गर्मी में इन वजहों से लगती है कार में आग, बचने के ये हैं तरीके

IMAGE CREDIT: team-bhp

गर्मी बहुत तेज़ी से बढ़ रही हैं और दिन के समय घर से बाहर निकलना बहुत मुश्किल हो रहा है, अब जो लोग अपनी कार से दिन भर काम से या दूसरी वजहों से निकलते हैं वो कई बार ये भूल जाते हैं कि उनकी कार को सर्विस की जरूरत है। गर्मी में अक्सर कार में आग लगने जैसे मामले सामने आते रहते हैं। लेकिन अगर कुछ जरूरी और खास बातों का ध्यान रखें तो आप इस मुसीबत से बच सकते हैं। यहां हम आपको कुछ ऐसी जानकारी दे रहे हैं जिन्हें अगर आप फॉलो करें तो  कार को आग लगने से बचा सकते हैं, साथ ही अपने आप को और अपने परिवार को भी सेफ रख सकते हैं। आइये जांए हैं।

कार एक्सपर्ट के मुताबिक एक कार में 20 हजार से भी ज्यादा पुर्जों को फिट किया जाता है। इसलिए कहा जाता है कि कार की सर्विस हमेशा ऑथराइज्ड सर्विस सेंटर ही करानी चाहिए, लोकल जगह से नहीं क्योंकि वो उतने जानकार नहीं होते. इतना ही नहीं कार में लोकल जगह से एक्सेसरीज से बचें क्योंकि अगर वायर के साथ कुछ छेड़छाड़ हुई या तारों को गलत जोड़ दिया तो इसका तगड़ा नुकसान आपको और आपकी कार को होगा।

इसके अलावा अगर आप अपनी कार में CNG किट लगवाले जा रहे हैं तो लोग किट बिलकुल भी न इस्तेमाल करें हमेशा ब्रांडेड और CNG किट ही लगवाएं, और इसके लिए आप सिर्फ ऑथराइज्ड सेंटर पर ही जायें। आजकल बाजार में ओरिजिनल CNG किट आसानी से उपलब्ध हैं और कंपनियां भी फैक्ट्री फिटेड ओरिजिनल CNG किट के साथ कारें ला रही हैं। लोकल CNG किट की वजह से कार में आग लगने के चांस ज्यादा रहते हैं जबकि ओरिजिनल किट के साथ ऐसो दिक्कत नहीं होती क्योकि फैक्ट्री फिटेड फिट में सबसे पहले सिलिंडर पर ऑटोमैटिक रेगुलेटर व चेकवॉल लगा होता है। लीकेज या किसी दिक्कत के समय यह चेकवॉल फटाफट  खुल जाते और सिलिंडर में से सारी गैस निकली जाती है जिसकी वजह से कोई बड़ा हादसा नहीं होता। यह भी पढ़ें: Glanza के बाद अब टोयोटा लॉन्च करेगी नई Urban Cruiser, 360 डिग्री कैमरा से होगी लैस

कार में आग लगने के बाद यह होता है

जब भी किसी कार में आग लगती है तब सबसे पहले कार में लगे इलेक्ट्रिकल यूनिट जाम हो जाते हैं। पावर विंडो, सीट बेल्ट और यहां तक सेंट्रल लॉकिंग सिस्टम तक फेल हो जाते हैं, जिसकी वजह से  कार में बैठे लोगों को बाहर निकलने में काफी दिक्कतें आती हैं। इसलिए कोशिश यही कीजिये कि पावर विंडो सिर्फ फ्रंट के हो रियर न हो। कारों में फीचर्स तो काफी आते हैं लेकिन आप उसी मॉडल को चुने जिसमें आपकी जरूरत के हिसाब से फीचर्स दिए हों।

गर्मी में कार में आग लगने के कारण

गर्मी के दौरान कार के रबड़ फ्यूल पाइप तापमान बढ़ने पर गर्म हो जाते हैं। ऐसे में इनमें लीकेज की समस्या रहती है। पाइप लीक होने पर पेट्रोल रिसने लगेगा जो आग पकड़ लेता है। इसके अलावा गर्मी में तापमान बढ़ने पर कार में लगी छोटी-छोटी तार गर्म होकर आपस में चिपकने लगती हैं। तार के ऊपर लगी रबड़ गर्म होने के बाद स्पार्किंग से शॉर्ट सर्किट होने का खतरा रहता है।

इन बातों का रखें ध्यान

ड्राइव करते समय अगर आपको इस बात का अंदाजा हो जाये तो कि कुछ गड़बड़ है या कार आग पकड़ रही है तो तुरंत कर से निकल जायें।  क्योंकि के अन्दर कार्बन मोनोऑक्साइड गैस तेजी से फैलती है और आपका दम घुट सकता है। अपनी कार में एक्स्ट्रा और एक्स्सेसरीज न लगवाएं जिसमें एक्स्ट्रा प्रेशन हॉर्न, और लाइटें शामिल हैं क्योंकि इनमें ज्यादा वायरिंग फिट होती हैं साथ ही इनका बोझ भी बैटरी पर पड़ता है और इसकी  वजह से आग का खतरा बढ़ जाता है।

हमेशा कार में रखें ये सामान

सेफ्टी जे लिए कार में अग्निशमन यंत्र, हथौड़ी और कैंची रखें। अगर आपकी कार में आग लग जाए तो ये सभी उपकरण काफी मददगार साबित होंगे।