स्मार्टफ़ोन को चार्ज करते समय ध्यान में रखें ये बातें

स्मार्टफ़ोन की बैटरी खत्म होना एक सामान्य सी बात है पर महत्वपूर्ण है कि आप किस तरह से अपने फ़ोन का इस्तेमाल करते हैं. आपके इस्तेमाल करने के तरीके के अनुसार आपके फ़ोन की उम्र कम ज्यादा हो जाती है. आइए जानते हैं कुछ चार्जिंग की आदतें जो आपको ज़रूर अपनानी चाहिए-

फ़ोन को हमेशा अपने ही चार्जर से करें चार्ज:

हालांकि लैपटॉप की तरह फ़ोन में अलग अलग तरह के चार्जर इस्तेमाल नहीं होते हैं पर फिर भी बहुत अच्छा रहता है अगर आप फ़ोन के साथ मिले ओरिजिनल चार्जर के साथ ही अपना फ़ोन चार्ज करें. किसी दूसरे चार्जर का इस्तेमाल आपके फ़ोन की परफॉरमेंस और लाइफ दोनों ही कम कर देता है.

सस्ते और नकली चार्जर का इस्तेमाल करने से बचें:

कई बार ओरिजिनल चार्जर खराब हो जाने पर हम उसी का कॉपी या नकली चार्जर सस्ते दाम के लोभ में खरीद लेते हैं. पर ध्यान रखें कि यह फ़ोन में एडाप्टर फेलियर का कारण बन सकता है, इसलिए कभी भी चार्जर खराब होने पर कंपनी की ओर से ओरिजिनल चार्जर ही मंगवाएं.

चार्जिंग करते समय फ़ोन का कवर हटा दें:

चार्ज होते समय फ़ोन का हल्का सा गर्म हो जाना स्वभाविक है. ऐसे में कवर फ़ोन के कूलिंग इफ़ेक्ट को धीमा कर देता है और ज्यादा गर्म होकर फ़ोन के गर्म होने की संभावना बढ़ जाती है.

हमेशा फ़ास्ट चार्जर का ना करें इस्तेमाल:

आजकल फ़ास्ट चार्जर बहुत चलन में है क्योंकि ये फटाफट आपके फ़ोन को चार्ज कर देते हैं. लेकिन हमेशा इस बात का ध्यान रखें कि फ़ास्ट चार्जर आपके फ़ोन में ज्यादा वोल्टेज की बिजली भेजता है जिससे फ़ोन का हीटिंग इफ़ेक्ट बढ़ जाता है, इसलिए कोशिश करें की जब तक बेहद ज़रूरी ना हो रेगुलर चार्जर से ही फ़ोन चार्ज करें.

थर्ड पार्टी बैटरी एप्प का ना करें प्रयोग:

बहुत सी एप्लीकेशन इस बात का दावा करती हैं कि वो आपके फ़ोन की बैटरी लाइफ को बढ़ा देंगी. यह सभी एप्प फ़ोन के लिए काफी ज्यादा नुकसानदायक होती हैं क्योंकि ये हमेशा बैकग्राउंड में चलती रहती हैं और फ़ोन की सामान्य ऐप को भी ये बंद कर देती हैं. इन सभी एप्लीकेशन का केवल नुकसान है इसलिए इन पर कभी भी भरोसा ना करें.

कम से कम 80% तक ज़रूर करें चार्ज:

जब भी फ़ोन को चार्जिंग पर लगाएं तो इस बात का ध्यान रखें कि कम से कम फ़ोन 80% तक ज़रूर चार्ज हो.

बैटरी को डिस्चार्ज होने का भी दें मौका:

सारा दिन फ़ोन को चार्जिंग पर ना लगाएं. कम से कम बैटरी 20% तक आने के बाद ही फ़ोन को चार्ज करें. बहुत ज्यादा फ़ोन को चार्ज करना भी फ़ोन की बैटरी परफॉरमेंस को कभी कभी कम कर देता है.

अच्छे पॉवर बैंक का करें इस्तेमाल:

आजकल फ़ोन एक जरूरत बन चुका है इसलिए हम चाहते हैं कि कभी भी ऐसा ना हो कि फ़ोन की बैटरी पूरी तरह खत्म हो जाए. इसके लिए पॉवर बैंक का इस्तेमाल किया जाता है. हमेशा ध्यान रखें कि आप अच्छी क्वालिटी का पॉवर बैंक ही इस्तेमाल करें.

इसके अलावा ध्यान रखें कि फ़ोन को चार्जिंग पर लगा कर कभी भी इस्तेमाल ना करें. इन सब बातों का ध्यान रख कर आप अपने फ़ोन की बैटरी परफॉरमेंस को बढ़ा सकते हैं.


सत्यव्रत का मानना है कि टेक्नॉलजी का जितना इस्तेमाल करेंगे, उतना जानेंगे. इसी के चलते उन्होंने टेक जर्नलिस्ट बनने का फैसला लिया. सत्यव्रत ने अपने करियर की शुरुआत दैनिक जागरण से की थी, साल 2015 में वह ज़ी न्यूज़ से जुड़े. वह न केवल टेक को अच्छी तरह से समझते हैं बल्कि यह भी जानते हैं कि कौन सी स्टोरी पाठकों को ज्यादा पसंद आती हैं. अब सत्यव्रत Mysmartprice से जुड़े हैं. और यहां भी उनका मकसद हर रोज बदल रही टेक्नॉलजी की दुनिया की हर बारीकी को आसान शब्दों में पाठकों तक पहुंचाना है.