व्हाट्सएप की जगह कर रहे हैं ‘सिग्नल’ का इस्तेमाल, बड़े काम की हैं ये टिप्स और ट्रिक्स

व्हाट्सएप की नई पॉलिसी के विरोध में काफी संख्या में लोग व्हाट्सएप छोड़कर अब सिग्नल एप (Signal App) के इस्तेमाल पर जोर दे रहे हैं। लोगों के व्हाट्सएप छोड़ने का अंदाजा इस बात से भी लगा सकते हैं कि भारत में एपल कंपनी के एप स्टोर पर व्हाट्सएप को पीछे छोड़ सिग्नल एप टॉप फ्री एप बना गया है। सिग्नल एप को देश-दुनिया के जाने माने एक्सपर्ट व्हाट्सएप के मुकाबले काफी सुरक्षित एप भी बता रहे हैं। इसके साथ ही सिग्नल में आपको काफी नए फीचर्स भी मिल रहे हैं। तो अगर आप भी सिग्नल एप इस्तेमाल करने के बारे में सोच रहे हैं तो हम आपको कुछ ऐसी ट्रिक्स बताने जा रहे हैं जो आपके लिए उपयोगी होंगी…

-आप तय करेंगे कि एक बार देखने के बाद डिलीट हो जाए फोटो या वीडियो
सिग्नल एप में आपको एक बेहतरीन फीचर मिलता है कि आप ये तय कर सकते हैं कि सामने वाले को जिसे आपने फोटो या वीडियो सेंड किया है वो सिर्फ एक बार देखा जाए और उसके बाद डिलीट हो जाए। जिसे आपने फोटो या वीडियो भेजा है वो इंसान भले ही उस फोटो, वीडियो या फाइल को 1 हफ्ते बाद देखे, लेकिन सिर्फ 1 बार ही देख पाएगा औऱ उसके बाद वो फाइल डिलीट हो जाएगी। इस फीचर को इस्तेमाल करने के लिए आपको + साइन पर टैप करना होगा और फिर जिस फाइल को भेजना है उसपर टैप करें और नीचे दी हुई इनफिनिटी ऑनकॉन (∞) पर टैप कर भेज दें।

-फोटो में नहीं दिखाना चाहते कोई हिस्सा तो कर दें ब्लर
यदि आप किसी को कोई फोटो भेज रहे हैं और चाहते हैं कि चेहरा या शरीर का कोई और हिस्सा न दिखाया जाए तो अब फोटो को एडिट करने का झंझट खत्म। सिग्नल एप में आपको यह फीचर पहले से मिलता है। बस आपको फोटो भेजते समय ऑटोमैटिक फेस ब्लर टूल इस्तेमाल करना है। इसके लिए + वाले चिन्ह पर टच करना है और जिस फोटो को भेजना है उसे सेलेक्ट करें, इसके बाद ‘ब्लर बटन’ को टच कर दें। इसे बाद जिस हिस्से को छिपाना चाहते हैं उतने हिस्से को ड्रा कर दें।

-कुछ समय बाद खुद ही गायब हो जाएंगे मैसेज
कुछ समय बाद अपने आप मैसेज गायब हो जाने का फीचर हाल ही में व्हाट्सएप ने डिसअपीयरिंग मैसेज नाम से शुरू किया था लेकिन सिग्नल पर यह फीचर काफी पहले से आता था। इस फीचर के जरिए भेजे गए मैसेज एक निश्चित समय के बाद खुद ही गायब हो जाते हैं। इसके लिए आपको सिग्नल एप में चैट का ऑप्शन ओपन करना होगा और कॉन्टैक्ट के नाम पर टैप कर डिसअपीयरिंग मैसेज पर जाना होगा। यहां आप अपनी पसंद के मुताबिक समय फिक्स कर सकते हैं कि सामने वाले को भेजा गया आपका मैसेज कितने दिन या महीने में अपने आप डिलीट हो जाए।

-नोटिफिकेशन से होते हैं परेशान तो ये है बंद करने का ऑप्शन
यदि आप टेलीग्राम का इस्तेमाल करते हैं तो आपने देखा होगा कि जब भी आपके जानने वाला कोई भी टेलीग्राम पर अकाउंट बनाता है तो नोटिफिकेशन आता है। ऐसा ही फीचर सिग्नल में भी लेकिन परेशान होने की जरूरत नहीं है। इस फीचर को बंद करने का ऑप्शन भी दिया गया है। इसको बंद करने के लिए आपको सेटिंग्स में जाकर नोटिफिकेसन में जाना है और फिर कॉन्टेक्ट ज्वाइंड सिग्नल (Contact Joined Signal) फीचर को ऑफ कर देना है।

WhatsApp की नई पॉलिसी में क्या है?
इसी सप्ताह लाखों भारतीय यूजर्स को व्हाट्सएप की तरफ से उसकी नई प्राइवेसी पॉलिसी और सेवा शर्तों को लेकर नोटिफिकेशन भेजा गया है। व्हाट्सएप की ये नई पॉलिसी 8 फरवरी से लागू हो रही हैं। इन शर्तों व्हाट्सएप ने कहा है कि वह पहले के मुकाबले अपनी पैरेंट कंपनी फेसबुक को और अधिक डाटा शेयर करेगा जिसका इस्तेमाल विज्ञापनों में होगा। मतलब व्हाट्सएप अपने यूजर्स की जानकारी फेसबुक को देगा जिसका इस्तेमाल विज्ञापन में किया जाएगा। इनमें आपकी फाइनेंशियल जानकारी से लेकर कई तरह की जानकारी ली जाएंगी। 

इसके साथ ही व्हाट्सएप ने कहा कि यदि आठ फरवरी तक जो यूजर उसकी नई शर्तों को स्वीकार नहीं करेंगे उनके अकाउंट को बंद कर दिया जाएगा। इस पर एक्सपर्ट लोगों ने कहा कि यह सीधे तौर पर लोगों की निजता पर हमला है और उन्हें शर्तों को मानने के लिए मजबूर किया जा रहा है।