुछ खास और जरूरी नोटिफिकेशन ही ऑन रखें।
  9. अपने फोन चार्जर को अपने साथ रखें- अगर आपके पास स्विच बोर्ड का ऑप्शन है तो बेहतर होगा कि आप अपने फोन का चार्जर यूज़ करें।
  10. पावर बैंक का इस्तेमाल करें- अगर आपके लिए ये सब करना मुश्किल है तो फिर आप अपने साथ बैटरी बैकअप रखें, आप पॉवर बैंक यूज़ कर सकते हैं, कुछ फोन केस ऐसे भी आते हैं जिनमें बैटरी चार्जर अटैच होता है, आप उस तरह का केस यूज़ कर सकते हैं।

फोन का हमेशा साथ रहना बेहद जरूरी है लेकिन तभी जब उसकी बैटरी फुल चार्ज हो क्योंकि बिना बैटरी का फोन किसी काम का नहीं है। तो हमेशा अलर्ट रहिए और अपने फोन को जितना हो इमरजेंसी कामों में इस्तेमाल कीजिए।


सत्यव्रत का मानना है कि टेक्नॉलजी का जितना इस्तेमाल करेंगे, उतना जानेंगे. इसी के चलते उन्होंने टेक जर्नलिस्ट बनने का फैसला लिया. सत्यव्रत ने अपने करियर की शुरुआत दैनिक जागरण से की थी, साल 2015 में वह ज़ी न्यूज़ से जुड़े. वह न केवल टेक को अच्छी तरह से समझते हैं बल्कि यह भी जानते हैं कि कौन सी स्टोरी पाठकों को ज्यादा पसंद आती हैं. अब सत्यव्रत Mysmartprice से जुड़े हैं. और यहां भी उनका मकसद हर रोज बदल रही टेक्नॉलजी की दुनिया की हर बारीकी को आसान शब्दों में पाठकों तक पहुंचाना है.