7 इंडियन ऐप जिनको इस्तेमाल करेंगे तो विदेशी ऐप भूल जाएंगे

जैसा कि हम जानते हैं, भारत सरकार का आत्मनिर्भर अभियान में ज़्यादा से ज़्यादा ज़ोर स्वदेशी चीज़ों को बढ़ावा देने पर है। पिछले एक साल के अंदर हमने देखा, कैसे सरकार ने कई विदेशी ऐप्स को बन्द किया है। तो, अगर आप भी विदेशी ऐप्स इस्तेमाल करते थे लेकिन उनके बन्द हो जाने से निराश हैं तो ये आर्टिकल आपके लिए है।

  1. ट्विटर (Twitter) की बजाय कू (koo) ऐप

Koo एक देसी ऐप है जिसे पिछले साल मार्च में लॉन्च किया गया था। यह ट्विटर का भारतीय वर्जन है और अपने लांच होने के बाद से ही चर्चा का विषय बनी हुई है।

इसमें ट्विटर जैसे सभी फीचर्स है वो भी भारतीय भाषाओं में। यह iOS और Android पर उपलब्ध है। 2020 में सरकार के आत्मनिर्भर भारत ऐप चैलेंज को जीतने के बाद इस ऐप की लोकप्रियता तेजी से बढ़ी है।

  1. . टिकटोक (TikTok) की जगह चिंगारी (Chingari)

एक साल पहले तक Tiktok भारत में बेहद लोकप्रिय था लेकिन, बदकिस्मती से पिछले साल भारत सरकार ने राष्ट्रीय सुरक्षा का हवाला देकर इस पर बैन लगा दिया था। हालाँकि, इसका एक भारतीय वर्जन भी है- चिंगारी। यह TikTok की तरह ही एक शॉर्ट वीडियो ऐप है। चिंगारी अपने कंटेंट क्रिएटर्स को पैसे भी देता है जो इस बात पर निर्भर करता है कि इनके विडियोज कितने वायरल होता है। ऐप में ट्रेंडिंग न्यूज़, एंटरटेनमेंट, और भी कई प्रकार के शार्ट विडियोज हैं जिन्हें डाउनलोड और शेयर किया जा सकता है।

3.PUB-G की जगह FAU-G

पिछले साल भारत में PUB-G पर बैन लगने से बहुत से लोग परेशान थे। लेकिन, आखिरकार इंतजार खत्म हुआ। PUB-G की तर्ज पर, FAU-G लांच की गई जो कि एक ऑनलाइन मल्टीप्लेयर एक्शन गेम है। ये गेम पूरी तरह से स्वदेशी है और भारतीय सैनिकों पर आधारित है।

  1. UC Browser की जगह JioPages Browser

JioPages Browser काफी हद तक UC Browser के जैसा ही है। ताज़ा समाचार और मनोरंजन सामग्री के अलावा, ऐप में आर्क मोड, ऑफ़लाइन पेज, क्यूआर कोड स्कैनर, क्षेत्रीय भाषा सपोर्ट और डेस्कटॉप मोड भी हैं। यह सबसे लोकप्रिय भारतीय ब्राउज़रों में से एक है जो अपने यूजर्स को इंटरनेट सर्फिंग का तेज़ और सुरक्षित अनुभव प्रदान करते हैं।

  1. Shein की जगह Myntra

Shein को पिछले साल भी भारत में सुरक्षा कारणों से बैन कर दिया गया था। हालांकि Shien की तरह ही, Myntra भी एक ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म है जहां से आप हर तरह के फैशनेबल कपड़े खरीद सकते हैं। इसके अलावा, ऐप में लेटेस्ट गैजेटस और ब्यूटी प्रोडक्ट्स भी शामिल हैं।

  1. NewsDog की बजाय InShorts

NewsDog भारतीय यूजर्स को ध्यान में रखकर बनाई गई शॉर्ट न्यूज़ बाइट ऐप थी जो 10 से ज़्यादा भारतीय भाषाओं में उपलब्ध थी। लेकिन इस चीनी ऐप का भारतीय वर्जन है- InShorts जिसे आप प्लेस्टोर से डाउनलोड कर सकते हैं। यह एक ऐसा ऐप है जो 60 शब्दों या उससे कम के समाचार को संक्षेप में प्रस्तुत करता है।

  1. Clash of Kings की जगह Ludo King

Clash of Kings एक मल्टीप्लेयर ऑनलाइन गेम है जिसे भारत सरकार ने जून 2020 में सुरक्षा कारणों से बैन कर दिया था। लेकिन, आपको मायूस होने की ज़रूरत नहीं क्योंकि इस ऐप का भारतीय संस्करण लूडो किंग भी लांच हो चुका है जो कि लोकप्रिय बोर्ड गेम लूडो पर आधारित है। यह गेम सभी प्लेटफार्मों पर उपलब्ध है और पहले ही 100 मिलियन डाउनलोड को पार कर चुकी है। इसे ऑफ़लाइन खेला जा सकता है और मल्टीप्लेयर मोड में 6 खिलाड़ी एकसाथ इसे खेल सकते हैं।


सत्यव्रत का मानना है कि टेक्नॉलजी का जितना इस्तेमाल करेंगे, उतना जानेंगे. इसी के चलते उन्होंने टेक जर्नलिस्ट बनने का फैसला लिया. सत्यव्रत ने अपने करियर की शुरुआत दैनिक जागरण से की थी, साल 2015 में वह ज़ी न्यूज़ से जुड़े. वह न केवल टेक को अच्छी तरह से समझते हैं बल्कि यह भी जानते हैं कि कौन सी स्टोरी पाठकों को ज्यादा पसंद आती हैं. अब सत्यव्रत Mysmartprice से जुड़े हैं. और यहां भी उनका मकसद हर रोज बदल रही टेक्नॉलजी की दुनिया की हर बारीकी को आसान शब्दों में पाठकों तक पहुंचाना है.